भारत की चौहद्दी क्या है? – Bharat Ki Chauhaddi In Hindi

चौहद्दी का अर्थ है भारत की सीमा रेखा। हमारे देश को सीमा रेखा से जुड़े हुए देशों के नाम क्या है पूरी जानकारियों से आपको अवगत कराया जाएगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको Bharat Ki Chauhaddi In Hindi के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

भारत की चौहद्दी से सम्बंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़िए। इसके साथ ही क्या आपको भारत में यातायात के सभी नियमों की जानकारी है, अगर नहीं तो आपको हमारे दूसरे आर्टिकल को पढ़ना चाहिए।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
भारत की चौहद्दी
Bharat Ki Chauhaddi In Hindi

Bharat Ki Chauhaddi In Hindi

जानकारी के लिए बता दें भारत की चौहद्दी का मतलब है – भारत की सीमा रेखा। हालांकि पूरी दुनिया में लगभग 200 से भी अधिक देश हैं। जो किसी न किसी देश से जुड़े हुए हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि हमारा देश भारत 9 देशों से जुड़ा हुआ है। जिसे भारत की चौहद्दी के नाम से भी जाना जाता है। भारत की सीमा रेखा से ये देश जुड़े हुए है – भूटान, पकिस्तान, चीन, म्यांमार, बांग्लादेश, अफ़ग़ानिस्तान, नेपाल और जलीय सीमा से जुड़े श्रीलंका , मालदीव और इंडोनेशिया।

भारत की चौहद्दी के नाम क्या है ?

यहाँ हम आपको भारत की चौहद्दी के नाम क्या है ? इसके बारे में हम आपको इनके नाम कुछ आसान से स्टेप्स के माध्यम से बताने जा रहें हैं। ये पॉइंट्स निम्न प्रकार हैं –

  • पूरब में – बंगाल की खाड़ी
  • पश्चिम में – अरब सागर (पाकिस्तान)
  • उत्तर में – हिमालय पर्वत
  • दक्षिण में – हिन्द महासागर
Bharat Ki Chauhaddi In Hindi
Bharat Ki Chauhaddi In Hindi

Bharat Ki Chauhaddi in English

अगर आप भी भारत की चौहद्दी के नाम अंग्रेजी में जानना चाहते हैं तो यहां हम आपको भारत की चौहद्दी के नाम अंग्रेजी में बताने जा रहें हैं।

  • North – China, Nepal, Bhutan, Himalaya Mountain
  • East – Bangladesh, Myanmar, Bay of Bengal
  • North-West – Pakistan And Afganistan
  • South – Srilanka And Indian Ocean
  • South West – Maldives
  • South East – Indonesia
  • West – Arabian Sea

भारत के पडोसी देशो के नाम

यहाँ हम आपको भारत के पड़ोसी देशों के नाम बताने जा रहें हैं। भारत के पडोसी देशो के नाम जानने के इच्छुक उम्मीदवार नीचे दिए गए पॉइंट्स को पढ़कर सूचना प्राप्त कर सकते हैं। भारत के पडोसी देशो के नाम निम्न प्रकार हैं –

  • अफगानिस्तान
  • म्यांमार
  • चीन
  • बंगलादेश
  • नेपाल
  • भूटान
  • पाकिस्तान
  • श्रीलंका
  • मालद्वीप

भारत की स्थलीय सीमा से जुड़े देश

क्या आप जानते हैं भारत की स्थलीय सीमा रेखा से कौन-कौन से देश जुड़े हुए हैं। यहाँ हम आपको भारत की स्थलीय सीमा से जुड़े देशो के नाम कुछ पॉइंट्स के माध्यम से बताने जा रहें हैं। ये पॉइंट्स निम्न प्रकार है –

  • चीन
  • बंगलादेश
  • नेपाल
  • भूटान
  • पाकिस्तान
  • अफगानिस्तान
  • म्यांमार

भारत की जलीय सीमा से जुड़े देश

क्या आप जानते हैं भारत की जलीय सीमा रेखा से कौन-कौन से देश जुड़े हुए हैं। यहाँ हम आपको भारत की जलीय सीमा से जुड़े देशो के नाम कुछ पॉइंट्स के माध्यम से बताने जा रहें हैं। ये पॉइंट्स निम्न प्रकार है –

  • मालदीव
  • श्रीलंका

भारत के 7 पडोसी देशो के साथ सीमाएं

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि भारत देश के साथ किस देश की सीमा लगती हैं और कितने किलोमीटर लगती है ? इसके बारे में हम आपको पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

  • बांग्लादेश – सबसे पहले बात करते है बांग्लादेश की। बांग्लादेश की सीमा भारत देश से सर्वाधिक लगती है। जानकारी के लिए बता दें भारत देश के साथ बांग्लादेश की 4096 किलोमीटर तक सीमा लगती है।
  • इसके अलावा बांग्लादेश से सीमा बनाने वाले भारतीय राज्यों के नाम है – पश्चिम बंगाल, मेघालय, मिज़ोरम, त्रिपुरा, असम।
  • चीन – भारत के साथ सर्वाधिक सीमा बनाने में 2 स्थान पर चीन है। चीन भारत के साथ 3488 किलोमीटर की सीमा बनाता है। इसके अलावा कुछ राज्य भी चीन से सीमा बनाते है।
  • ये राज्य हैं – लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश। जानकारी के लिए बता दें भारत व चीन के बीच की सीमा को मैकमोहन रेखा कहते हैं।
  • पकिस्तान – पाकिस्तान देश का नाम तो आपने सुना ही होगा। पाकिस्तान देश भारत देश के साथ हमेशा चर्चा में बना रहता है। पाकिस्तान भारत देश के साथ 3323 किलोमीटर तक सीमा बनाता है।
  • पाकिस्तान के साथ भारतीय राज्यों की सीमा बनाने वाले राज्यों के नाम – गुजरात, राजस्थान, पंजाब, जम्मू, लश्मीर, लद्दाख है। भारत में पकिस्तान के बीच की सीमा रेखा को रेडक्लिफ रेखा कहा जाता है।
  • नेपाल – जानकारी के लिए बता दें नेपाल की राजधानी काठमांडू है। नेपाल भारत के साथ 1751 किलोमीटर की सीमा रेखा बनाता है।
  • इसके अलावा नेपाल से कुछ भारतीय राज्य भी सीमा बनाते है जिनके नाम है – उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम।
  • म्यांमार – म्यांमार भारत देश के साथ 1643 किलोमीटर तक सीमा बनता है। इसके अलावा म्यांमार से कुछ भारतीय राज्य भी सीमा बनाते है जिनके नाम है -अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मिज़ोरम, मणिपुर। जानकारी के लिए बता दें भारत तथा म्यांमार के बीच अराकान योमा पर्वत माला सीमा बनाता है।
  • भूटान – जानकारी के लिए बता दें भारत के साथ सीमा बनाने वाले देशो की सूची में भूटान देश का नाम भी आता है। हालांकि भूटान देश भारत देश से 699 किलोमीटर तक सीमा बनाता है।
  • इसके अतिरिक्त भूटान से लगने वाली भारतीय राज्यों की सीमाएं हैं – पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश।
  • अफगानिस्तान – आपकी जानकारी के लिए बता दें भारत देश के साथ सबसे कम सीमा रेखा बनाने वाला देश अफगानिस्तान है। बता दें कि अफगानिस्तान भारत देश से 106 किलोमीटर तक की सीमा बनाता है।
  • हालाँकि अफगानिस्तान से एक भारतीय राज्य भी सीमा बनाता है जिसका नाम है लद्दाख। जानकारी के लिए बता दें भारत व अफगानिस्तान के बीच की रेखा को डुरंड रेखा कहते हैं।

भारत की चौहद्दी से सम्बंधित (FAQ)

भारत के उत्तर में कौन-कौन से देश हैं ?

भारत के उत्तर में चीन, नेपाल और भूटान देश है।

भारत के पश्चिम में कौन-सा देश है ?

भारत के पश्चिम में पाकिस्तान देश है।

भारत के दक्षिण-पश्चिम में कौन-सा देश है ?

भारत के दक्षिण-पश्चिम में पकिस्तान देश है।

किन दो देशो के बीच की रेखा को मैकमोहन रेखा कहा जाता है ?

भारत और चीन देश के बीच की रेखा को मैकमोहन रेखा कहा जाता है।

भारत के दक्षिण-पूर्व में कौन-सी खाड़ी है ?

भारत के दक्षिण पूर्व में बंगाल की खाड़ी है।

भारत की चौहद्दी का क्या मतलब है ?

भारत की चौहद्दी का मतलब – भारत की सीमा रेखा है।

बांग्लादेश भारत से कितनी सीमा बनाता है ?

बांग्लादेश भारत देश से 4096 किलोमीटर तक सीमा बनता है।

इस लेख में हमने आपसे Bharat Ki Chauhaddi In Hindi 2023 और इससे सम्बन्धित अनेक जानकारी हिंदी में साझा की है। अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी के अलावा अन्य कोई भी जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते हैं। हमारी टीम द्वारा आपके सभी प्रश्नो के उत्तर अवश्य दिए जायेंगे। आशा करते हैं आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से सहायता मिलेगी।

Leave a Comment