PM Kisan पर आया बड़ा अपडेट, 31 जनवरी तक करा लें ये काम, वरना नहीं मिलेंगे 16वीं किस्त के ₹2000

PM Kisan 16वीं किस्त: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत एक महत्वपूर्ण अपडेट जारी किया गया है। राजस्थान सरकार ने पीएम किसान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के लाभार्थी किसानों को 31 जनवरी 2024 तक ई-केवाईसी पूरी करने का निर्देश दिया है। जो किसान अभी तक ई-केवाईसी नहीं करवा चुके हैं, उन्हें इस तारीख तक यह प्रक्रिया पूरी करनी होगी। इस समय सीमा के भीतर ई-केवाईसी  (e-KYC) नहीं करवाने पर किसानों की पात्रता समाप्त हो सकती है और 16वीं किस्त (pm kisan yojana 16th installment) का भुगतान रोका जा सकता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
PM Kisan पर आया बड़ा अपडेट, 31 जनवरी तक करा लें ये काम, वरना नहीं मिलेंगे 16वीं किस्त के ₹2000

किसानों का कराया जा रहा रजिस्ट्रेशन

पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana)के अंतर्गत, लाभ से वंचित पात्र किसान परिवारों को लाभ प्रदान करने हेतु विकसित भारत संकल्प यात्रा (Viksit Bharat Sankalp Yatra) के तहत विशेष शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों में, वे किसान परिवार जिनका अब तक पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है, वे ई-मित्र या सीएससी केंद्रों के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

राजस्थान सरकार के कृषि विभाग ने बताया कि जिन लाभार्थियों की जमीन का विवरण अभी तक सत्यापित नहीं हुआ है, वे संबंधित पटवारी हल्का या तहसील कार्यालय में जाकर अपने जमीन के विवरण को सत्यापित करवा सकते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

लाभ पाने के लिए ई-केवाईसी की अनिवार्यता

कृषि विभाग के अनुसार, जिन किसानों ने अब तक अपने आधार सीडिंग और जमीन का सत्यापन नहीं कराया है, उन्हें शीघ्र यह प्रक्रिया पूरी करनी चाहिए वरना वे आगामी किस्त से वंचित रह सकते हैं। दिसंबर 2022 में भारत सरकार द्वारा पात्रता के लिए ई-केवाईसी (e-KYC) को अनिवार्य बनाया गया था, और पात्र किसानों को लाभान्वित करने के लिए समयावधि भी बढ़ाई गई है। हालांकि, कई किसानों ने अभी तक ई-केवाईसी नहीं करवाई है।

रुक सकती है अगली किस्त

31 जनवरी तक ई-केवाईसी नहीं करवाने वाले किसानों की पात्रता रद्द की जा सकती है, और जिन्होंने अभी तक लैंड सीडिंग और डीबीटी प्रक्रिया नहीं करवाई है, उनके योजना किस्त (pm kisan yojana 16th installment) का भुगतान रोका जा सकता है और उनका खाता निष्क्रिय हो सकता है।

ई-केवाईसी कैसे करें

किसान अपने निकटतम ई-मित्र या CSC केंद्र पर जाकर या पीएम किसान जीओआई ऐप के माध्यम से चेहरे की पहचान के जरिए स्वयं ई-केवाईसी करवा सकते हैं। किसानों को अपने बैंक खाते को आधार से लिंक करवाने या बैंक खाते में गड़बड़ होने पर, इंडिया पोस्ट बैंक के माध्यम से नया खाता खुलवाने और डीबीटी लिंक करवाने की सलाह दी जाती है।

Leave a Comment