Railway Ticket Transfer :कन्फर्म टिकट 24 घंटे पहले कैसे कर सकते है ट्रांसफर, जाने आसान स्टेप्स और जरूरी नियम

Railway Ticket Transfer : रेल यात्रा एक अनिवार्य और आम तरीका है भारत में यात्रा करने का। लेकिन कभी-कभी अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण, यात्री अपनी बुक की गई टिकट का इस्तेमाल नहीं कर पाते। ऐसे में, रेलवे का नया नियम आपके लिए बहुत काम का हो सकता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

रेलवे की नई घोषणा

हाल ही में रेलवे ने ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी कि यदि आप अपनी यात्रा नहीं कर पा रहे हैं तो आप अपनी टिकट किसी परिवार के सदस्य को ट्रांसफर कर सकते हैं। यह जानकारी कई यात्रियों के लिए राहत भरी हो सकती है, जो अपनी टिकट का उपयोग न कर पाने की वजह से चिंतित रहते थे।

कन्फर्म टिकट 24 घंटे पहले कैसे कर सकते है ट्रांसफर, जाने आसान स्टेप्स और जरूरी नियम

केवल अपने परिवार को कर सकते है टिकट ट्रांसफर

भारतीय रेलवे के नए नियम के अनुसार, अब आप अपना कंफर्म रेलवे टिकट केवल अपने परिवार के सदस्यों को ही ट्रांसफर कर सकते हैं। यह नियम यात्रियों को ऐसी स्थिति में सुविधा देता है जब वे स्वयं यात्रा नहीं कर पा रहे हों। इस नियम का मकसद यात्रियों को अधिक लचीलापन और सहूलियत प्रदान करना है। यह सुविधा उन्हें अपनी अनुपलब्धता के समय में भी अपने परिवार की यात्रा को संभव बनाने में मदद करती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

टिकट ट्रांसफर करने का तरीका

सबसे पहले, आपको नजदीकी रेलवे रिजर्वेशन काउंटर पर जाना होगा। वहां आपको टिकट ट्रांसफर के लिए एक फॉर्म मिलेगा, जिसमें आपको टिकट ट्रांसफर करने वाले व्यक्ति की जानकारी और आपका उनसे क्या संबंध है, इसकी जानकारी भरनी होगी। साथ ही, आपको अपनी और टिकट प्राप्त करने वाले व्यक्ति की पहचान पत्र की प्रतिलिपि और संबंध का प्रमाण भी देना होगा।

यह महत्वपूर्ण है कि यह प्रक्रिया यात्रा के 24 घंटे पहले पूरी की जाए। इस सरल प्रक्रिया को अपनाकर, आप आसानी से अपने कंफर्म टिकट को अपने परिवार के किसी सदस्य को ट्रांसफर कर सकते हैं।

जरूरी डॉक्यूमेंट्स

टिकट ट्रांसफर के लिए, आपको और ट्रांसफर होने वाले व्यक्ति की पहचान पत्र की प्रतिलिपि, संबंध का प्रमाण और टिकट की कॉपी देनी होगी।

ध्यान देने योग्य बातें

इस नियम का लाभ उठाने के लिए, याद रखें कि केवल कंफर्म टिकट ही ट्रांसफर किया जा सकता है। वेटिंग लिस्ट या RAC टिकटों को इस सुविधा के तहत ट्रांसफर नहीं किया जा सकता।

इस तरह, रेलवे का यह नया नियम यात्रियों के लिए एक सहायक और लचीला विकल्प प्रदान करता है, जिससे वे अपनी अपरिहार्य परिस्थितियों में भी अपनी टिकट का उचित उपयोग कर सकते हैं। इससे यात्रियों को आर्थिक नुकसान से बचाव होता है और उनकी यात्रा योजना में अधिक लचीलापन आता है।

 

Leave a Comment