टॉप 10 देश जिनके पास है सबसे अधिक सोना, जानें भारत का स्थान कहां है?

सोना, एक ऐसी धातु जिसकी चमक ने सदियों से दुनिया को मोहित किया है। यह सिर्फ एक कीमती धातु नहीं, बल्कि देशों की आर्थिक स्थिरता का प्रतीक भी माना जाता है। आज हम उन 10 देशों की बात करेंगे जिनके पास सबसे ज्यादा सोना है और साथ ही जानेंगे कि इस सूची में भारत का स्थान क्या है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
टॉप 10 देश जिनके पास है सबसे अधिक सोना, जानें भारत का स्थान कहां है?

दुनिया के टॉप 10 देश जिनके पास है सबसे ज्यादा सोना

  1. संयुक्त राज्य अमेरिका: अमेरिका, सोने के मामले में दुनिया में सबसे आगे है। इस देश के पास लगभग 8,133.5 टन सोना है, जो विश्व के कुल सोने का एक बड़ा हिस्सा है।
  2. जर्मनी: जर्मनी दूसरे स्थान पर है और इसके पास करीब 3,366 टन सोना है। जर्मनी का यह स्टॉक उसकी आर्थिक स्थिरता का प्रतीक है।
  3. इटली: इटली तीसरे स्थान पर है, जिसके पास लगभग 2,451.8 टन सोना है। यह धातु इटली की आर्थिक संपत्ति का महत्वपूर्ण हिस्सा है।
  4. फ्रांस: फ्रांस के पास करीब 2,436 टन सोना है, जो उसे इस सूची में चौथे स्थान पर रखता है। फ्रांस का यह सोना उसकी आर्थिक शक्ति को दर्शाता है।
  5. रूस: रूस के पास लगभग 2,299.2 टन सोना है, जो उसे इस सूची में पांचवें स्थान पर लाता है। रूस सोने के भंडारण में बड़े निवेश कर रहा है।
  6. चीन: चीन के पास करीब 1,948.3 टन सोना है, जो इसे छठे स्थान पर रखता है। चीन ने हाल के वर्षों में अपने सोने के भंडार में काफी वृद्धि की है।
  7. स्विट्जरलैंड: स्विट्जरलैंड, जिसे सोने के भंडारण के लिए जाना जाता है, के पास करीब 1,040 टन सोना है।
  8. जापान: जापान के पास लगभग 765.2 टन सोना है, जो उसे आठवें स्थान पर लाता है।
  9. भारत: भारत, जो सोने के प्रति अपनी आकर्षण के लिए प्रसिद्ध है, इस सूची में नौवें स्थान पर है। भारत के पास लगभग 657.7 टन सोना है।
  10. नीदरलैंड: नीदरलैंड्स दसवें स्थान पर है, जिसके पास करीब 612.5 टन सोना है।

इन आंकड़ों से यह स्पष्ट होता है कि सोना दुनिया भर के देशों के लिए न केवल समृद्धि का प्रतीक है, बल्कि यह उनकी आर्थिक स्थिरता और वैश्विक प्रभाव में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

भारत की रैकिंग क्या है ?

भारत की रैंकिंग 9वीं है। भारत के पास दुनिया के कुल सोने का भंडार का लगभग 2.5% है। भारत के सोने के भंडार में हाल के वर्षों में वृद्धि हुई है, जो 2012 में 300 टन से बढ़कर 2022 में 626 टन हो गया है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

भारत सरकार ने सोने के आयात पर प्रतिबंध लगाने के लिए कदम उठाए हैं, जिससे देश में सोने की मांग बढ़ रही है। सरकार ने सोने के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए भी कदम उठाए हैं। भारत के सोने के भंडार में भविष्य में और वृद्धि होने की उम्मीद है।

Leave a Comment