प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना – ऑनलाइन आवेदन | PM Kisan Apply Online

देश के प्रधानमन्त्री द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का शुभारम्भ 01.12.2018 किया गया था। इस योजना के अंतर्गत सरकार किसानो के खातें में तीन बराबर किस्तों में प्रति वर्ष 6000 रूपए की धनराशि हस्तांतरित की जाती हैं। योजना को किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने के उद्देश्य से आरम्भ किया गया हैं। जिन किसानो के पास 2 हेक्टेयर से कम खेती योग्य ज़मीन हैं उन सभी किसानों को pm kisan samman nidhi का लाभ प्रदान किया जायेगा। PM kisan Samman Nidhi Yojana का क्रियान्वयन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत किया जाता है, योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। लेख के अंतर्गत पीएम किसान योजना से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने का प्रयास किया जायगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना - ऑनलाइन आवेदन | PM Kisan Apply Online
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ऑनलाइन आवेदन | PM Kisan Apply Online
योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
विभाग कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय
लाभार्थी किसान
राशि 6000 सालाना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
Contents hide

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के उद्देश्य

सर्वप्रथम देश के छोटे और सीमांत किसानों को प्रत्यक्ष आय सम्बन्धी सहायता देने के प्रयोजन हेतु केंद्र सरकार द्वारा शतप्रतिशत सहायता देने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को आरम्भ करने का निर्णय लिया हैं। योजना छोटे और सीमांत किसानों को उनके निवेश और अन्य ज़रूरतों के लिए एक सुनिश्चित आय सहायता के लिए एक पूरक आय प्रदान करेगी। जिससे उनकी उभरती ज़रूरतों को तथा विशेष रुप से फसल चक्र के पश्चात संभावित आय प्राप्त होने से पूर्व होने वाले संभावित व्ययों की पूर्ति सुनिश्चित होगी। योजना से मिलने वाले पैसे किसान को साहूकारों के चंजुल से बचाएगी और खेती कार्यकलापों में निरंतरता सुनिश्चित करेगी। योजना से किसान अपनी कृषि पद्धतियों के आधुनिकीकरण के लिए समृद्ध होगा।

यह भी देखें :- PM Kisan Status: अगर आपको भी स्टेटस में दिख रहा है ये, तो जल्द खाते में आएगा पैसा

पीएम-किसान सम्मान निधि योजना के मुख्य बिंदु

  • पीएम किसान भारत सरकार से 100 प्रतिशत वित्त पोषण के साथ एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना हैं।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत सभी किसानो को 6000 रुपए प्रति वर्ष की सहायता प्रदान की जायगी।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए परिवार की परिभाषा में पति, पत्नी और नाबालिक बच्चे हैं।
  • राज्य सरकार और केंद्र शासित प्रदेश का प्रशासन उन किसान परिवारों की पहचान करेगा जो योजना के दिशानिर्देशो के अनुसार समर्थन के पात्र हैं।
  • फण्ड सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में स्थानांतरित किया जाएगा।
  • योजना के लिए विभिन्न बहिष्कृत श्रेणियाँ हैं।

पात्र परिवारों की परिभाषा एवं चिन्हीकरण

देश के पात्र परिवार लघु एवं सीमांत परिवार होगा जिसमें पति, पत्नी तथा अवयस्क बच्चे (आयु 18 वर्ष से कम हो) सम्मिलित होंगे, जिनके पास भूअभिलेखों में सम्मिलित रूप से दो हेक्टेयर तक की कृषि योग्य भूमि का स्वामित्व हो। पात्र परिवारों के चिन्हीकरण में वर्ष 2018-19 के लिए लघु एवं सीमान्त किसानों के पास भू-जोतों की अनुमानित संख्या 13.15 करोड़ हैं। उच्च आय श्रेणी के परिवारों के संभावित पात्रता श्रेणी से बाहर होने के परिप्रेक्ष में पात्र परिवारों की संख्या अनुमानित रूप से 12.50 करोड़ होगी। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को शतप्रतिशत केंद्र पोषित योजना के रूप में कार्यान्वित किया जायगा। PM kisan Samman Nidhi Yojana के अंतर्गत चार माह की क़िस्त पर लगभग 25 हज़ार करोड़ तथा पुरे वर्ष में 75 हज़ार करोड़ रूपए के व्यय का अनुमान हैं। राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश पात्र लाभार्थियों के चयन के लिए उत्तरदायी होंगे और सुनिश्चित करेंगे कि अपात्र परिवार का चयन न हो साथ ही एक परिवार को एक से ज्यादा बार लाभ न मिल सकें।

पीएम किसान योजना के लिए ज़रूरी प्रमाण पत्र

  • आवेदक के पास 2 हेक्टेयर तक ज़मीन होनी चाहिए।
  • कृषि भूमि के कागज़ात
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पता प्रमाण पत्र
  • खेत की जानकारी (आकार एवं क्षेत्रफल के बारे में)
  • पासपोर्ट आकार रंगीन फोटोज

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ऑनलाइन पंजीकरण

देशभर के योग्य किसान उम्मीदवार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन (PM Kisan Registration) करने के लिए निम्न बिन्दुओ पर ध्यान दें

  • सवर्प्रथम आवेदक को पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in को ओपन करना होगा।
  • होमपेज मेनू पर Farmer Corner का ऑप्शन दिखाई देगा।Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - farmers Corner (1)
  • फार्मर कार्नर विकल्प के अंदर कुछ नए ऑप्शन दिख रहे होंगे।
  • आपको New Farmer Registration विकल्प को क्लिक करना होगा।Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - farmers Corner New Farmer Registration
  • आपको अपने कंप्यूटर स्क्रीन पर ‘New Farmer Registration” फॉर्म के अंतर्गत आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, राज्य का नाम भरना होगा।Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - farmers Corner New Farmer Registration Form
  • ये सभी जानकारियां भर देने के बाद कैप्चा कोड़ भरकर गेट ओटीपी बटन प्रेस करना होगा।
  • जारी रखने पर क्लिक करने के बाद सिस्टम आपको पंजीयन की स्थिति दर्शायेगा (यदि आप पहले से पंजीकृत होगे)।
  • यदि आप पहली बार पंजीकरण कर रहे हैं तो आपको स्क्रीन पर सन्देश प्राप्त होगा ‘दिए गए विवरणों के साथ रिकार्ड नहीं पाया, क्या आप पीएम-किसान पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं’।
  • ‘हाँ’ विकल्प लेने पर आपको आगे अपना विवरण भरना होगा, यहाँ सही जानकारियाँ भरे और इसे सेव करें। Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - farmers Personal Details
  • कृपया प्रपत्र में दर्ज़ भूमि विवरण और खाता विवरण सत्यापित करें।

किसान सम्मान निधि का बेनेफिशरी स्टेटस चेक करना – PM Kisan Status

  • सर्वप्रथम पीएम-किसान की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in को ओपन करें।
  • होमपेज मेनू पर Farmer Corner सेक्शन प्रदर्शित हो रहा होगा।
  • Farmer Corner सेक्शन में Benificary Status विकल्प को चुने Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - Benifisary Status
  • आपके स्क्रीन पर Know Benificiary Status फॉर्म पदर्शित होगा इसमें आधार, अकाउंट नंबर में से एक को भरकर Get Data बटन को प्रेस कर दें।Pradhan Mantri Kisaan samman Nidhi Yojna - Benifisary Status Account No. enter
  • आपको अपना बेनेफिशरी स्थित प्रदर्शित होगी।

पीएम-किसान योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन

किसान योजना के योग्य लाभार्थी ऑफलाइन आवेदन करने के लिए नीचे बताए जा रहे बिन्दुओ पर ध्यान दें –

  • इस योजना को ज्यादा से ज्यादा किसानो तक पहुंचने के लिए गोवा सरकार ने ऑफलाइन माध्यम से आवेदन का विकल्प शुरू किया। जो किसान ऑफलाइन आवेदन करना चाहतें हो वे अपने सम्बंधित तहसीलदार/ ग्राम प्रधान/ ग्राम पंचायत से सैम[संपर्क करें।
  • इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए गोवा सरकार ने 11,000 किसानों को किसान योजना से जोड़ने के लिए भारतीय डाक से अनुबंध किया हैं।
  • डाक विभाग के सीनियर अधिकारी डॉ विनोद कुमार के अनुसार गोवा के किसानो को जोड़ने के लिए सभी 255 डाकघर और 300 कर्मचारियों को शामिल किया गया हैं।
  • पंजीकरण करने के लिए डाकिया घर-घर जाकर ऑफलाइन पंजीकरण करेंगे। गोवा में अब तक 10,000 किसानो का पंजीकरण हो चूका हैं। बाकी के बचे 11,000 किसानो का पंजीकरण डाक विभाग करेगा।
  • डाक विभाग द्वारा 5,000 किसानो से संपर्क करके पंजीकरण किया जा चूका हैं।
  • यदि कोई किसान बैंक बचत खाता ना होने के कारण आवेदन करने में असमर्थ हो तो भारतीय पोस्ट में खाता आवेदन कर सकता हैं।
  • ऑफलाइन आवेदन की सुविधा केवल गोवा राज्य में ही हैं परन्तु अन्य राज्यों में भी इसका विस्तार हो सकता हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में ‘Edit Adhaar Failure Record’

यदि किसी किसान लाभार्थी का आधार नंबर इस योजना में आवेदन करने में गलत हो गया हैं और वे इसमें सुधार करना चाहते हैं तो वह नीचे बताए बिंदुओं पर ध्यान दें।

  • सबसे पहले लाभार्थी को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आपको वेबसाइट की होम मेनू पर Farmer Corner सेक्शन दिखाई देगा।
  • आपको Edit Adhaar Failure Record का विकल्प दिखाई देगा इस को चुने।
  • आपके स्क्रीन पर Edit Adhaar Details के अंतर्गत कुछ फ़ील्ड्स भरने होंगे।
  • डिटेल्स सही भरकर Search बटन प्रेस कर दें।
  • आधार ओटीपी से सम्बंधित समस्या के लिए [email protected] पर ईमेल कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में अयोग्य व्यक्ति

योजना के तहत लाभ के लिए उच्च आर्थिक स्थिति के हितैषी की निम्न श्रेणियाँ योग्य नहीं होगी:

  • सभी संस्थागत भूमि धारक
  • किसान परिवार जो निम्न श्रेणियों में से एक या एक से अधिक हैं:
    • संवैधानिक पदों के पूर्व और वर्तमान धारक
    • पूर्व और वर्तमान मंत्रियों/राज्य मंत्रियों और लोक सभा/ राज्यसभा। राज्य विधानसभाओ/ राज्य विधान परिषदों के पूर्व/ वर्तमान सदस्य, नगर निगमों के पूर्व और वर्तमान महापौर, जिला पंचायतों के पूर्व और वर्तमान अध्यक्ष
    • केंद्रीय/ राज्य सरकार के मंत्रालयों/ विभागों और इसकी फील्ड इकाइयों के सभी सेवारत या सेवानिवृत अधिकारी और कर्मचारी केंद्रीय या राज्य सार्वजनिक उपक्रम और संलग्न कार्यालय/ स्वायत्त संस्थान और सरकार के अधीन स्थानीय निकाय के नियमित कर्मचारी
    • सभी सुपरनैचरल/रिटायर पेंशनर्स जिनकी मासिक पेंशन 10,000 रूपए अधिक हैं (उपरोक्त श्रेणी के मल्टी टास्किंग स्टाफ/ चतुर्थ श्रेणी/ समूह डी कर्मचारियों को छोड़कर)
    • अंतिम मूल्यांकन वर्ष में आयकर का भुगतान करने वाले सभी व्यक्ति
    • डॉक्टर्स, इंजीनियरर्स, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट और आर्किटेक्ट जैसे पेशेवर निकायों के साथ पंजीकृत होते हैं और अभ्यास करते हैं।

योजना के क्रियान्वयन की मॉनिटरिंग

योजना की मॉनिटरिंग के लिए कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग के अधीन एक परियोजना प्रबंधन इकाई स्थापित की जायगी। इस इकाई को एक मुख्य अधिशासी अधिकारी (सीईओ) के अधीन रखा जायगा जो कि योजना के क्रियान्वयन के साथ-साथ इसके व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए उत्तरदायी होगा। राज्य व जिला स्तर पर भी इसी प्रकार के मॉनिटरिंग की व्यवस्था होगी। केंद्र के स्तर पर कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में मॉनिटरिंग समिति का गठन होगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 11वी क़िस्त

जैसे कि आप सभी लोग जानतें हैं भारत सरकार द्वारा अब तक पीएम किसान निधि योजना के अंतर्गत 10 किस्तें जारी की जा चुकी हैं। सरकार द्वारा 2022 में क़िस्त पाने के लिए सभी किसान लाभार्थी किसान स्टेटस चेक कर लें जिससे क़िस्त आने में कोई भी परेशानी न हो। यदि प्रमाण पत्रों जैसे की आधार नंबर, बैंक खाता नंबर आदि में कमी होगी तो राशि को रोका जा सकता हैं। इस प्रकार की समस्या से बचने के लिए सभी लाभार्थी समय से अपना स्टेटस चेक करते रहे।

किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत 10वी क़िस्त

केंद्र सरकार द्वारा 1 जनवरी 2022 को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत दसवीं क़िस्त की राशि दी जा चुकी हैं। इस राशि को प्रधानमन्त्री के द्वारा विडिओ कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से जारी किया गया। दसवीं क़िस्त के अंतर्गत लगभग 10.09 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचा हैं और जो किसान राशि से वंचित रह गए हो उनके खातों में जल्द राशि प्रदान की जायगी। दसवीं क़िस्त में 10.09 करोड़ किसानो को 20946 करोड़ की राशि ट्रांसफर की गई हैं। इस अवसर पर प्रधानमन्त्री के द्वारा कई किसान उत्पादक संगठन से भी बात की गई हैं। इन संघटनो को यह जानकारी प्रदान की गई हैं कि भविष्य में निवेश के लिए सरकार की ओर से 14 करोड़ रुपए एक्विट ग्रैंड प्रदान किया जायगा। इससे लगभग 1.25 लाख किसानो को लाभ पहुंचेगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के बदलाव

  • आधार कार्ड अनिवार्यता: योजना का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड का होना अनिवार्य है अन्यथा योजना के लिए आवेदन नहीं कर पायगे।
  • जोट की सीमा ख़त्म:- जब पीएम किसान सम्मान निधि योजना का आरम्भ किया जाया था तब इसके अंतर्गत उन्ही किसानो को लाया जाता था जिनके पास 2 हेक्टेयर या फिर 5 एकड़ खेती योग्य ज़मीन हैं। अब केंद्र सरकार द्वारा ये सीमा ख़त्म कर दी जाई हैं।
  • स्टेटस जानने की सुविधा:- जब आप पीएम सम्मान निधि योजना के अंतर्गत अपने आवेदन की स्थिति जान सकतें हैं। इसके लिए आपके पास सिर्फ आधार कार्ड, मोबाइल नंबर या बैंक खाता होना चाहिए।
  • स्वतः पंजीकरण की सुविधा:- आरम्भ में इस योजना के पंजीकरण के लिए लेखपाल, कानूनगो और कृषि अधिकरियों के चक्कर काटने पड़ते थे। परन्तु अब सरकार द्वारा यह बाध्यता ख़त्म कर दी गयी हैं और कोई भी किसान घर से ही पंजीकरण कर सकता हैं।
  • किसान क्रेडिट कार्ड:- वे सभी किसान जिन्होंने पीएम-किसान योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाया हैं किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए कोई प्रमाण पत्र नहीं देना होगा। जिस कारण किसान को किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने में आसानी होगी। किसान क्रेडिट कार्ड से किसानो की आर्थिक स्थिति में सुधर हुआ हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से सम्बन्धित प्रश्न

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या हैं?

योजना के अंतर्गत सभी छोटे और सीमांत भूमिधारी किसान परिवारों को सीधे वित्तीय सहायता पहुंचाकर कृषि एवं घरेलु ज़रूरतों के खर्च में सहायता पहुँचाना हैं। योजना में सम्पूर्ण वित्तीय दायित्व भारत सरकार द्वारा वहन किया जायगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के क्या लाभ हैं?

योजना में 2 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि धारक किसान परिवार को 6000 रूपए प्रति वर्ष का लाभ प्रत्येक चार महीने में समान किस्तों में दिया जायगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए कौन पात्र हैं?

सभी भूमिधारी किसान परिवार जिनके पास 2 हेक्टेयर तक की कृषि योग्य भूमि हो और जिनके नाम 01.02.2019 में राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशो के भूमि अभिलेखों में दिखाई देते हैं।

वर्ष में कितनी बार लाभ मिलेगा?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को 2000 रुपए की लाभ राशि को तीन सामान किस्तों में चार माह के अंतराल में प्रदान किया जाएगा।

यदि कोई लाभार्थी गलत घोषणा से लाभ पाता हैं?

इस प्रकार के मामले में लाभार्थी वसूली के लिए उत्तरदायी होगा। वित्तीय लाभ हस्तांतरित होगा और कानून के अनुसार अन्य दंडात्मक कार्यवाही भी होगी।

यदि मृत्यु के कारण जमींदार का स्वामित्त्व हस्तांतरण हो तो क्या योजना का लाभ मिलेगा?

हाँ, किसी की मृत्यु के कारण उत्तराधिकार रूप में कृषि योग्य भूमि का स्वामित्व हुआ हैं।

क्या आयकर दाता किसान या उसकी पत्नी लाभ पाने के अधिकारी होंगे?

नहीं, अदि परिवार का कोई सदस्य पिछले निर्धारित वर्ष में आयकर डाटा हो तो लाभ नहीं मिलेगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से सम्बंधित किसी अन्य शंका/शिकायत के लिए दूरभाष नंबर क्या हैं?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से सम्बंधित किसी भी अन्य प्रकार की शंका/समस्या के लिए हेल्पलाइन नंबर 011-24300606, 155261 पर संपर्क कर सकतें हैं।

Leave a Comment