देर तक पेशाब रोकने से किडनी खराब हो सकती है? डॉक्टरों का कहना है…

जब हम अपने दैनिक कामों में व्यस्त होते हैं या फिर सही समय पर शौचालय नहीं मिल पाता, तो हम में से कई लोग पेशाब को देर तक रोके रखते हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि यह आदत आपके किडनी और अन्य अंगों के लिए कितनी हानिकारक हो सकती है? आइए इसे समझते हैं विस्तार से।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
देर तक पेशाब रोकने से किडनी खराब हो सकती है? डॉक्टरों का कहना है...
देर तक पेशाब रोकने से किडनी खराब हो सकती है? डॉक्टरों का कहना है…

क्यों खतरनाक है पेशाब रोकना?

डॉक्टरों का कहना है कि आपको हर 2-3 घंटे में पेशाब करना चाहिए। यदि आप लंबे समय तक पेशाब रोकते हैं, तो मूत्र में मौजूद बैक्टीरिया मूत्राशय में संक्रमण का कारण बन सकते हैं। यह संक्रमण किडनी तक फैल सकता है और किडनी पत्थरों और किडनी की विफलता का कारण बन सकता है।

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी की विशेषज्ञ नेफ्रोलॉजिस्ट डॉ. मेधावी गौतम के अनुसार, पेशाब रोकने की आदत से शरीर में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, जिससे यूटीआई और अन्य संक्रमणों की संभावना बढ़ जाती है। इसके अलावा, पेट के निचले हिस्से में दर्द और मांसपेशियों में खिंचाव जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं, जो आगे चलकर गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

कैसे रखें किडनी को स्वस्थ?

डॉ. गौतम के अनुसार, किडनी को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना,धूम्रपान न करें, समय पर पेशाब करना, योग और व्यायाम करना, फलों और सब्जियों का सेवन बढ़ाना, और नशे से दूर रहना महत्वपूर्ण है।

यह महत्वपूर्ण है कि आप नियमित रूप से पेशाब करें और अपनी किडनी को स्वस्थ रखने के लिए स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं। डॉक्टरों की सलाह है कि आपको हर 2-3 घंटे में पेशाब करना चाहिए। किडनी आपके शरीर के लिए एक महत्वपूर्ण अंग है।

किडनी खराब होने के संकेत

किडनी में समस्या होने पर शरीर कई संकेत देता है, जैसे कि पैरों में सूजन, भूख में कमी, सांस फूलना, खुजली, पेशाब की मात्रा में कमी या खून का आना, सुबह के समय उल्टी महसूस होना, और आंखों के पास सूजन। यदि आपको ये लक्षण दिखाई दें, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

अंत में, यह बेहद जरूरी है कि हम अपने शरीर के संकेतों को पहचानें और उन पर ध्यान दें। पेशाब रोकने की आदत से बचना और स्वस्थ जीवनशैली अपनाना हमारे किडनी को स्वस्थ रखने की कुंजी है।

Leave a Comment