कौन हैं पद्म श्री शशि सोनी, जिन्होंने खुद के दम पर विशाल कारोबार शुरू किया, जानिए सफलता की कहानी

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने गणतंत्र दिवस के पहले ही पद्म सम्मान प्राप्त करने वालों के नामों का ऐलान किया है, और इसमें उद्योग और व्यापार जगत से कुल 4 लोगों को समाहित किया गया है। इस बार का सम्मान खास है क्योंकि इसमें 2 लोगों को ‘पद्म भूषण’ और 2 को ‘पद्म श्री’ से नवाजा गया है, जिसमें से 2 महिलाओं को भी इस महत्वपूर्ण सम्मान से नवाजा गया है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पद्म श्री सम्मानित शशि सोनी कौन है ?

इन दिनों, व्यवहारिक और उद्यमी जगत में एक नाम चमक रहा है – शशि सोनी। ये भारत की महिला कारोबारियों की एक अद्वितीय सूची का हिस्सा है और वह अपने उद्यमी दृष्टिकोण के लिए मान्यता प्राप्त कर चुके हैं।

शशि सोनी की उम्र 69 साल है, और वह दुनिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल सॉल्युशन प्रोवाइडर कंपनी “इज्मो लिमिटेड” की फाउंडर हैं। उनकी कंपनी के पास दुनिया का सबसे बड़ा ऑटोमोटिव इमेज और एनिमेशन कलेक्शन है, और वे कई बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियों को ऑटोमोबाइल सॉल्युशंस प्रदान करते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

उनकी कंपनी का मौजूदा चालू वर्ष का राजस्व 450 मिलियन है, और इससे साबित होता है कि शशि सोनी ने अपने उद्यमी सपनों को सफलता में बदला है।

समर्पण और सफलता की कहानी

भारत की महिला उद्यमियों की सफलता की अद्भुत कहानी में से एक है शशि सोनी की कहानी। उन्होंने अपने मेहनत और समर्पण के साथ व्यापार जगत में अपनी पहचान बनाई और एक बड़े कंपनी का मालिक बन गईं। उनकी कंपनी इज्मो लिमिटेड दुनिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल सॉल्युशन प्रोवाइडर है और उन्होंने आपके सपनों को हकीकत में बदलने का सबूत दिया है। शशि सोनी की कहानी हमें यह सिखाती है कि समर्पण और मेहनत से कोई भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है, और महिलाएं भी व्यवासिक दुनिया में महत्वपूर्ण योगदान कर सकती हैं।

महिला उद्यमियों का प्रतिनिधित्व

इस साल के पद्म सम्मान में महिला उद्यमियों का भी प्रतिनिधित्व है। शशि सोनी के साथ, अन्य महिला उद्यमियों ने भी इस सम्मान को प्राप्त किया है, और इससे व्यवासिक दुनिया में महिलाओं के महत्वपूर्ण योगदान की पहचान मिलती है।

नवाजा गया पद्मश्री

शशि सोनी को पद्म श्री से सम्मानित किया गया, जो उनके कठिन परिश्रम और उद्यमशीलता की मान्यता है। यह सम्मान न केवल उनके लिए बल्कि समूचे भारतीय उद्यमियों के लिए गर्व की बात है।

Leave a Comment