नर्स का फुल फॉर्म क्या होता है? जानते हैं क्या

आमतौर पर आपने देखा होगा की जब भी आप किसी भी हॉस्पिटल में अपनी बीमारी से संबंधित इलाज के लिए जाते है तो नर्स द्वारा ही पेशेंट की देखभाल की जाती है। लेकिन आपने कभी सोचा है की आखिर नर्स का फुल फॉर्म क्या होता है। यदि नहीं तो आइए जानें Nurse full form और अपने दोस्तों का ज्ञान भी परखें।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Nurse Full Form – नर्स का फुल फॉर्म क्या होता है ? What is the full form of nurse?
Nurse Full Form

नर्स का फुल फॉर्म क्या होता है ?

नर्स का फुल फॉर्म Nobility, Utility, Responsibility, Sympathy, Efficiency होता है। नर्स को हिंदी में परिचारिका भी कहा जाता है। इसी के साथ नर्स शब्द अंग्रेजी के पांच शब्दों से मिलकर बना है।

NNobility – नोबिलिटी
U- Utility -यूटिलिटी
R- Responsibility -रिस्पॉन्सबिलिटी
S- Sympathy– सिम्पथी
E- Efficiency -एफिशिएंसी

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

हिंदी में इसे श्रेष्ठता, उपयोगिता, जिम्मेदारी, सहानुभूति, कार्य कुशलता कहा जाता है।

अस्पतालों में मरीजों की देखभाल करने के लिए नर्स का एक अपना अलग योगदान है। क्योंकि यह डॉ असिस्टेंट के रूप में अस्पतालों में कार्य करते है जो डॉ द्वारा दिए गए निर्देशों के आधार पर पेशेंट को समय समय पर चेक करते है और उनको दवाई देने का कार्य करते है।

नर्स के कार्य (nurse’s job)

जैसे की आप सभी लोग जानते होंगे की नर्स एक मेडिकल डिपार्टमेंट से संबंधित कर्मचारी है। जो डॉ सहायक (Dr assistant) के रूप में कार्य करती है।

यह मरीजों की पूर्ण तरीके से देखभाल करने का कार्य करती है जैसे समय-समय पर पेशेंट को दवा देना। समय समय पर उनका चेकअप करना आदि।

साथ ही मरीज की स्थिति क्या है उसकी जानकारी परिवार के अन्य सदस्यों के साथ साझा करती है। मेडिकल के क्षेत्र में स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए एवं बिमारी में रोकथाम और मरीजों की देखभाल करने के रूप में नर्स के रूप में एम्प्लॉय को नियुक्त किया जाता है।

नर्स बनने के लिए मुख्य रूप से 12th पास करने के बाद तीन तरह के कोर्स किये जाते है। जिनमें से प्रमुख रूप से है-

1: ANM
2: GNM
3: Bsc Nursing

यदि आपके द्वारा 12th कक्षा साइंस स्ट्रीम से किया गया है तो आप नर्स बनने के लिए इन कोर्सो का चयन कर सकते है।

नर्स बनने के लिए योग्यता

नर्स बनने के लिए कोर्स के अनुसार योग्यता निर्धारित की गयी है जो की इस प्रकार से निम्नवत है।

BSE नर्सिंग कोर्स हेतु योग्यता 

  • पढ़ाई- 12th पास
  • 12th अंक– 12th में आपके 55% या इससे अधिक अंक होने चाहिए।
  • सब्जेक्ट-12th में Physics, Chemistry, और Biology सब्जेक्ट होना अनिवार्य है।
  • आयु- 17 वर्ष एवं 35 वर्ष की आयु से नीचे वाले कैंडिटेट कोर्स हेतु पात्र है।

GNM नर्सिंग कोर्स के लिए योग्यता 

  • एजुकेशन- 12th पास
  • सब्जेक्ट -बारहवीं कक्षा में अंग्रेजी विषय का होना आवश्यक।
  • पासिंग मार्क्स- बारहवीं कक्षा में कम से कम 40 से 50% अंक हासिल करने अनिवार्य है।
  • 17 से 35 वर्ष की आयु से नीचे वाले सभी स्टूडेंट्स इस कोर्स हेतु योग्य है।

ANM नर्सिंग कोर्स हेतु योग्यता

  • इस कोर्स हेतु केवल लड़कियां आवेदन करने हेतु योग्य है।
  • बारहवीं कक्षा पास करने के बाद यह कोर्स किया जा सकता है।
  • अभ्यर्थी को एएनएम का कोर्स करने के लिए बारहवीं कक्षा में कम से कम 45% हासिल करने अनिवार्य है।
  • 17 वर्ष से लेकर 35 वर्ष की आयु से कम इच्छुक अभ्यर्थी इस कोर्स हेतु पात्र है।

नर्स का पूरा नाम क्या है?

नर्स का पूरा नाम है।
N: Nobility (श्रेष्ठता)
U: Utility (उपयोगिता)
R: Responsibility (जिम्मेदारी)
S: Sympathy (सहानुभूति)
E: Efficiency (कार्य कुशलता)

उपचारिका किसे कहते है?

नर्स को हिंदी में उपचारिका के नाम से जाना जाता है।

मेडिकल क्षेत्र में नर्स की क्या भूमिका है?

मेडिकल के क्षेत्र में नर्स का सबसे अहम योगदान है ,वह एक डॉ असिस्टेंट के रूप में हॉस्पिटल में कार्य करती है जो डॉ द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार समय समय पर मरीज की देखभाल करने के लिए उपलब्ध रहती है।

नर्स बनने के लिए कौन से कोर्स किये जा सकते है?

मुख्य रूप से नर्स बनने के लिए तीन तरह के कोर्स किये जा सकते है।
बीएससी नर्सिंग
ANM और GNM

नर्स का फुल फॉर्म क्या है?

NURSE का फुल फॉर्म Nobility, Utility, Responsibility, Sympathy, Efficiency होता है।

Leave a Comment