Central government scheme

{आवेदन} सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 कैसे उठाये लाभ

Safe Motherhood Assurance Suman Yojana

{आवेदन} सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 की शुरुआत 10 अक्टूबर 2019 को की गयी ,यह योजना स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने विभिन्न राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों एवं पीएम मोदी जी के साथ में इस योजना की शुरुआत की है। केंद्र सरकार की यह योजना देश की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं की जीवन सुरक्षा के लिए निशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाती है।

Safe Motherhood Assurance Suman Yojana 2022 के अंतर्गत शिशु एवं मातृ मृत्यु दर में कमी की जाएगी। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के सभी गर्भवती महिलाएं इस योजना का लाभ उठा सकती है। गरीब नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा यह केंद्रीय स्तर पर एक महत्वपूर्ण योजना शुरू की गयी है।

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से {आवेदन} सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 कैसे उठाये लाभ से संबंधित जानकारी को साझा करने जा रहे है। अतः इस योजना से संबंधी सभी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022

Matritva Aashwasan Suman Yojana शुरू करने का मुख्य लक्ष्य यह है की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को एक बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करना। प्रसव के समय में गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को सुरक्षा की अधिक आवश्यकता होती है। ऐसे में यह योजना उन सभी गर्भवती महिलाओं को एक बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने में सहयोग करेगी। निवारणीय मातृ और शिशु मृत्यु दर को काम करने के लिए यह एक विशेष पहल है जो केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गयी है।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 के अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा मुख्य रूप से मातृ एवं नवजात शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के आश्वाशन वितरण पर ध्यान केंद्रित किया गया है इसमें निशुल्क व्यापक स्वास्थ्य पहुंच और गुणवक्ता परक देखभाल सेवाएं और शून्य सहिष्णुता तथा महिलाओं के आत्म निर्णय ,भावना ,गरिमा प्राथमिकता आदि के लिए सम्मान के साथ जटिलताओं के आश्वाशन प्रबंधन को शामिल किया गया है।

Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana

पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन योजना 2022– के अंतर्गत वह सभी महिलाएं योजना का लाभ उठा सकते है जो प्रसव के दौरान अस्पताल के खर्च उठाने में असमर्थ है। यह योजना उन सभी महिलाओं को एक विशेष स्वास्थ्य सेवा की सुविधा पहुंचाने में मदद करेगी जो अस्पतालों में डिलीवरी के समय में अपनी आर्थिक स्थिति के कारण महंगी सेवाओं का लाभ नहीं उठा पाते है। 6 माह से गर्भवती महिलाएं इस योजना में अपना पंजीकरण करवाकर प्रसव के 6 माह बाद तक इसका ला उठा सकते है।

पीएमएसएमएसवाई 2022

योजना नामसुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना (PMSMASY)
योजना शुरू करने की तिथि 10 अक्टूबर 2019
मंत्रालय स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार
वर्ष 2022
योजना शुरू की गयी स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन जी द्वारा
लाभार्थी नागरिक देश की गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शिशु
उद्देश्यगर्भवती महिला व नवजात शिशु को मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं देना
लाभ गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाना
योजना श्रेणीकेंद्रीय स्तर योजना
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन एवं ऑफलाइन मोड
आधिकारिक वेबसाइटsuman.nhp.gov.in
सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना

यह भी देखें :- छत्तीसगढ़ कौशल्या मातृत्व योजना 2022

मातृत्व आश्वासन योजना का उद्देश्य

PMSMASY 2022 का मुख्य उद्देश्य है की आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी के अंतर्गत आने वाले परिवार की गर्भवती महिलाओं को एक बेहतर स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं को मुफ्त में उपलब्ध करवाना। इस सुविधा के अनुसार गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शिशु सुरक्षित रहेंगे और प्रसव के समय में होने वाली मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी। हमारे देश में कई सारे ऐसे परिवार है जो आर्थिक स्थिति के कारण बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठाने में असमर्थ रहते है।

ऐसे में केंद्र या राज्य सरकार इन सभी नागरिकों तक स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ पहुंचने के लिए कई प्रकार की योजनाओं को संचालित करती है। उन्ही महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक यह योजना भी है जिसमें अब गर्भवती महिलाओं को प्रसव के समय में अस्पताल में निशुल्क स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्रदान किया जायेगा।

मातृत्व आश्वासन सुमन योजना
सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना

बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ना मिलने के कारण मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में होने वाली वृद्धि को अब इस योजना के अंतर्गत कम किया जायेगा। पीएमएसएमएसवाई 2022 के अंतर्गत प्रसव के समय में गर्भवती महिलाओं के लिए शिक्षित एवं ट्रेंड नर्स डॉक्टर उपलब्ध कराई जाएगी। ताकि उन्हें डिलीवरी के समय में किसी भी तरह की कोई समस्या को झेलना न पड़े। अस्पतालों में होने वाले खर्च का वहन सरकार के द्वारा किया जायेगा।

PMSMASY 2022 सेवा लाभ

  • किसी भी लापरवाही के लिए जीरो टेलेरोन्स
  • मौजूदा पहलों (जेएसएसके, पीएमएसएमए, लक्ष्य, एफआरयू, आदि) का एकीकरण
  • महिलाओं के आत्मनिर्णय, गरिमा, भावना और चयन के लिए सम्मान
  • 100% मातृ मृत्यु सूचनाऔर समीक्षा
  • शिकायत निवारण तंत्र
  • कस्टमर रिपॉन्स मेकनिज़्म
  • विजेताओं को पुरस्कार
  • सामुदायिक स्तर पर मातृ मृत्यु सूचना
  • सामुदायिक भागीदारी और मेगा आईईसी/बीसीसी
  • अंतःक्षेत्रीय अभिसरण

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 के लाभ एवं विषेशताएं

  • इस योजना की शुरुआत 10 अक्टूबर 2019 को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन जी के द्वारा राज्य के अन्य स्वास्थ्य मंत्री एवं पीएम मोदी के साथ में इस योजना का शुभारंभ किया गया।
  • PMSMASY 2022 अंतर्गत गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं की बेहतर सुरक्षा के लिए निशुल्क स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को 4 बार का निशुल्क चेकअप करवाने का खर्च सरकार के द्वारा वहन किया जायेगा।
  • एमरजेंसी के समय में 1 घंटे में सभी सुविधाएँ उपलब्ध
  • सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के अंतर्गत लाभार्थी महिलाएं अपने प्रसव से पहले एवं प्रसव के बाद तक की स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने में सहायक होंगी।
  • पीएमएसएमएसवाई 2022 के तहत महिला के गर्भवती होने के 6 महीने से लेकर बच्चे के जन्म के 6 माह तक सभी तरह की स्वास्थ्य सेवाओं को इस योजना के अंतर्गत उपलब्ध करवाया जायेगा। जिसमें मुफ्त दवाइयों से लेकर अन्य सभी तरह की स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ लाभार्थी महिला को प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना का मुख्य लक्ष्य है की डिलीवरी के दौरान बेहतर स्वास्थ्य सुविधा न मिलने के कारण होने वाली मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी करना।
  • मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित प्रसव की गारंटी दी जाएगी।
  • मध्य प्रदेश राज्य में यह योजना 27 मार्च 2021 को शुरू की जा चुकी है।
  • भोपाल में इस योजना का परिपालन करने के लिए इंटीग्रेटेड कमांड और कंट्रोल सेंटर भी बनाये गए है।

Surakshit Matritva Aashwasan Suman Scheme Eligibility

  • देश की सभी गर्भवती महिलाएं इस योजना हेतु पात्र है जो आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी के अंतर्गत आते है।
  • ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली महिलाएं इस इस योजना स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र है।

पीएमएसएमएसवाई 2022 हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • निवास प्रमाणपत्र
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • इनकम सर्टिफिकेट
  • राशन कार्ड
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • वोटर ID कार्ड

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना आवेदन प्रक्रिया

Surakshit Matritva Aashwasan Suman Scheme में लाभार्थी महिलाएं ऑफलाइन तरीके से अपना आवेदन संबंधित अस्पताल में करवा सकते है। इसके लिए उन्हें अस्पताल से आवेदन फॉर्म प्राप्त करके अस्पताल में सभी जानकारी के साथ जमा करना होगा। SURAKSHIT MATRITVA AASHWASAN (SUMAN) पोर्टल में अभी ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया उपलब्ध नहीं की गयी है। इसके लिए उन्हें अभी कुछ समय का इन्तजार करना होगा।

सुमन पोर्टल पर रजिस्टर ऐसे करें

  • Secure Maternity Assurance Suman Yojana Register हेतु suman.nhp.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट में विजिट करें।
  • वेबसाइट के होम पेज में स्क्रॉल करें।
सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022
  • इसके बाद सुमन पोर्टल पर रजिस्टर करें के विकल्प में क्लिक करें। सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना में रजिस्टर
  • अब अगले पेज में आपको नेम ,ईमेल ,फोन नंबर आदि से संबंधित जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद शिकायत से संबंधित ,शिकायत विवरण ,विषय ,शिकायत इसके बाद दिए गए कैप्चा कोड को एंटर करके सबमिट ऑप्शन में क्लिक करें।
  • इस तरह से पोर्टल में रजिस्टर करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना से सबंधित प्रश्न उत्तर

Surakshit Matritva Aashwasan Suman Scheme के क्या लाभ है ?

इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को प्रसव से पहले एवं प्रसव के दौरान निशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाती है। साथ ही मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में योजना के अंतर्गत कमी की जाएगी।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना क्या है ?

यह एक स्वास्थ्य सेवा योजना है जिसमें आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाएगी। प्रसव के समय में अब गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों में एक बेहतर स्वास्थ्य सेवा की व्यवस्था उपलब्ध करवाई जाएगी जिसमें माँ और बच्चा दोनों सुरक्षित रह सके।

मातृ शिशु मृत्यु दर को सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के अंतर्गत कैसे कम किया जायेगा ?

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के अंतर्गत मातृ शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए गर्भवती महिलाओं को प्रसव के पूर्व एवं प्रसव के समय में एक बेहतर स्वास्थ्य सेवा की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी ,जिसके बाद स्वतः ही मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button