Hp

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना 2022: HP Parvat Dhara Yojana

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा वन क्षेत्रों में पानी के प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण और भू-जल में वृद्धि करने के लिए हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना की शुरुआत की गई है।

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में सभी जल-स्रोतों के संरक्षण और उनके संवर्धन करने के लिए राज्य में हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना की शुरुआत की गई है। जैसा की हम सभी जानते हैं की जीवन के लिए जल सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण है, ऐसे में कुछ सालों में पानी की अधिक बर्बादी के कारण देश के कई राज्यों के भू-जल में काफी कमी देखने को मिल रही है, जो भविष्य के लिए बेहद ही चिंता का विषय बनी हुई है,

हिमाचल प्रदेश MyGov पोर्टल पंजीकरण

ऐसे में जल संरक्षण के लिए कई राज्य सरकारों की तरह हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा भी इस समस्या को कम करने और भू-जल में कुछ हद तक वृद्धि करने के लिए HP Parvat Dhara Yojana के तहत सरकार राज्य के वन विभागों में इस योजना को चला रहे हैं। .

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना Himachal Pradesh Parvat Dhara Yojana
हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना

जिससे भूजल स्थिति और जल स्रोतों में विकास किया जा सकेगा। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना है ? योजना को आरम्भ करने के पीछे सरकार का मुख्य उद्देश्य क्या है और इसके क्या लाभ है इसकी विस्तृत जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना 2022

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा वन क्षेत्रों में पानी के प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण और भू-जल में वृद्धि करने के लिए हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना की शुरुआत की गई है, इस योजना के माध्यम से जल संग्रह और प्रबंधन का कार्य किया जाएगा, जिससे पानी के संकट को कम करने में मदद मिलेगी और आम लोगों तक सिंचाई के लिए पानी की कमी का सामना नहीं करना पडेगा। प्रदेश का दो-तिहाई भूभाग जंगल के रूप में है वहीं इसका 27 प्रतिशत भूभाग वन क्षेत्र में आता है यहाँ पानी के संरक्षण व संग्रह के लिए सरकार द्वारा 20 करोड़ रूपये का खर्च किया जाएगा, इस कार्य के लिए जल शक्ति विभाग को नोडल विभाग के रूप में कार्य करना होगा।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना 2022: HP Parvat Dhara Yojana
हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना

HP Parvat Dhara Yojana 2022 : Details

योजना का नाम हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना
शुरू की गई हिमाचल प्रदेश वन विभाग द्वारा
साल 2022
लाभ वन क्षेत्रों में सिंचाई की सुविधा प्रदान करना
लाभार्थी राज्य के वन मंडल
उद्देश्य राज्य के वन क्षेत्रों में भू-जल वृद्धि करना
बजट राशि 2.76 करोड़ रूपये
योजना में शामिल मंडलों की संख्या 10 मंडल
आधिकारिक वेबसाइट himachalpr.gov.in
हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना

एचपी पर्वत धारा योजना बजट

हिमाचल प्रदेश में जल स्रोतों को सुरक्षित करने के लिए वन विभाग द्वारा जल संचायन जैसे जलाशयों एवं जल संग्राहकों का निर्माण किया जाएगा, इससे भू-जल के घटते स्तर को रोकने में मदद मिल सकेगी साथ ही गर्मियों में तालाबों, नदियों के सूखने से सिंचाई में किसानों को होने वाली समस्या से राहत मिल सकेगी और पानी की समस्या को कम करने में मदद मिलेगी, इसके लिए योजना को प्रदेश के10 मंडलों में पायलट के आधार पर शुरू किया गया है।

इस प्रोजेक्ट के माध्यम से योजना के अंतर्गत 110 छोटे-बड़े तालाब, 600 चैक डैम व चेक वॉल एवं 12000 कंटूर ट्रैन का निर्माण किया जाएगा, इसके साथ ही राज्य में पौधरोपण भी उपलब्ध करवाया जाएगा, इन जल स्रोतों के निर्माण से पर्वत की जलधारा बनी रहेगी और इससे भू-जल की घटती जलधारा को भी रोका जा सकेगा।

HP पर्वत धारा योजना का उद्देश्य

राज्य सरकार द्वारा पर्वत धारा योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के पर्वत एवं वन क्षेत्रों से आने वाले जल स्रोत का संरक्षण कर भू-जल में वृद्धि करना है, इसके लिए राज्य में विभिन्न जल स्रोतों जैसे जलाशयों एवं जल संग्राहकों का निर्माण किया जाएगा, इन जल संग्रहालयों के निर्माण से प्रदेश के जल स्तर में सुधार किया जा सकेगा, इसके लिए राज्य में 10 मंडलों को पायलट के आधार पर शुरू किया जाएगा।

जिसके माध्यम से प्रदेश में छोटे-बड़े तालाबों, चैक डैम व चेक वॉल और कंटूर ट्रैन का निर्माण किया जाएगा। इससे राज्य के अधिकतम वन क्षेत्र जहाँ सिँचाई के लिए अधिकतम पानी की आवश्यकता होती है लेकिन जल स्तर में कमी होने के कारण खेतों में पर्याप्त पानी नहीं पहुँचाया जा पाता ऐसे वन क्षेत्रों में जल संवर्धन के माध्यम से जल की कमी को पूरा किया जाएगा और इससे भू-जल स्तर में भी वृद्धि की जा सकेगी।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना के अंतर्गत वन मंडल

हिमाचल सरकार द्वारा शुरू की गई हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना के अंतर्गत जल स्रोतों को सुरक्षित करने के लिए योजना के अंतर्गत 10 मंडलों को शामिल किया गया है, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • बिलासपुर
  • हमीरपुर
  • नाचन
  • पार्वती
  • नूरपुर
  • जोगिंद्रनगर
  • डलहौज़ी
  • ठियोग
  • राजगढ़
  • नालागढ़

पर्वत धारा योजना के लाभ एवं विशेषताएँ

  • हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना के माध्यम से राज्य के वन क्षेत्रों में जल संवर्धन या संरक्षण का कार्य किया जाएगा।
  • योजना के माध्यम से जल संचायन के निर्माण के साथ-साथ वृक्षारोपण भी कार्य किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत तालाबों की सफाई, तालाबों का निर्माण व मैनेजमेंट और बांधों का निर्माण किया जाएगा।
  • योजना के तहत वृक्षारोपण से पर्यायवरण सुरक्षित रहेगा, जिससे वनो में जल धारा का प्रवाह बना रहेगा।
  • राज्य की पर्वत धारा योजना को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में प्रदेश के दस मंडलों में शुरू किया जाएगा।
  • पर्वत धारा योजना के संरक्षण व संग्रह के लिए सरकार द्वारा 20 करोड़ रूपये का खर्च किया जाएगा।
  • जल संग्रहों के निर्माण व जीर्णोद्धार के लिए बहुत से परिवारों को रोजगार मिल सकेगा।
  • राज्य में वन या ढलान युक्त क्षेत्रों में सिंचाई के तालाब व जल के संरक्षण के लिए डैम का भी निर्माण किया जाएगा।
  • प्रतियेक वर्ष गर्मियों के कारण सूखते जल स्रोतों को योजना के माध्यम से सुचारु करने में मदद मिलेगी।
  • राज्य में भू-जल में स्थिति पानी के संरक्षण से पानी की आपूर्ति पूरी की जा सकेगी।

एचपी पर्वत धारा योजना में जल स्तर बढ़ाने की प्रक्रिया

जैसे की हिमाचल सरकार द्वारा राज्य में जल स्तर को बढ़ाने के लिए पर्वत धारा योजना को शुरू किया गया है, जिसके माध्यम पानी के स्तर में वृद्धि करने की प्रक्रिया को वन विभाग को दिया गया है, इसके लिए विभाग द्वारा राज्य विभिन्न छोटे-बड़े तलाबों को बनाने का काम होगा, जिससे जमीन में पानी को अधिक समय तक रोका जा सकेगा। इससे पानी को रोकने में मुद्रा और जल संसाधन के कामों में सुधार होगा, इससे जल स्तर में बढ़ोतरी होने पर स्थानीय नागरिकों के खेतों में सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में जल मिल भेजा जा सकेगा।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

HP Parvat Dhara Yojana क्या है ?

HP Parvat Dhara Yojana राज्य सरकार द्वारा जल-स्रोतों के संरक्षण और उनके संवर्धन करने के लिए शुरू की गई योजना है, जिससे भू-जल में वृद्धि हो सकेगी।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना में जल संरक्षण के लिए कितने करोड़ का खर्च किया जाएगा ?

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना में जल संरक्षण के लिए 20 करोड़ रूपये कस खर्च किया जाएगा।

योजना के माध्यम से किन 10 मंडलों को शामिल किया गया है ?

योजना के अंतर्गत से बिलासपुर, हमीरपुर, नाचन, पार्वती, नूरपुर, जोगिंद्रनगर , डलहौज़ी, ठियोग , राजगढ़, नालागढ़ 10 मंडलों को शामिल किया गया है।

एचपी पर्वत धारा योजना के तहत क्या-क्या निर्माण कार्य किए जाएँगे ?

एचपी पर्वत धारा योजना के तहत 110 छोटे-बड़े तालाब, 600 चैक डैम व चेक वॉल एवं 12000 कंटूर ट्रैन का निर्माण और वृक्षारोपण का कार्य किया जाएगा।

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और हमे उम्मीदसंचायन है यह जानकारी आपके लिए बहुत महत्त्वपूर्ण होगी, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button