Nitish Kumar Property: दिल्ली में फ्लैट, 3 बैंकों में खाते, जानिए कितने करोड़ के मालिक हैं नीतीश कुमार?

बिहार की राजनीति में इन दिनों एक नया मोड़ आया है, जिसने सियासी पारा चरम सीमा पर पहुंचा दिया है। खबरें गर्म हैं कि नीतीश कुमार, जिन्हें राजनीति का चतुर सिपाही माना जाता है, एक बार फिर बीजेपी के साथ हाथ मिला सकते हैं। इस नए संभावित गठबंधन के चलते, बिहार में राजनीतिक दृश्यावली में बदलाव की उम्मीद जगी है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Nitish Kumar Property: दिल्ली में फ्लैट, 3 बैंकों में खाते, जानिए कितने करोड़ के मालिक हैं नीतीश कुमार?
Nitish Kumar Property: दिल्ली में फ्लैट, 3 बैंकों में खाते, जानिए कितने करोड़ के मालिक हैं नीतीश कुमार?

फिर बने मुख्यमंत्री

28 जनवरी 2024 को दोपहर 3 बजे, नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नौवीं बार शपथ ग्रहण की। यह समारोह पटना के राजभवन में आयोजित किया गया था।

कितने करोड़ के मालिक है ?

राजनीति में जहां कई नेता सत्ता पाने के बाद अत्यधिक संपत्ति के मालिक बन जाते हैं, वहीं नीतीश कुमार इस मामले में अलग खड़े दिखाई देते हैं। उनकी संपत्ति की विवरणी, जो हाल ही में बिहार सरकार की वेबसाइट पर प्रकाशित हुई है, बताती है कि वे 1.64 करोड़ रुपये की चल और अचल संपत्ति के मालिक हैं। इसमें दिल्ली के द्वारका में एक फ्लैट और एक फोर्ड कार शामिल है, जिसे उन्होंने 2004 में खरीदा था। नीतीश कुमार के पास 13 गाय और दस बाछा-बाछी भी हैं, जो उनकी सादगी की जीवनशैली को दर्शाता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

नीतीश कुमार से अमीर हैं तेजस्वी यादव

दूसरी ओर, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, जो राजद के युवा चेहरे हैं, नीतीश कुमार से अमीर हैं। उनके पास और उनकी पत्नी राजश्री के पास कैश, बैंक जमाओं, सोने-चांदी और खेती योग्य जमीन सहित काफी संपत्ति है। तेजस्वी की संपत्ति में विभिन्न बैंकों में जमा राशि, शेयरों में निवेश, और पटना तथा गोपालगंज में खेती योग्य और गैर कृषि योग्य जमीन शामिल है।

बिहार की राजनीति में आगामी परिवर्तन

इस संभावित गठबंधन के पीछे की रणनीति और उसके परिणाम बिहार की राजनीतिक दिशा और दशा को निर्धारित करेंगे। नीतीश कुमार का बीजेपी के साथ संभावित गठबंधन न केवल उनके राजनीतिक करियर का एक नया अध्याय होगा, बल्कि यह बिहार के विकास और उसके लोगों के जीवन पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव डालेगा।

राजनीति में सादगी और समृद्धि का संतुलन

बिहार की राजनीति में सादगी और समृद्धि का यह संतुलन दिखाता है कि राजनीतिक नेताओं की संपत्ति और उनकी छवि कैसे उनके राजनीतिक करियर और जनता के प्रति उनके संबंधों को प्रभावित करती है। नीतीश कुमार की सादगी और तेजस्वी यादव की संपत्ति, दोनों ही बिहार की राजनीति के विविध आयामों को प्रस्तुत करते हैं। जैसे-जैसे राज्य नए राजनीतिक समीकरणों की ओर बढ़ रहा है, यह देखना दिलचस्प होगा कि ये नेता बिहार के विकास और समृद्धि की नई दिशाओं को कैसे आकार देते हैं।

Leave a Comment