Bullet Train in India: भविष्य की यात्रा: 200-300 नहीं, 600 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी यह ट्रेन 

Bullet Train in India: भारत में हाल ही में बुलेट ट्रेन की एंट्री हुई है। रेल मंत्रालय पूरे देश में 7 बुलेट ट्रेन कारियों के लिए काम कर रहा है। ये ट्रेन कारियों के लिए अत्यंत उत्सुकता है क्योंकि इन्हें सबसे तेज गति वाली ट्रेनें माना जाता है। इन ट्रेनों की औसत स्पीड 250 किलोमीटर प्रति घंटा होगी, जबकि परिचालन स्पीड 320 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। दुनिया में चलने वाली अन्य बुलेट ट्रेनों की औसत स्पीड 300 किलोमीटर प्रति घंटा है, लेकिन कुछ बुलेट ट्रेनें हैं जिनकी अधिकतम गति 600 किलोमीटर प्रति घंटा तक है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Bullet Train in India: भविष्य की यात्रा: 200-300 नहीं, 600 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी यह ट्रेन 
Bullet Train in India: भविष्य की यात्रा: 200-300 नहीं, 600 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी यह ट्रेन 

मैग्लेव नामक यह बुलेट ट्रेन चीन द्वारा चलाई जाती है, जिसकी टॉप स्पीड 600 किलोमीटर प्रति घंटा है। चीन ने पिछले महीने ही जर्मनी में एक रेलवे इंडस्ट्री ट्रेड फेयर के दौरान इस हाई स्पीड ट्रेन का प्रदर्शन किया है। इस बुलेट ट्रेन का कहना है कि यह चीन में पहले से ही सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। इससे पहले, चीन की टॉप स्पीड वाली बुलेट ट्रेन शंघाई मैग्लेव थी, जिसकी अधिकतम गति 430 किलोमीटर प्रति घंटा है।

फ्रांस की यूरोडुप्लेक्स टीजीवी
फ्रांस की यूरोडुप्लेक्स टीजीवी दुनिया की सबसे तेज गति से दौड़ने वाली बुलेट ट्रेन है। इस ट्रेन की अधिकतम गति 574.8 किलोमीटर प्रति घंटा है। 2011 में इस ट्रेन को रेल सेवा में शामिल किया गया था, जबकि इससे पहले यह ट्रेन काॅमर्शियल कामों के लिए उपयोग किया जाता था। इस ट्रेन में 1020 यात्री यात्रा कर सकते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

एजीवी इटालो यूरोप की सबसे माॅर्डन ट्रेन 
यूरोप की सबसे आधुनिक ट्रेन कही जाने वाली बुलेट ट्रेन की अधिकतम गति फ्रांस की यूरोडुप्लेक्स टीजीवी की तरह है। 2007 में इसने 574.8 किलोमीटर प्रति घंटा की गति तक पहुंची थी। इस ट्रेन को 2012 में रेल सेवा के लिए लाया गया था। इसकी परिचालन गति 360 किलोमीटर प्रति घंटा है। वर्तमान में यह ट्रेन इटली के नापोली-रोमा-फिरेंज़े-बोलोग्ना-मिलानो कॉरिडोर पर चलाई जा रही है।

सीमेंस वेलारो/ ई एवीएस 103
बार्सिलोना-मैड्रिड लाइन पर चलने वाली इस बुलेट ट्रेन की गति 350 किलोमीटर प्रति घंटा है। इसने स्पेन में ट्रायल के दौरान अधिकतम स्कीम में 400 किलोमीटर प्रति घंटा की गति हासिल की थी।

हार्मनी CRH 380A
यह ट्रेन भी चीन में संचालित है और इसकी अधिकतम गति 380 किलोमीटर प्रति घंटे की है, लेकिन 2010 में इसने ट्रायल के दौरान 486.1 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार दर्ज की थी।

स्पेन की टैल्गो 350
ट्राॅयल के दौरान इस बुलेट ट्रेन ने अधिकतम 365 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ी है, पर अभी यह 350 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है. 

Leave a Comment