DigiLocker क्या है ? डिजिटल लॉकर का उपयोग कैसे करें, डॉक्युमेंट्स अपलोड करें

किसी भी योजना का आवेदन हो या किसी नौकरी का आवेदन। उन सभी का लाभ प्राप्त करने के लिए दस्तावेज सबसे अधिक आवश्यक होते हैं। कई बार ऐसा भी होता है की दस्तावेज खो जाते हैं एवं उन्हें दोबारा प्राप्त करने के आवेदन में बहुत समय लगता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

ऐसे में देश के सभी नागरिकों के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक ऑनलाइन लॉकर DigiLocker को लांच किया गया है जिसकी सहायता से आप कभी भी कहीं भी इस लॉकर में सुरक्षित करके या डाउनलोड करके अपने दस्तावेजों को प्राप्त कर सकते हैं।

DigiLocker क्या है
DigiLocker क्या है?

इस आर्टिकल के माध्यम से आपको डिजिलॉकर से सम्बंधित जानकारी हमारे द्वारा प्रदान की जाएगी। आर्टिकल की सहायता से आप इस से जुडी सभी जानकारी प्राप्त कर इसका उपयोग कर सकते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

DigiLocker

केंद्र सरकार द्वारा डिजिटल भारत कार्यक्रम के अंतर्गत डिजिलॉकर को 2015 में लांच किया गया। इस विस्तृत रूप में डिजिटल लॉकर कहा जाता है। यह एक ऑनलाइन वर्चुअल लॉकर है जिसमें दस्तावेजों को सुरक्षित रखा जाता है।

डिजिलॉकर इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग (MeitY) द्वारा लांच की गयी पहल है। डिजिलॉकर के माध्यम से आवश्यकता पड़ने पर दस्तावेजों को डाउनलोड भी किया जा सकता है एवं किसी भी स्थान पर मूल दस्तावेज के स्थान पर अपने लॉकर का यूआरएल प्रदान कर सकते हैं।

प्रमाण पत्रों एवं अन्य दस्तावेजों को सहेजने, इन्हें साँझा करने एवं इनका सत्यापन के लिए क्लाउड आधारित प्लेटफार्म डिजिलॉकर है। इसका प्रयोग करने के लिए आधार कार्ड होना सबसे अधिक अनिवार्य है।

आर्टिकल DigiLocker क्या है ?
जारीकर्ता केंद्र सरकार
डेवलपर इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग (MeitY)
उद्देश्य नागरिकों को आसानी से ई-डॉक्यूमेंट उपलब्ध करना है नागरिकों के डिजिटल दस्तावेज वॉलेट को सत्यापित डिजिटल दस्तावेजों तक पहुंच प्रदान करके नागरिकों का डिजिटल सशक्तिकरण करना
लाभार्थी भारत के नागरिक
जारी वर्ष 2015
माध्यम ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.digilocker.gov.in

डिजिलॉकर का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा इसे लांच करने का मुख्य उद्देश्य नागरिकों को आसानी से दस्तावेज उपलब्ध कराना है। नागरिकों के डिजिटल दस्तावेज वॉलेट को सत्यापित डिजिटल दस्तावेजों तक पहुंच प्रदान करके नागरिकों का डिजिटल सशक्तिकरण करना इसका उद्देश्य है।

इस लॉकर के माध्यम से पेपरलेस डॉक्यूमेंट सिस्टम बनाया जा सकेगा। नागरिकों एवं दस्तावेजों को जारी करने वाली एजेंसियों के बीच ई-डॉक्यूमेंट आदान-प्रदान को इसके द्वारा सक्षम बनाया जायेगा।

DigiLocker पर उपलब्ध सुविधाएँ व लाभ

नागरिकों के लिए

  • देश का प्रत्येक नागरिक इसका प्रयोग कर सकता है एवं कहीं भी अपने दस्तावेजों का उपयोग कर सकता है।
  • जिस प्रकार कोई भी ओरिजिनल दस्तावेज प्रमाणित किया हुआ रहता है उसी प्रकार डिजिलॉकर पर उपलब्ध दस्तावेज भी प्रमाणित किये रहते हैं।
  • डिजिलॉकर पर उपलब्ध प्रामाणिक दस्तावेज, क़ानूनी रूप में भी मान्य होते हैं।
  • यदि आपको अपने किसी दस्तावेज को किसी अन्य के साथ साँझा करना है तो बिना आपकी अनुमति के यह साझा नहीं किये जायेंगें।
  • डिजिलॉकर पर केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के सभी मंतालयों एवं विभागों से प्रदान किये जाने वाले दस्तावेज उपलब्ध होते हैं।
  • डिजिलॉकर का प्रयोग करना निःशुल्क है।

दस्तावेज जारी करने वाली एजेंसियों के लिए

  • डिजिलॉकर की सहायता से ऐसी सभी एजेंसियों में कार्य का दबाव कम हुआ है, जिस से इन्हें कार्य करने में आसानी होती है।
  • पेपरलेस दस्तावेजों का आम नागरिकों एवं एजेंसियों में आदान-प्रदान सम्भव हो जाता है।
  • डिजिलॉकर होने से वास्तविक एजेंसी ही दस्तावेज उपलब्ध कर सकती है। फर्जी रूप से धोखाधड़ी करने वाली एजेंसी इस पर कार्य नहीं कर सकती है।
  • डिजिलॉकर के माध्यम से दस्तावेजों का रियल टाइम वेरिफिकेशन करना आसान हो जाता है।
  • किसी भी नागरिक के दस्तावेज के ऑनलाइन सत्यापन करने में एजेंसियों को आसानी होती है।

डिजिलॉकर से सम्बंधित आंकड़ें

उपयोगकर्ता 195.10 मिलियन
जारी दस्तावेज 6.27 बिलियन
जारीकर्ता 1684
अनुरोधकर्ता 187

डिजिलॉकर पर उपलब्ध दस्तावेज

वर्तमान में डिजिलॉकर पर कुल 631 प्रकार के दस्तावेज उपलब्ध हैं जिन्हें 1684 जारीकर्ताओं द्वारा जारी किया जाता है इनमें से कुछ मुख्य प्रकार के दस्तावेज इस प्रकार हैं:

आधार कार्ड पैनकार्ड ड्राइविंग लाइसेंस जन्म प्रमाण पत्र
यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएल) कार्ड दुपहिया बीमा कार बीमा ई-पासबुक सेवा
पॉलिसी के दस्तावेज वाहनों का पंजीकरण प्रमाण पत्र वाहन कर रसीद कोरोना का वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट
शैक्षणिक दस्तावेज राशन कार्ड आय प्रमाण पत्र आईडी कार्ड

DigiLocker अकाउंट बनाएं

यदि आप भी सपने दस्तावेजों पेपरलैस ई-डॉक्यूमेंट के रूप में सुरक्षित रखना चाहते हैं तो नीचे दी गयी प्रक्रिया के अनुसार आप डिजिलॉकर पर अकाउंट बनाएं:

  1. सबसे पहले डिजिलॉकर की आधिकारिक वेबसाइट www.digilocker.gov.in पर जाएँ।
  2. डिजिलॉकर पोर्टल पर पहुंचने पर आप साइन अप पर क्लिक करें।
  3. अब नए पेज में अपना नाम दर्ज करें, जन्मतिथि दर्ज करें।
  4. अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें एवं 6 अंकों का एक पासवर्ड सेट करें। DigiLocker अकाउंट बनाएं
  5. अब आप सबमिट पर क्लिक करें।
  6. इसके बाद आपके मोबाइल नंबर के वेरिफिकेशन के लिए उअस पर आये OTP को दर्ज करें एवं सबमिट करें।

उपर्युक्त प्रक्रिया के अनुसार आपका डिजिलॉकर पर अकाउंट बन जायेगा जिसे आप साइन इन कर के देख सकते हैं।

डिजिलॉकर पर साइन इन करें

  • सर्वप्रथम डिजिलॉकर की आधिकारिक वेबसाइट www.digilocker.gov.in पर जाएँ।
  • अब पोर्टल के मुख्य पेज में साइन इन पर क्लिक करें।
  • नए पेज में आपको साइन इन करने के दो विकल्प (मोबाइल नंबर, आधार/उपयोगकर्ता नाम) प्राप्त होते हैं उनमें से एक चुनें। Digilocker
  • मोबाइल नंबर दर्ज करें एवं अगला पर क्लिक करें।
  • अब अपना 6 अंकीय पासवर्ड दर्ज करें और साइन इन पर क्लिक करें।

इस प्रकार आप अपना अकाउंट देख सकते हैं।

DigiLocker पर डॉक्यूमेंट अपलोड करें

  1. सबसे पहले डिजिलॉकर की आधिकारिक वेबसाइट www.digilocker.gov.in पर जाएँ।
  2. पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद साइन इन पर क्लिक करें।
  3. अपना अकाउंट खोलने के बाद आप होम पेज पर जाएँ। एवं Drive पर क्लिक करें।
  4. अब आपको पेज पर बने New पर क्लिक कर Upload File पर क्लिक करना है। DigiLocker पर डॉक्यूमेंट अपलोड करें
  5. अब अपने दस्तावेज को स्टोरेज से सेलेक्ट करना हैं एवं अपलोड पर क्लिक करना हैं।
  6. इस प्रकार डिजिलॉकर पर आप कोई भी डॉक्यूमेंट अपलोड कर सकते हैं।

नोट: उपर्युक्त प्रक्रिया के अनुसार आप के द्वारा अपलोड किये गए दस्तावेज को प्रामाणिक मूल दस्तवेज नहीं माना जायेगा।

DigiLocker से सम्बंधित प्रश्न एवं उत्तर

डिजिलॉकर के मुख्य घटक क्या हैं?

डिजिलॉकर के मुख्य घटक जारी किये गए दस्तावेज, डिजिलॉकर ड्राइव, गतिविधि, एवं दस्तावेज देखने हैं।

डिजिलॉकर की ड्राइव में नागरिक को कितना स्टोरेज प्रदान किया जाता है?

डिजिलॉकर की ड्राइव में नागरिक को 1 जीबी का स्टोरेज प्रदान किया जाता है।

DigiLocker क्या है?

DigiLocker एक ऑनलाइन वचुअल लॉकर है जिसे भारत का प्रत्येक नागरिक अपने दस्तावेजों को सुरक्षित ई-डॉक्यूमेंट के रूप में रखने में कर सकता है।

यदि डिजिलॉकर को लॉगिन करने का पासवर्ड भूल जाएँ तो क्या करें?

डिजिलॉकर का पासवर्ड भूल जाने पर आप मोबाइल नंबर या आधार नंबर वेरिफिकेशन से नया पासवर्ड सेट कर सकते हैं।

डिजिलॉकर की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

डिजिलॉकर की आधिकारिक वेबसाइट www.digilocker.gov.in है।

डिजिलॉकर का मोबाइल एप्लीकेशन कैसे डाउनलोड करें?

डिजिलॉकर का मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर पर DigiLocker सर्च करें एवं उसे इंस्टॉल करें।

Leave a Comment