[Online Apply] उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना 2023.

उत्तरप्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा UP हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना 2023 को शुरू किया गया है। इस प्रशिक्षण को भारत सरकार के राष्ट्रीय हस्तशिल्प पुरस्कार/राज्य हस्तशिल्प पुरस्कार व दक्षता पुरस्कार प्राप्त शिल्पकारों तथा विकास आयुक्त हस्तशिल्प द्वारा शिल्पगुरू की उपाधि से अलंकृत शिल्पकारों के घरों पर उन्हीं के व्यक्तिगत निर्देशन व संरक्षण में संचालन किया जाएगा। योजना के अंतर्गत हस्तशिल्प के क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाले परम्परागत तरीकों से धीरे धीरे अब तकनीकी ओर जाने का प्रयास किया जा रहा है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

अगर आप भी UP Handicraft Skill Development Training Scheme की सम्पूर्ण जानकारी जानना चाहते हैं तो आप हमारे आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना
उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना

UP हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजना हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत परम्परागत तरीके से होने वाले हस्तशिल्प के कार्य को तकनिकी रूप में करवाया जाएगा। इस योजना को 11वीं पंचवर्षीय समय अवधि के दौरान चलाया जाएगा जिसे यथावत रूप से अगले योजनाकाल के लिए भी प्रस्तावित किया जाएगा। इस योजना को बड़ी ही तीव्रता के साथ चलाया जा रहा है। हस्तशिल्प (Handicraft) के कार्य को तकनिकी रूप से कार्य करने के बाद यह उत्पादन की क्षमता में भी वृद्धि होगी तथा रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना से संबंधित तथ्य

आर्टिकल [Online Apply] उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना
योजना UP हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना 2023
(UP Handicraft Skill Development Training Scheme)
संबंधित राज्य उत्तरप्रदेश
किसके द्वारा लॉन्च की गयी मुख्यमंत्री श्री आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा
संबंधित विभाग सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग
लाभार्थी हस्तशिल्प का कार्य करने वाले नागरिक
उद्देश्य हस्तशिल्प क्षेत्र में परम्परागत तरीके से हो रहे कार्य को तकनिकी रूप से करना।
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट Directorate of Industries (upsdc.gov.in)

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है की हस्तशिल्प क्षेत्र में हो रहे परम्परागत कार्य को तकनीक रूप से किये जाये ताकि SDTSFH योजना के तहत प्रदेश में बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सके और उत्पादकता में भी वृद्धि हो सके। इसमें सरकार द्वारा तकनिकी रूप से किए जाने वाले कार्यों के लिए पहले प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। One District One Product Scheme के तहत हस्तशिल्प की कला को अत्यधिक बढ़ावा मिल रहा है जिससे की उसकी अलग ही पहचान बनाई जा सके।

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना (SDTSFH) के कार्यक्षेत्र 

सबसे पहले हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना (up hastashilp kaushal vikaas prashikshan yojana) की शुरुआत यूपी के 28 जिलों में की जाएगी परन्तु यह योजना बजट के हिसाब से प्रत्येक वर्ष उद्योग निदेशक के माध्यम से कुछ ही जिलों का चयन किया जाएगा। एक वर्ष के दौरान इस योजना के लिए 30 प्रशिक्षण केंद्र संचालित किए जाएंगे।

जिन जिलों में इसकी शुरुआत की जाएगी वह निम्न हैं:- मिर्जापुर, बरेली, मेरठ, चित्रकूट, आजमगढ़, संत रविदास नगर (भदोही), बुलन्दशहर( खुर्जा),अलीगढ, एटा, फिरोजाबाद, वाराणसी, आगरा, मुरादाबाद, सहारनपुर, झाँसी, लखनऊ, गोरखपुर, हमीरपुर, पीलीभीत, महोबा, बिजनोर, मथुरा, ललितपुर, बाँदा, फर्रुखाबाद, रामपुर, मैनपुरी, बाराबंकी, आदि।

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना में आवेदन हेतु पात्रता

यूपी ओ0डी0ओ0पी0 में हस्तशिल्प के कौशल विकास के लिए प्रशिक्षण से संबंधित सरकार के द्वारा कुछ आवश्यक पात्रताएं व शर्तें रखी हैं। जो भी नागरिक इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उनको सबसे पहले इन पात्रताओं को पूरा करना होगा केवल तभी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

  • आवेदक की उम्र न्यूनतम 18 वर्ष तथा अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए।
  • आयु के संबंध में अनुसूचित जाति/जनजाति के नागरिकों को 5 वर्ष की अतिरिक्त छूट प्रदान की जाएगी।
  • जो भी जनगरिक इस योजना के लिए आवेदन करेगा वह उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस योजना का लाभ उठाने की लिए कोई भी शैक्षिक योग्यता नहीं चाहिए।

hastashilp kaushal vikaas prashikshan yojana में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड (Aadhar card)
  • पैन कार्ड (PAN card)
  • बैंक खाता पासबुक (Bank account passbook)
  • पासपोर्ट साइज़ की फोटो (Passport Size Photo)
  • शैक्षणिक योग्यता का प्रमाण पत्र (Certificate of educational qualification)
  • आयु प्रमाण (Age proof)
  • हस्तशिल्पी पहचान पत्र (Handicrafts identity card)
  • निवास प्रमाण पत्र (Address proof)
  • मोबाइल नंबर (mobile number)
  • जाति प्रमाण पत्र (caste certificate)

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना ऑनलाइन आवेदन

अगर आप भी इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको हमारे द्वारा बताए गए स्टेप को फॉलो करना होगा :-

  • सर्वप्रथम आपको Directorate of Industries (upsdc.gov.in) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज में आपको नीचे नीचे स्क्रॉल करते जाना होगा आपके सामने हस्तशिल्पियों के कौशल विकास की प्रशिक्षण योजना,उ0प्र0 का एक विकल्प दिखाई देगा।
हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना ऑनलाइन आवेदन
  • अब यहां पर आपको आवेदन का एक विकल्प दिखाई देगा आपको इस पर क्लिक करना होगा।
  • आवेदन के विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। इसमें अगर आप पहली बार वेबसाइट पर जा रहे हैं तो आपको सबसे पहले “नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक करना होगा। और अगर आप पहले से ही इस वेबसाइट पर रजिस्टर हैं तो आपको “पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन” के विकल्प पर क्लिक करके अपना नाम व पासवर्ड के साथ कैप्चा कोड को दर्ज करना होगा।
hastashilp kaushal vikaas prashikshan yojana
  • इस पोर्टल पर अगर आप नए हैं तो आपको “नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा जिसमे की आपको कुछ जानकारियां जैसे की :- योजना का नाम, नाम, जन्मतिथि, पिता का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल, राज्य तथा जिला का नाम दर्ज करना होगा।
हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रोसेस
  • इसके बाद आपको अंत में सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको दुबारा से लॉगिन करना होगा। लॉगिन करने के बाद आपको एक फॉर्म भरने के लिए आएगा जिसमे की आपको मांगी गयी सभी जानकारियों को दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको मांगे गए दस्तावेजों को उपलोड करना होगा।
  • दस्तावेजों को उपलोड करने के बाद आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह से आप आसानी से इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना को आवेदन करने के लिए आप इस पीडीएफ की सहायता भी ले सकते हैं।

इसे भी देखें >>> यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखें 2023 | Ganna Parchi Calendar

UP hastashilp kaushal vikaas prashikshan yojana का रुपरेखा

  • इस योजना में प्रशिक्षण के दौरान उन्नत किस्म के तकनिकी औजारों का प्रयोग किया जाएगा।
  • जिन भी प्रशिक्षकों के द्वारा यह प्रशिक्षण दिया जाएगा उनको 4000 रूपये मासिक मानदेय के तोर पर तथा 1000 रूपये कच्चे माल के लिए प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना में यह खासतौर पर ध्यान दिया जाएगा की हर प्रशिक्षक के पास केवल 10 प्रशिक्षणार्थी ही होंगे।
  • जो भी प्रशिक्षणार्थी होंगे उन्हें प्रशिक्षण के दौरान 500 रुपए मासिक स्टाईपेंड प्रदान किया जाएगा।

UP हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर

UP हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना क्या है ?

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजना हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत परम्परागत तरीके से होने वाले हस्तशिल्प (hastashilp) के कार्य को तकनिकी रूप में करवाया जाएगा।

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना का उद्देश्य क्या है ?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है की हस्तशिल्प क्षेत्र में हो रहे परम्परागत कार्य को तकनीक रूप से किये जाये ताकि SDTSFH योजना के तहत प्रदेश में बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सके और उत्पादकता में भी वृद्धि हो सके।

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना में आवेदन हेतु कितनी उम्र चाहिए ?

हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना में आवेदन हेतु आवेदक की उम्र न्यूनतम 18 वर्ष तथा अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना को किस राज्य मैं शुरू की गई है?

मुख्यमंत्री हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना को उत्तरप्रदेश राज्य में शुरू किया गया है ?

क्या किसी अन्य राज्य का नागरिक उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना में आवेदन कर सकता है

नहीं, किसी अन्य राज्य का नागरिक उत्तरप्रदेश हस्तशिल्प कौशल विकास प्रशिक्षण योजना में आवेदन नहीं कर सकता है।

Leave a Comment