Union Budget 2024: क्या इस बार टैक्स में मिलेगी राहत? जानिए नए अपडेट में

1 फरवरी 2024 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा अंतरिम बजट पेश किया जाएगा। इस बजट से करदाताओं को बड़ी उम्मीदें हैं। विशेष रूप से, आयकर में छूट की उम्मीद की जा रही है। कुछ अर्थशास्त्रियों का मानना है कि अंतरिम बजट में आयकर में छूट दी जा सकती है। इन अर्थशास्त्रियों का तर्क है कि चुनावों से पहले सरकार करदाताओं को राहत देने के लिए ऐसा कर सकती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Union Budget 2024: क्या इस बार टैक्स में मिलेगी राहत? जानिए नए अपडेट में
Union Budget 2024

टैक्स छूट की सीमा में वृद्धि की संभावना कितनी है ?

रिपोर्ट्स के अनुसार, नई टैक्स व्यवस्था के अंतर्गत टैक्स छूट की सीमा में किसी भी प्रकार की वृद्धि की संभावना नहीं है। इन अर्थशास्त्रियों का तर्क है कि सरकार इस समय कर राजस्व बढ़ाने पर ध्यान दे रही है।

इससे पहले, अटकलें थीं कि नए टैक्स रिजिम में पर्सनल इनकम टैक्स छूट को 7 लाख रुपये से बढ़ाकर 7.5 लाख रुपये किया जा सकता है, परंतु इन संभावनाओं पर विराम लगता दिख रहा है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

5 लाख से 7 लाख रुपये हुई थी टैक्‍स छूट सीमा 

पिछले वर्ष, वित्त मंत्री ने नए डायरेक्ट टैक्स व्यवस्था के तहत टैक्सपेयर्स के लिए इनकम टैक्स छूट की सीमा को 5 लाख रुपये से बढ़ाकर 7 लाख रुपये किया था। यह भी संभावना है कि सरकार इस बार विदेशी क्रेडिट और डेबिट कार्ड खर्च पर टीसीएस के तहत छूट की घोषणा कर सकती है।

आखिरकार, यह सरकार पर निर्भर करेगा कि वह अंतरिम बजट में क्या घोषणा करती है। हालांकि, करदाताओं को उम्मीद है कि सरकार उन्हें राहत देने के लिए कुछ कदम उठाएगी।

आयकर में छूट की संभावनाएं

आयकर में छूट की कुछ संभावनाएं इस प्रकार हैं:

  • मानक कटौती की राशि में वृद्धि: वर्तमान में, मानक कटौती की राशि ₹50,000 है। सरकार इस राशि को ₹60,000 या ₹70,000 तक बढ़ा सकती है।
  • प्रमुख छूटों का विस्तार: सरकार प्रमुख छूटों, जैसे कि HRA, LTA और NPS के तहत योगदान, की सीमा बढ़ा सकती है।
  • नई छूटों की घोषणा: सरकार नई छूटों की घोषणा भी कर सकती है, जैसे कि किडगार्टन और प्री-स्कूल की फीस पर छूट।

निष्कर्ष

आयकर में छूट की संभावनाएं अभी भी अनिश्चित हैं। हालांकि, करदाताओं को उम्मीद है कि सरकार उन्हें राहत देने के लिए कुछ कदम उठाएगी।

Leave a Comment