सरकार ने तय की तारीख, इस दिन आएगी लाडली बहना योजना की 9 वीं क़िस्त, पात्र महिलाएं ऐसे करें चेक

महिलाओं के लिए एक महत्वपूर्ण सूचना आई है, जिसमें बताया गया है कि मध्यप्रदेश (मप्र) विधानसभा चुनाव के बाद नए मुख्यमंत्री, मान्यवर श्री डॉ. मोहन यादव जी ने लाडली बहन योजना की 9 वीं क़िस्त के बारे में एक नोटिस जारी किया है। इस नोटिस के अनुसार, 9 वीं क़िस्त की तैयारी जल्द हो रही है, जिससे महिलाएं जान सकें कि उन्हें किस दिन योजना का लाभ मिलेगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
सरकार ने तय की तारीख, इस दिन आएगी लाडली बहना योजना की 9 वीं क़िस्त, पात्र महिलाएं ऐसे करें चेक
सरकार ने तय की तारीख, इस दिन आएगी लाडली बहना योजना की 9 वीं क़िस्त, पात्र महिलाएं ऐसे करें चेक

9वीं किस्त इस दिन आएगी

मध्य प्रदेश सरकार की लाडली बहना योजना (Ladli Behna Yojana) की सभी पात्र महिलाओं को 10 फरवरी तक 9वीं किस्त मिल जाएगी। इस योजना के तहत, सरकार प्रदेश की सभी बालिकाओं को ₹12,500 की आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

लाडली बहना योजना की 9वीं किस्त की राशि 10 फरवरी 2024 को सीधे पात्र महिलाओं के बैंक खातों में डीबीटी (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी। इस योजना का लाभ प्रदेश की सभी बालिकाओं को मिलता है, जिनका जन्म 1 जनवरी 2008 के बाद हुआ है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

लाडली बहना योजना के तहत, पात्र महिलाओं को 12,500 रुपये की राशि तीन किस्तों में दी जाती है। पहली किस्त ₹2,500, दूसरी किस्त ₹5,000 और तीसरी किस्त ₹5,000 की होती है।

लाडली बहना योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश में बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित करना और उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है।

लाडली बहन योजना का महत्व

लाडली बहन योजना एक महत्वपूर्ण कदम है जो महिलाओं को उनके भविष्य को सुरक्षित बनाने में मदद करता है। इसका उद्देश्य महिलाओं के अधिकारों को सुनिश्चित करना और उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है। इस योजना के माध्यम से, हम समाज में सामाजिक और आर्थिक समानता की दिशा में कदम बढ़ा रहे हैं और बेटियों के भविष्य को बेहतर बना रहे हैं।

लाडली बहना योजना के लिए पात्रता मानदंड

लाडली बहना योजना के लिए पात्रता मानदंड निम्नलिखित हैं:

  • बालिका का जन्म 1 जनवरी 2008 के बाद होना चाहिए।
  • बालिका के माता-पिता मध्य प्रदेश के मूल निवासी होने चाहिए।
  • बालिका के माता-पिता की वार्षिक आय ₹1,50,000 से कम होनी चाहिए।

लाभार्थियों को कैसे मिलेगी 9वीं किस्त?

लाडली बहना योजना की 9वीं किस्त प्राप्त करने के लिए, लाभार्थियों को किसी भी कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है। सरकार सीधे ही पात्र महिलाओं के बैंक खातों में इस राशि को ट्रांसफर कर देगी।

यदि किसी लाभार्थी का बैंक खाता नहीं है, तो उसे योजना के तहत पंजीकृत आंगनवाड़ी केंद्र या बाल विकास परियोजना कार्यालय में संपर्क करना होगा। वहां से उसे बैंक खाता खुलवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज दिए जाएंगे।

Leave a Comment