निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लाभ, पात्रता

राजस्थान सरकार ने राज्य के गरीब छात्रों को लाभान्वित करने के लिए निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना की शुरुआत की है। योजना के माध्यम से राज्य के छात्रों को निशुल्क यूनिफॉर्म प्रदान की जाएगी। जिससे उनकी पढाई में उनकी पारिवारिक आर्थिक समस्या बाधा नहीं बन सकेगी। विद्यार्थियों के माता-पिता जो अपने बच्चों को यूनिफॉर्म दिलाने में असमर्थ है। उन्हें सरकार द्वारा शुरू की गई इस स्कीम के माध्यम से आर्थिक राहत प्रदान की जाएगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना : ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ,लाभ ,पात्रता
निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना

राजस्थान सरकार राज्य के विद्यार्थियों को आर्थिक रूप से सहायता मुहैया कराने के लिए कई योजनाएँ संचालित करती है। जिनमें से एक राजस्थान ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना के माध्यम से राज्य की छात्राओं को मुफ्त यातायात सेवाएं प्रदान की जाएगी। जिससे वह ग्रामीण क्षेत्र से शहरी क्षेत्रों में शिक्षा के लिए आने-जाने में सक्षम हो सकेगी।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा सरकारी स्कूलों के बच्चों को आर्थिक सहयोग प्रदान करने के लिए की गई है। योजना के माध्यम से राजस्थान के लगभग 64479 सरकारी विद्यालयों में अध्ययन कर रहे छात्रों को मुफ्त यूनिफॉर्म की सुविधा प्रदान करके उन्हें लाभान्वित किया जायेगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

सरकारी स्कूलों के 1 से 8 तक के छात्र स्कीम के तहत 2 यूनिफॉर्म सेट प्राप्त कर सकते है। साथ ही सिलाई के लिए 200 रुपये की वित्तीय सहायता भी सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। राज्य के लगभग 1 लाख 16 हजार 828 विद्यार्थियों को योजना से लाभान्वित किया जायेगा। जिसके लिए सरकार द्वारा न्यूनतम 500 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।

सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली 200 रुपये की वित्तीय सहायता सीधे लाभार्थी छात्र के खाते में जमा कर दी जाएगी। लेकिन लाभार्थी की आयु 10 वर्ष से कम है। तो ऐसी स्थिति में बालक के अभिभावक के बैंक खाते में सहायक राशि जमा कर दी जाएगी।

योजना निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री अशोक गहलोद द्वारा
राज्य राजस्थान
लाभार्थीसरकारी विद्यालयों के छात्र/छात्राये
आधिकारिक वेबसाइट(rajasthan.gov.in)

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना का उद्देश्य

योजना के माध्यम से राज्य के छात्र/छात्राओं की शिक्षा के माध्य आने वाली सभी आर्थिक समस्याओं को दूर करना ही राज्य सरकार का एकमात्र लक्ष्य है। आर्थिक रूप से गरीब परिवार के छात्र जो सरकारी विद्यालयों में शिक्षा प्राप्त कर रहे है उन सभी बच्चों को सरकार मुफ्त यूनिफॉर्म प्रदान कर रही है। जिससे उनके माता-पिता के आर्थिक बोझ को कुछ हद तक कम किया जा सकेगा। साथ ही विद्यार्थियों को आत्मनिर्भर बनाया जायेगा जिससे उन्हें किसी भी प्रकार से किसी पर आश्रित होने की आवश्यकता न पड़ें।

बिना किसी आर्थिक समस्या के बच्चों को शिक्षा का अधिकार प्रदान किया जायेगा। जिससे वह भविष्य में अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए प्रेरित हो सकेंगे। एवं राज्य के विकास में अपना सहयोग प्रदान कर सकेंगे।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना : ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ,लाभ ,पात्रता

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना का लाभ एवं विशेषताएं

  • निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा की गई है।
  • स्कीम की सहायता से उम्मीदवार विद्यार्थी को 200 रुपये की एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी।
  • स्कीम के तहत राज्य के 1 से 8 वीं कक्षा के विद्यार्थियों को मुफ्त यूनिफॉर्म प्रदान की जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को न केवल एक यूनिफॉर्म का कपड़ा प्रदान किया जायेगा बल्कि दो यूनिफॉर्म के कपड़े प्रदान किये जायेंगे।
  • स्कीम का लाभ राजस्थान के सभी सरकारी विद्यालयों में अध्ययन कर रहे छात्रों को प्रदान किया जायेगा।
  • राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिक अपने बच्चों को बिना किसी आर्थिक कठिनाइयों के शिक्षा का अधिकार प्रदान करने सक्षम हो सकेंगे।
  • राज्य के गरीबी रेखा से नीचे के बच्चों को सरकार द्वारा शिक्षा के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान करके आत्मनिर्भर बनाया जायेगा।
  • योजना के माध्यम से अशिक्षित परिवारों को प्रोत्साहन मिलेगा जिससे वह भी अपने बच्चों को विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने के लिए भेज सकेंगे।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना मुख्य पात्रताएं

  • आवेदन करने वाला उम्मीदवार राजस्थान का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • राज्य के सभी सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी स्कीम का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • राज्य के 1 से 8 कक्षा के सभी छात्र स्कीम के तहत योग्य माने जायेंगे।
  • योजना के अंतर्गत निश्चित आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
  • स्कीम का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी का नाम जन आधार कार्ड में शामिल होना आवश्यक है।
  • 10 वर्ष आयु से अधिक के लाभार्थी का बैंक में खाता होना आवश्यक है।
निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना आवश्यक दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • अभिभावक का आय प्रमाण पत्र
  • पास पोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • शैक्षिक योग्यता दस्तावेज
  • जाति प्रमाण पत्र

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना आवेदन प्रक्रिया

  • आवेदन करने हेतु विद्यार्थी को अपने स्कूल से आवेदन फॉर्म को प्राप्त करना होगा।
  • अब आवेदन फॉर्म भरने के लिए आप अपने अध्यापक की सहायता ले सकते है।
  • आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन पत्र के साथ मैनेज गए सभी दस्तावजों को अटैच करना है।
  • अब संबंधित फॉर्म को प्रधानाचार्य कार्यालय में जमा करा दें।
  • स्कूल विभाग द्वारा आपके आवेदन पत्र को शिक्षा विभाग में जमा कर दिया जायेगा।
  • जिसके बाद अधिकारीयों द्वारा आपके आवेदन पत्र का वेरिफिकेशन किया जायेगा।
  • वेरिफिकेशन सफल होने के पश्चात आपको योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • इस प्रकार से आप राजस्थान निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना का लाभ उठा सकते है।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना से संबंधित प्रश्न-उत्तर

Free Uniform Distribution Scheme की शुरुआत किसके द्वारा की गई है?

Free Uniform Distribution Scheme की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोद द्वारा की गई है।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना का मुख्या उद्देश्य राज्य के विद्यार्थियों को आर्थिक सहयोग प्रदान करना।

Free Uniform Distribution Scheme आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है?

Free Uniform Distribution Scheme आवेदन करने की प्रक्रिया ऑफलाइन निर्धारित की गई है।

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना की आधिकारिक वेबसाइट education.rajasthan.gov.in है।

इस लेख में हमने आपके साथ “निशुल्क यूनिफॉर्म वितरण योजना” से संबंधित जानकारी साझा की है। अगर आपको लिखित जानकारी के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए, तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज कर हमें सूचित कर सकते है। हमारी टीम द्वारा आपके प्रश्नो के उत्तर अवश्य दिए जायेंगे। आशा करते है की आपको हमारे लेख के माध्यम से सहायता प्राप्त हुई होगी।

Leave a Comment