Paperless Home Loan: होम लोन लेना हुआ आसान! स्टांप पेपर की जरूरत नहीं, जानिए पेपरलेस होम लोन की पूरी जानकारी

Paperless Home Loan : यदि आप होम लोन के लिए आवेदन करने के इच्छुक हैं और बैंक की कागजी कार्रवाई से परेशान हैं, तो आपके लिए अच्छी खबर है। इलेक्ट्रॉनिक्स और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय द्वारा की गई पहल के बाद जल्द ही पेपरलेस होम लोन की अवधारणा हकीकत में बदलने वाली है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
Paperless Home Loan: होम लोन लेना हुआ आसान! स्टांप पेपर की जरूरत नहीं, जानिए पेपरलेस होम लोन की पूरी जानकारी
Paperless Home Loan: होम लोन लेना हुआ आसान! स्टांप पेपर की जरूरत नहीं, जानिए पेपरलेस होम लोन की पूरी जानकारी

परंपरागत तरीके से Home loan में डॉक्यूमेंट्स का झंझट

वर्तमान में, गृह ऋण प्राप्त करने की प्रक्रिया बहुत अधिक पेपरवर्क को शामिल करती है। इस प्रक्रिया की जटिलता के कारण, बहुत से लोग बैंकों के ऋण के लिए आवेदन करने से पीछे हटते हैं। इसका लाभ बैंकों को होता है, जो जल्दी से जल्दी गृह ऋण प्रदान करने का प्रस्ताव देते हैं। लेकिन ग्राहकों को उच्च ब्याज दरों का सामना करना पड़ता है। हालांकि, यदि पेपरलेस गृह ऋण योजना लागू होती है और आप कागज के हिसाब से गृह ऋण के योग्य हैं, तो आपको अधिक कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

चल रहा है काम

नेशनल ई-गवर्नेंस सर्विसेज (NESL) के MD और CEO देवज्योति रॉयचौधरी ने एक कार्यक्रम के दौरान बताया कि हाल ही में इन्फॉर्मेशन ऐंड टेक्नोलॉजी मिनिस्ट्री ने एक नोटीफिकेशन जारी किया है, जिसमें Home loan को डिजिटल डॉक्यूमेंटेशन की श्रेणी में लाने की अनुमति दी गई है। उन्होंने कहा कि हम अभी इस पर काम कर रहे हैं, लेकिन इसमें बहुत संभावना है। वह इसमें कोई कांट्रैक्ट उपलब्ध हो सकता है जो डीमेट फॉर्मेट में हो।

योनो से  SBI दे रहा है Home loan

बैंकों ने Home loan लेने की प्रक्रिया सरल बनाने के लिए पहले ही बहुत उपाय किए होते हैं. उनका जोर Home loan पर ज्यादा होता है क्योंकि इसमें अच्छा खासा कोलेटरल होता है, जिससे उनके द्वारा दिए गए कर्ज पर जोखिम बहुत कम होता है. इसी क्रम में लोन प्रॉसेस को पेपरलेस करने की कवायद चल रही है. स्टेट बैंक आफ इंडिया ने पहले ही एक अलग लोन पोर्टफोलियो बनाया हुआ है और वह बैंक के मोबाइल ऐप योनो के माध्यम से कुछ क्लिक पर Home loan देने का दावा कर रहा है. यह पोर्टफोलियो एसबीआई ने 65,000 करोड़ रुपये से शुरू किया है, लेकिन बैंक के चेयरमैन दिनेश कुमार खारा का कहना है इस साल यह पोर्टफोलियो 1 लाख करोड़ रुपये के पार चला जाएगा.

Leave a Comment