Goat Farming: बकरी पालन कम लागत, अधिक मुनाफा, सरकारी सहायता, ऐसे शुरू करें बकरी पालन का व्यापार

Goat Farming: कम लागत में मोटी कमाई का सपना देख रहे हैं? पशुपालन बिजनेस आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। यदि आप पहले से किसान हैं, तो यह आपके लिए सोने पर सुहागा होगा। कृषि कार्य के साथ पशुपालन करके आप अपनी आय में काफी वृद्धि कर सकते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Goat Farming: बकरी पालन कम लागत, अधिक मुनाफा, सरकारी सहायता, ऐसे शुरू करें बकरी पालन का व्यापार
Goat Farming: बकरी पालन कम लागत, अधिक मुनाफा, सरकारी सहायता, ऐसे शुरू करें बकरी पालन का व्यापार

बकरी पालन (Goat Farming) एक ऐसा बिजनेस है जो आपको कम लागत में अच्छा मुनाफा कमाने का अवसर प्रदान करता है। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको केंद्र सरकार और कई राज्य सरकारों द्वारा भारी सब्सिडी भी मिल सकती है।

सरकार दे रही सब्सिडी

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पैसे की कमी आपको बकरी पालन व्यवसाय शुरू करने से नहीं रोकनी चाहिए। केंद्र सरकार 35% तक सब्सिडी प्रदान करती है, जो कुल लागत का एक बड़ा हिस्सा है। कुछ राज्य सरकारें भी भारी सब्सिडी दे रही हैं, जैसे हरियाणा सरकार 90% तक। इसके अलावा, NABARD जैसे बैंक बकरी पालन के लिए ऋण प्रदान करते हैं।

ग्रामीण अर्थव्यवस्था होती हैं मजबूत
बकरी फार्म ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए एक महत्वपूर्ण स्तंभ है। यह कम लागत वाला व्यवसाय है जो ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार और आय प्रदान करता है। बकरियों को कम जगह की आवश्यकता होती है, लगभग एक वर्ग मीटर प्रति बकरी। वे अन्य पशुओं की तुलना में कम खर्च करती हैं, 1-2 किलोग्राम चारा प्रतिदिन पर्याप्त होता है।

कम खर्च और तगड़ा मुनाफा
बकरी पालन न केवल लाभदायक है, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है। त्यौहारों के दौरान बकरियों की मांग बढ़ जाती है, जिससे कमाई का अच्छा अवसर मिलता है। 18 मादा बकरियों से औसतन ₹2,16,000 और 18 नर बकरियों से ₹1,98,000 की कमाई हो सकती है। बकरी के दूध, मांस, खाद आदि से भी अच्छा मुनाफा होता है। बकरी के दूध में पौष्टिक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं और यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है। डॉक्टर भी रक्त प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए बकरी के दूध का सेवन करने की सलाह देते हैं।

ऐसे करें शुरुआत
बकरी फार्म शुरू करने की लागत बकरियों की संख्या पर निर्भर करेगी। एक बकरी की कीमत 7,500 रुपए है, जिसका वजन 25 किलोग्राम होता है। इसी तरह, एक बकरे की कुल कीमत 7,500 रुपए होती है। यूनिट में 50 बकरियाँ और 2 बकरे होते हैं। इसलिए, एक यूनिट की कुल लागत की गणना करनी होगी। इसी प्रकार, मुर्गी पालन भी लाभप्रद हो सकता है, जिससे आप मुनाफा कमा सकते हैं।

      50 बकरियों की कुल कीमत    :   3,75,000 रुपए
      2 बकरे की कुल कीमत           :  15,000 रुपए
      एक यूनिट की कुल कीमत       :  3,90,000 रुपए

कुछ अन्य खर्च 
सामान्यतः, शेड के निर्माण में प्रति वर्ग फीट 100 रुपए का खर्च आता है। पानी, बिजली आदि के लिए सालाना लगभग 3000 रुपए का खर्च होता है। बकरियों को खिलाने के लिए हर साल लगभग 20,000 रुपए की आवश्यकता होती है। यदि बकरियों का बीमा करवाना चाहें, तो इसके लिए कुल लागत का 5 फीसदी खर्च करना होगा।

ऐसे समझें 
मान लें, यदि आपकी 1 यूनिट बकरियों की कुल कीमत 3,90,000 रुपए है, तो बीमा के लिए इसका 5 फीसदी यानी 19,500 रुपए खर्च करना होगा। एक यूनिट बकरियों पर कुल वैक्सीन और मेडिकल कास्ट 1,300 से 1,500 रुपए तक का खर्च आ सकता है। इसके अलावा, यदि आप काम के लिए मजदूरों को नियुक्त करते हैं, तो आपको उन्हें अलग से वेतन देना होगा।

Leave a Comment