साइबर ठगो ने ढूँढ निकाले है जालसाज़ी के नए हथकण्डे, इनसे बचना जरूर सीखे

Digital Fraud: पहले लोगों को एटीएम और बैंकों में लंबी लाइनें लगानी पड़ती थीं। कई बार एटीएम खाली हो जाते थे, या बैंक की टाइमिंग और अवकाश के कारण लोगों को खाली हाथ लौटना पड़ता था लेकिन इंटरनेट बैंकिंग और डिजिटल लेनदेन के आगमन ने लोगों को बहुत सहूलियत दी है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Protection from Digital Fraud

विशिष्ट ठगी के हथकंडे

  • फ़िशिंग: ठग आपको बैंक, सरकारी विभाग, या किसी अन्य विश्वसनीय संस्था से होने का नाटक करते हुए कॉल या ईमेल करते हैं और आपसे अपनी व्यक्तिगत जानकारी साझा करने के लिए कहते हैं।
  • व्हाट्सएप धोखाधड़ी: ठग आपके व्हाट्सएप नंबर को हैक करते हैं और आपके संपर्कों को धोखाधड़ी के संदेश भेजते हैं।
  • ओटीपी धोखाधड़ी: ठग आपको किसी लेनदेन के लिए ओटीपी (वन-टाइम पासवर्ड) भेजने के लिए कहते हैं और फिर इसका उपयोग आपके बैंक खाते से पैसे निकालने के लिए करते हैं।
  • एटीएम धोखाधड़ी: ठग एटीएम स्किमिंग या स्लिमजिमिंग जैसी तकनीकों का उपयोग करके आपके एटीएम कार्ड से पैसे निकालते हैं।

बैंक की फर्जी कॉल से ठगी

बैंक की तरफ से फर्जी कॉल के नाम पर ठगी एक गंभीर समस्या है। शातिर ठग लोगों को धोखा देने के लिए नए-नए हथकंडे अपनाते हैं और यदि आप सावधान नहीं रहे तो आप अपना पैसा खो सकते हैं। इन कुछ सामान्य संकेत से फर्जी कॉल जान सकते है-

  • कॉल करने वाला आपसे आपके बैंक खाते, एटीएम पिन, ओटीपी, या अन्य संवेदनशील जानकारी मांगता है।
  • कॉल करने वाला आपको तत्काल कार्रवाई करने के लिए दबाव डालता है।
  • कॉल करने वाला आपको डराता है या धमकाता है।
  • कॉल करने वाला आपको किसी अज्ञात लिंक पर क्लिक करने के लिए कहता है।

मैसेज लिंक की ठगी से बचे

व्हाट्सएप या मैसेज में आने वाले भारी-भरकम इनामी राशि या महंगी चीजों के लालच में लोग अक्सर ठगी का शिकार हो जाते हैं। इन सुझाव से इन ठगी से बचे-

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
  • लालच से बचें: यदि कोई ऑफ़र या सौदा बहुत अच्छा लगता है, तो यह शायद सच नहीं होगा।
  • अनजान लिंक पर क्लिक न करें: आपको प्राप्त किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक न करें, भले ही वह किसी मित्र या परिवार के सदस्य से प्रतीत होता हो।
  • अपनी व्यक्तिगत जानकारी साझा न करें: अपनी बैंक खाता संख्या, एटीएम पिन, ओटीपी, या कोई भी अन्य संवेदनशील जानकारी किसी के साथ साझा न करें, चाहे वह फोन कॉल, मैसेज, ईमेल, या सोशल मीडिया के माध्यम से हो।
  • अपने सॉफ्टवेयर को अपडेट रखें: अपने एंटीवायरस, एंटी-स्पैम, और ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट रखें ताकि आप नवीनतम सुरक्षा खतरों से सुरक्षित रहें।

सोशल मीडिया ठगी से बचे

आजकल सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर या हैक करके लोगों से ठगी करने के मामले बहुत बढ़ गए हैं। यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपको इन ठगी से बचने में मदद कर सकते हैं-

  • सोशल मीडिया पर किसी भी अनजान व्यक्ति को फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार न करें।
  • किसी भी व्यक्ति को पैसे भेजने से पहले उसकी पहचान सत्यापित करें।
  • अपने सोशल मीडिया अकाउंट की सुरक्षा के लिए मजबूत पासवर्ड और दो-चरणीय सत्यापन (two-factor authentication) का उपयोग करें।
  • अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी को सीमित करें।

अन्य खबरें भी देखें:

Leave a Comment