NCR: जापान जैसा होगा एनसीआर का ये शहर: देखिए तस्वीरें और जानिए खासियत

NCR – नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के आसपास के क्षेत्र में, प्रमुख चौराहों और गोल चक्करों को जापानी शैली में विकसित किया जाएगा। ग्रेटर नोएडा की तरफ से यमुना प्राधिकरण के प्रवेश द्वार को भी आकर्षक बनाया जाएगा। यह योजना नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के आसपास के क्षेत्र को एक आधुनिक और सुंदर स्थान बनाने के लिए तैयार की गई है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
NCR: जापान जैसा होगा एनसीआर का ये शहर: देखिए तस्वीरें और जानिए खासियत
NCR: जापान जैसा होगा एनसीआर का ये शहर: देखिए तस्वीरें और जानिए खासियत

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के आसपास मुख्य चौक, चौराहे, और गोल चक्कर जापानी शैली में विकसित किए जाएंगे। इन गोल चक्करों को बनाने के साथ हरित भूमि विकसित की जाएगी। ग्रेटर नोएडा की ओर से यमुना प्राधिकरण के प्रवेश द्वार को आकर्षक बनाया जाएगा। चौकों और चौराहों की जगह को पार्क के रूप में विकसित किया जाएगा। यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में गतिविधियों के विस्तार के साथ ही, यमुना प्राधिकरण ने उद्यानिक कार्यों को तेज करने का निर्णय लिया है। पहले चरण में, प्रमुख मार्गों और उनकी हरित बेल्ट को सुधारा जाएगा।

यमुना प्राधिकरण ने बना लिया डिजाइन-
दनकौर के पास सर्विस रोड पर तिरंगा चौक पर गोल चक्कर बना हुआ है। इसे और आकर्षक बनाने का प्रस्ताव है। सेक्टर-32 में बिकानो इंडस्ट्री के पास भी एक गोल चक्कर का प्रस्ताव है। इसे विकसित किया जाएगा। इस गोल चक्कर को विकसित करने की योजना है ताकि यहां आने वाले लोग ओद्योगिक क्षेत्र में पहुंचे हुए हैं का अनुभव करें। इसका डिजाइन तय किया गया है। साथ ही, हरित क्षेत्र को विकसित करने का भी प्रस्ताव है, पैदल यात्रियों के लिए मार्ग तय किया जाएगा और हरित वातावरण बनाए जाएंगे। देशी और विदेशी फूलों और फलों के पौधे लगाए जाएंगे।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

फूलों से सजेंगे गोल चक्कर-
यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे ग्रेटर नोएडा से जेवर तक 60 मीटर चौड़ी सर्विस रोड है। इनको दुरुस्त करने का काम अब शुरू किया जाएगा। ग्रेटर नोएडा से सर्विस रोड के माध्यम से यीडा क्षेत्र में बने प्रवेश द्वार को और आकर्षक बनाया जाएगा। इसका डिजाइन पहले ही तैयार किया गया है। सर्विस रोड पर गलगोटिया विश्वविद्यालय के सामने एक गोल चक्कर है जिसे और भी आकर्षक बनाया जाएगा। गोल चक्कर को फूल पौधों से सजाया जाएगा। इसमें मार्ग, पैदल यात्री क्रॉसिंग, फूल-पौधों की क्यारी, रम्बल स्ट्रिप और सेंट्रल वर्ज विकसित किया जाएगा।

Leave a Comment