2 साल में करोड़पति बनने का आसान तरीका! शुरू करें ये बिजनेस, गांव-शहर में हर जगह है डिमांड

रोजगार की 9 से 5 की नौकरी से ऊब चुके लोगों के लिए बिल्डिंग मैटेरियल बिजनेस एक आकर्षक विकल्प बनकर उभरा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश अंतरिम बजट में इस उद्योग के उज्ज्वल भविष्य के संकेत मिले हैं। ठोस निवेश और सही रणनीति के साथ, इस क्षेत्र में प्रवेश करने वाले उद्यमी 2 वर्षों के भीतर ही अपार धन संपदा के मालिक बन सकते हैं, विशेषकर जब इस प्रोडक्ट की मांग गांवों से लेकर शहरों तक व्यापक रूप से बढ़ रही है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
2 साल में करोड़पति बनने का आसान तरीका! शुरू करें ये बिजनेस, गांव-शहर में हर जगह है डिमांड
2 साल में करोड़पति बनने का आसान तरीका! शुरू करें ये बिजनेस, गांव-शहर में हर जगह है डिमांड

बिल्डिंग मैटेरियल बिजनेस का भविष्य

बिल्डिंग मैटेरियल बिजनेस, जिसमें मुख्य रूप से सीमेंट, मोरंग, बदरपुर, बालू, गिट्टी जैसे सामग्री शामिल हैं, निर्माण क्षेत्र के विस्तार के साथ ही तेजी से बढ़ रहा है। वित्त मंत्री के बजट भाषण में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अगले कुछ वर्षों में 2 करोड़ नए मकानों के निर्माण की घोषणा ने इस उद्योग की संभावनाओं को और बढ़ा दिया है।

आपको क्या-क्या चाहिए होगा?

इस बिजनेस की शुरुआत के लिए आपको सीमेंट की एजेंसी से लेकर विभिन्न निर्माण सामग्री की आपूर्ति तक की व्यवस्था करनी होगी। सीमेंट, जो निर्माण कार्य का मूल घटक है, के अलावा आपको मोरंग, बदरपुर, बालू, गिट्टी जैसे सामग्री भी रखने होंगे। इस व्यापार को चलाने के लिए एक विशाल स्थान की जरूरत होती है जहां आप इन सभी सामग्रियों को संग्रहित कर सकें। साथ ही, सीमेंट का सही तरीके से रख-रखाव महत्वपूर्ण है क्योंकि इसके भीगने से यह खराब हो सकता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

निवेश की आवश्यकता

यदि आप छोटे स्तर पर भी इस बिजनेस को शुरू करने जा रहे हैं, तो आपको शुरुआती निवेश के रूप में लगभग 7 से 10 लाख रुपये की आवश्यकता हो सकती है। एक बड़े स्तर पर व्यापार को आरंभ करने पर, जहां अधिक लाभ की संभावना है, वहां 25 से 30 लाख रुपये की जरूरत पड़ सकती है। अगर आपके पास पर्याप्त फंड नहीं है, तो बैंक से लोन प्राप्त करके भी आप इस व्यापार की शुरुआत कर सकते हैं।

जरूरी मंजूरियां और पंजीकरण

इस व्यापार को शुरू करने से पहले, आपको अपने शहर की नगर निगम या अथॉरिटी से बिल्डिंग मैटेरियल बिज़नेस लाइसेंस प्राप्त करना होगा। इसके अलावा, आपको अपना व्यापार MSME के तहत उद्योग आधार में पंजीकृत कराना होगा और GST पंजीकरण भी कराना पड़ेगा।

मुनाफे की संभावना

बिल्डिंग मैटेरियल के बिज़नेस में मार्जिन लगभग 30% तक होता है, जो आपको हर महीने अच्छी खासी आय प्रदान कर सकता है। अगर आप इस व्यापार को एक बड़े स्तर पर शुरू करते हैं, तो रोज़ाना का मुनाफ़ा 20-30 हजार रुपये तक हो सकता है। आपकी कमाई इस बात पर निर्भर करेगी कि आप कितना प्रोडक्ट बेच पाते हैं। चूंकि, भविष्य में इसकी मांग में वृद्धि होने वाली है, इसलिए आपके पास अधिक प्रोडक्ट बेचने का मौका होगा, जिससे करोड़पति बनने की आपकी यात्रा में तेजी आएगी।

Leave a Comment