अपने खास दोस्तों से गूगल Google Docs पर चैट करे वो भी एकदम प्राइवेट

Chat Privately On Google Docs: एक डॉक्यूमेंट या प्रेजेंटेशन पर ग्रुप में काम करना हो तो हम गूगल डॉक्स (Google Docs) का सहारा लेते हैं। गूगल डॉक्स का इस्तेमाल हम मुफ्त में कर सकते हैं लेकिन इस पर काम करने के लिए इंटरनेट की जरूरत होती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Chat Privately On Google Docs

गूगल डॉक्स

गूगल डॉक्स का मुख्य तौर पर तब इस्तेमाल किया जाता है जब हमें किसी प्रेजेंटेशन, प्रपोजल, कॉन्टेंट या डॉक्यूमेंट पर ग्रुप में काम करना होता है। यह एक शानदार टूल है जो हमें अपने घरों में बैठे-बैठे भी ग्रुप में काम करने की सुविधा देता है। यहां गूगल डॉक्स के कुछ उपयोग इस तरह है –

  • ग्रुप में काम करना: गूगल डॉक्स का उपयोग ग्रुप में काम करने के लिए किया जा सकता है। आप एक ही समय में कई लोगों के साथ एक ही डॉक्यूमेंट पर काम कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन सहयोग: गूगल डॉक्स आपको ऑनलाइन सहयोग करने की सुविधा देता है। आप डॉक्यूमेंट में टिप्पणियां और सुझाव जोड़ सकते हैं, और आप एक दूसरे के परिवर्तनों को देख सकते हैं।
  • रीयल-टाइम संपादन: गूगल डॉक्स में रीयल-टाइम संपादन की सुविधा है। जैसे ही आप डॉक्यूमेंट में बदलाव करते हैं, वे सभी सहयोगियों के लिए दिखाई देते हैं।
  • सुविधाएँ: गूगल डॉक्स में कई सुविधाएँ हैं जो आपको डॉक्यूमेंट और प्रेजेंटेशन बनाने और संपादित करने में मदद करती हैं, जैसे कि वर्तनी और व्याकरण जांच, स्वरूपण उपकरण, और टिप्पणियाँ।

गूगल डॉक्स पर प्राइवेट चैट करने का तरीका

  • अपने फोन या डेस्कटॉप पर Google Docs खोलें।
  • सुनिश्चित करें कि आपके डिवाइस और जिन लोगों के साथ आप चैट करना चाहते हैं उनके डिवाइस में इंटरनेट कनेक्शन चालू है।
  • ऊपरी बाएं कोने में “+” बटन पर क्लिक करें।
  • “खाली दस्तावेज़” चुनें।
  • “शेयर” बटन पर क्लिक करें।
  • उन लोगों के ईमेल पते दर्ज करें जिनके साथ आप चैट करना चाहते हैं।
  • “भूमिका” ड्रॉप-डाउन मेनू से “संपादक” चुनें।
  • “भेजें” बटन पर क्लिक करें।
  • दस्तावेज़ में आप अपनी चैट टाइप कर सकते हैं।
  • आप दस्तावेज़ में टिप्पणियां भी जोड़ सकते हैं।
  • जब आप चैटिंग समाप्त कर लें तो “फ़ाइल” मेनू पर क्लिक करें।
  • “डाउनलोड” चुनें।
  • “पृष्ठ के रूप में PDF” चुनें।
  • अपनी चैट डाउनलोड करें।

गूगल डॉक्स पर चैट के नुकसान

  • सुरक्षा: गूगल डॉक्स एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन का उपयोग करता है, जिसका अर्थ है कि आपकी चैट केवल आपके और आपके चैट पार्टनर के लिए ही पढ़ने योग्य है।
  • गोपनीयता: गूगल डॉक्स आपकी चैट को किसी तीसरे पक्ष के साथ साझा नहीं करता है।
  • स्थायित्व: आप अपनी चैट को हमेशा के लिए सहेज सकते हैं या बाद में डिलीट कर सकते हैं।

अन्य खबरें भी देखें:

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

Leave a Comment