प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व लाभ

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा की गयी है। इसके अंतर्गत नागरिकों के व्यवसाय में विस्तार करने हेतु वित्तीय सहयोग प्रदान की जाएगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

योजना के माध्यम से देश के सभी नागरिकों को कोरोना के दौरान हुए नुकसान से राहत पहुंचाने के लिए एवं उनकी उद्योग में बढ़ोत्तरी करने के लिए इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी की सहायता प्रदान की जाएगी।

साथ ही उम्मीदवार को उचित प्रशिक्षण, प्रशासनिक सहायता, MIS योजना आदि के प्रचार प्रसार के लिए भी निःशुल्क सुविधाऐं प्रदान की जाएगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना
प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना

केंद्र सरकार राष्ट्रीय विकास के लिए कई योजनाए संचालित करते रहते है जिनमे से एक पीएम किसान खाद्य योजना भी है। जिसमें किसानों को 11 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी।

Contents hide

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना

देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने राज्य के छोटे और लघु उद्योगपतियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए 20 मई 2020 को प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना का शुभारंभ किया है।

स्कीम की घोषणा वित्तीय वर्ष 2020-21 का बजट प्रस्तुत करते समय की गई थी योजना की शुरुआत वित्त वर्ष 2024-25 में की जाएगी।

इस योजना के माध्यम से देश को कोरोना लॉकडाउन के समय में हुए वित्तीय नुकसान से राहत पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

योजना के तहत लघु उद्योगपतियों को उद्योग के विकास की लागत का 35% प्रतिशत सब्सिडी के माध्यम से लाभार्थी के बैंक में डिपॉजिट कर दिया जायेगा।

साथ ही आवेदक को उद्योग का प्रचार प्रसार करने के लिए भी वित्तीय सहयोग प्रदान किया जायेगा। स्कीम के कार्यरत होने के पश्चात बेरोजगारी के स्तर को भी कम किया जा सकेगा एवं रोजगार के अवसरों मे भी वृद्धि होगी।

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana Highlights

योजना प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना
घोषणा की तिथि 20 मई 2020
उद्देश्य उद्यमियों को व्यवसाय में वृद्धि करने के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान करना
निर्धारित बजट दस हजार करोड़ रूपये
आधिकारिक वेबसाइट (mofpi.gov.in)

सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के उद्देश्य

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana के माध्यम से सरकार राज्य का मुख्य लक्ष्य कोरोना वायरस संक्रमण से हुए खाद्य उद्योगों के विकास एवं वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

स्कीम के आधारित बिंदु

  • सामान्य अवसंरचना में सहायता प्रदान करने में
  • एचएचजी को प्रारंभिक पूंजी
  • एसएचजी, एफपीओ कोआपरेटिव और व्यक्तिगत सूक्ष्म खाद्य उद्योगों को सहायता देने पर
  • ब्रांडिंग और बिक्री में सहायता करने पर
  • एक जिला एक उत्पाद पर
  • क्षमता निर्माण में सहायता करना
  • प्रशिक्षण और अनुसंधान में सहायता देना

सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन स्कीम के लाभ

  • योजना का लाभ छोटे एवं लघु उद्योगपतियों को अधिकतम प्राप्त होगा।
  • देश के सभी स्वरोजगार मालिकों को वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान किया जायेगा जिससे उनके व्यवसाय में विस्तार होगा।
  • स्कीम के माध्यम से रोजगार के वृद्धि की जाएगी और बेरोजगारी को कुछ हद तक कम किया जा सकेगा।
  • योजना के तहत लाभार्थियों को प्रशिक्षण, प्रशासनिक सहायता, MIS योजना का प्रचार प्रसार की सुविधाएं भी निःशुल्क प्रदान की जायेंगी।
PM Suksham Khadya Udyog Unnayan Yojana की विशेषताएं
  • योजना की घोषणा 2020-2021 वित्तीय वर्ष में की गई है एवं इसकी शुरुआत 2023-2024 के वित्तीय वर्ष में की जाएगी।
  • योजना के तहत 10 हजार करोड़ का वित्तीय बजट निर्धारित किया गया है।
  • योजना के अंतर्गत राज्य सरकार/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा 60:40 का वित्तीय अनुपात निर्धारित किया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की शुरुआत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई है।
  • स्कीम के तहत लाभार्थियों को उद्योग में आए 10 लाख तक की लागत पर 35% तक की दर से क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

आवश्यक पात्रताएं

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक का भारत का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • स्कीम में आवेदन करने वाले आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी आवश्यक है।
  • आवेदक की कम से कम शैक्षिक योग्यता 8 कक्षा उत्तीर्ण होनी आवश्यक है।
  • स्कीम के तहत देश छोटे और बढ़े उद्योगपति आवेदन करने योग्य माने जायेंगे।
  • योजना के तहत आवेदक के उद्योग में काम कर रहे कर्मचारियों की न्यूनतम संख्या 10 होनी चाहिए।
  • योजना के अंतर्गत किसी भी परिवार का केवल एक सदस्य योजना का पात्र माना जायेगा।
  • खाद्य प्रसंस्करण गतिविधियों से संबंधित उद्योगपति योजना में आवेदन कर सकते है।
  • साझेदारी फार्म के उद्योगपति भी योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना: ऑनलाइन आवेदन

योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक के पास कुछ आवश्यक दस्तावेज होने आवश्यक है, इन दस्तावेजों की सूचि नीचे निम्नलिखित है :-

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाते की डिटेल्स
  • पास पोर्ट साइज़ फोटो
  • आय प्रमाण पत्र
  • उद्योग से संबंधित दस्तवेज
  • मोबाइल नंबर

सभी दस्तावेजों को जमा करने के पश्चात आप आवेदन कर सकते है, आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे निम्नलिखित है :-

  • सर्प्रथम आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट (mofpi.gov.in) को ओपन करना होगा। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Online Registration” का विकल्प दिखाई दे रहा होगा उसे क्लिक कर दीजिये।
  • अगले पेज पर आपको “Sign Up” का ऑप्शन दिखाई देगा उसे क्लिक कर दीजिए।
  • अब आपके सामने योजना का रजिस्ट्रशन फॉर्म ओपन हो जायेगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक दर्ज कर दीजिये।
  • अब नीचे दिए गए रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक कर दीजिये।
  • रजिस्ट्रेशन के पश्चात आप लॉगिन कर सकते है।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको “login” का विकल्प दिखाई देगा, उसे क्लिक कर लीजिये।
  • अगले पेज पर आपको “Select Beneficiary Type” के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आपसे कुछ जानकारी पूछी जाएगी, उसे दर्ज कर दीजिये।
  • अब सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर दीजिये।
  • इस प्रकार आपकी “Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana” में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना से संबंधित प्रश्न-उत्तर

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana का मुख्य उद्देश्य देश के छोटे उद्योगों और लघु लागू को प्रोत्साहन प्रदान करना ही केंद्र सरकार का एकमात्र लक्ष्य है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के तहत सरकार द्वारा कितना वित्तीय बजट निर्धारित किया गया है ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के तहत सरकार द्वारा दस हजार करोड़ का वित्तीय बजट निर्धारित किया गया है।

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

Pradhan Mantri Sukshm Khaady Udyog Unnayan Yojana की आधिकारिक वेबसाइट (mofpi.gov.in) है।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की घोषणा कब की गई है ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना की घोषणा 20 मई की गई है।

इस लेख में हमने आपके साथ राष्ट्रीय की प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना से संबंधित जानकारी साझा की है। अगर आपको लिखित जानकारी के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में मेसेज हमें सूचित कर सकते है हमारी टीम द्वारा आपके प्रश्नो के उत्तर अवश्य दिए जायेंगे। आशा करते है की आपको हमारे लेख के माध्यम से सहायता प्राप्त हुई होगी।

Leave a Comment