रद्द हो सकता है Paytm पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस, मगर इतनी सख्ती क्यों कर रहा RBI, ये है ‘असली’ कारण

MCPanchkula News Desk: पेटीएम, जो एक प्रमुख ऑनलाइन पेमेंट ऐप है, को वित्तीय नियमनों के मोर्चे पर कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। हाल ही में, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने Paytm पेमेंट्स बैंक पर क्रेडिट ट्रांजैक्शन और नए डिपॉजिट स्वीकार करने पर रोक लगा दी है। यह कदम जमाकर्ताओं की सुरक्षा के मद्देनजर उठाया गया है, और खबरों के मुताबिक, RBI अगले महीने में पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ऑपरेशनल लाइसेंस को रद्द करने पर विचार कर रहा है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
रद्द हो सकता है Paytm पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस, मगर इतनी सख्ती क्यों कर रहा RBI, ये है 'असली' कारण
रद्द हो सकता है Paytm पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस, मगर इतनी सख्ती क्यों कर रहा RBI, ये है ‘असली’ कारण

इस खबर के प्रकाश में आते ही पेटीएम के शेयरों पर बुरा असर पड़ा है। लगातार दूसरे दिन उनके शेयर लोअर सर्किट में चले गए, जिसका अर्थ है कि बाजार में उनके खरीदार नहीं हैं। यह घटनाक्रम निवेशकों में चिंता का विषय बन गया है।

29 फरवरी के बाद कार्रवाई कर सकता है RBI

RBI का यह कदम विभिन्न उल्लंघनों, जैसे कि ग्राहक दस्तावेजीकरण नियमों के दुरुपयोग और महत्वपूर्ण लेन-देन का खुलासा न करने के कारण आया है। सूत्रों के अनुसार, RBI 29 फरवरी के बाद कोई कार्रवाई कर सकता है, हालांकि, अंतिम निर्णय अभी तक नहीं हुआ है और पेटीएम की प्रतिक्रिया पर निर्भर करता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पेटीएम पेमेंट्स बैंक के प्रवक्ता ने कहा कि RBI का हालिया निर्देश चल रही निगरानी और अनुपालन प्रक्रिया का हिस्सा है और बैंक ने RBI के अनुपालन और निगरानी निर्देशों पर ध्यान दिया है।

RBI की सख्ती की वजह

सख्ती के पीछे की एक प्रमुख वजह यह है कि Paytm पेमेंट्स बैंक के हजारों ग्राहकों ने अपने KYC (Know Your Customer) दस्तावेज जमा नहीं किए थे। कुछ मामलों में, हजारों ग्राहकों को एक ही पहचान दस्तावेज के माध्यम से पंजीकृत किया गया था और न्यूनतम KYC खातों से नियामक सीमा से अधिक लाखों रुपये के लेनदेन किए गए, जिससे मनी-लॉन्ड्रिंग की चिंताएं बढ़ गईं।

Leave a Comment