यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण 2022: eproc.up.gov.in, ई-क्रय प्रणाली

मुख्यम्नत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा UP Gehun Khareed online की शुरुआत की है। इस स्कीम की शुरुआत के पीछे मुख्यमंत्री जी का उद्देश्य प्रदेश के किसानों को लाभ देना है। खाद्य और रसद विभाग द्वारा संचालित इस स्कीम के अंतर्गत राज्य सरकार प्रदेश के इच्छुक किसानों से गेंहू की ऑनलाइन खरीद करेगी।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के माध्यम से प्रदेश के किसानों को उनकी फसल का उचित समर्थन मूल्य उपलब्ध कराया जाएगा। जिस से न सिर्फ किसानों को लाभ होगा बल्कि समय से उनकी फसल बिक जाने से उन्हें होने वाला नुक्सान के संभावना भी खत्म हो जाती है। ये एक तरह से उनका अतिरिक्त लाभ होगा। जो भी उत्तर प्रदेश का किसान इस स्कीम का लाभ उठाना चाहे उन्हें अपना पंजीकरण कराना होगा जिससे वो अपनी गेंहू की फसल सरकार को बेचकर उसका अच्छा मूल्य प्राप्त कर सके.

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण

आज इस लेख के माध्यम से हम आप को UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे की कैसे प्रदेश के किसान ई-क्रय प्रणाली उत्तर प्रदेश 2022 में अपना किसान पंजीकरण करवा सकेंगे। साथ ही इसमें अपना पंजीकरण करवाने के लिए उन्हें किन आवश्यक दस्तावेजों की जरुरत होगी और इसमें आवेदन करने एक लिए कौन सी पात्रताएं निर्धारित की गयी हैं , आदि के बारे में जानकारी पढ़ सकेंगे।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण 2022

उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यम्नत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा UP Gehun Khareed online की शुरुआत की है। इस स्कीम की शुरुआत के पीछे मुख्यमंत्री जी का उद्देश्य प्रदेश के किसानों को लाभ देना है। खाद्य और रसद विभाग द्वारा संचालित इस स्कीम के अंतर्गत राज्य सरकार प्रदेश के इच्छुक किसानों से गेंहू की ऑनलाइन खरीद करेगी। इस खरीद के जरिये न सिर्फ सरकार उनकी फसलों को उचित समर्थ मूल्य पर खरीदेगी बल्कि इस से उन्हें कई बार फसल समय पर न बिकने से होने वाले नुकसान से भी बचाएगी।

जो भी किसान इस स्कीम के तहत अपनी फसल सरकार को बेचना चाहते हैं वो अपना पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) आधिकारिक पोर्टल के जरिये करवा सकते हैं। जिसमें उन्हें कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां और फसल से संबंधित जानकारियां दर्ज करनी होंगी ,और अपनी पंजीकरण प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : Sewayojan : [sewayojan.up.nic.in] उत्तर प्रदेश रोजगार मेला |

Highlights Of Gehu kharid Kisan registration

यहाँ जानिये यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी इस सरणी के माध्यम से –

आर्टिकल का नाम यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण 2022
संबंधित राज्य उत्तर प्रदेश
विभाग का नाम खाद्य एवं रसद विभाग , उत्तर प्रदेश
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के सभी किसान
पोर्टल का नाम खाद्य एवं रसद विभाग ई-उपार्जन पोर्टल व ई-क्रय प्रणाली (ई उपार्जन पोर्टल / ई क्रय प्रणाली )
उद्देश्य प्रदेश के किसान भाइयों की फसलों का उचित समर्थन मूल्य प्रदान करना।
पंजीकरण मोड ऑनलाइन पंजीकरण मोड
टोल फ्री नंबर 18001800150
आधिकारिक वेबसाइट click here
वर्तमान वर्ष 2022
यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश के सभी किसानों को राज्य सरकार की तरफ से ऑनलाइन फसल बेचने की सुविधा प्रदान की गयी है। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए किसानों को ई क्रय प्रणाली के तहत अपना पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) करवाना होगा। जिसके बाद सभी किसानों को अपनी फसल समय से बेचने पर लाभ मिलेगा। यही इस स्कीम को लाने का उद्देश्य था। सरकार चाहती है कि सभी किसानों को उनकी फसल का उचित समर्थन मूल्य प्राप्त हो सके।

इस के साथ ही जिन किसानों को अपनी फसल बेचने में परेशानी आती है, वो भी अपनी फसल बेच सके। कई बार ऐसा भी होता है जब समय पर खरीददार नहीं मिलने पर फसल खराब होने लगती है। ऐसे में किसानों को अपनी फसल बहुत ही कम दामों में बेचनी पड़ती है जिस से उन्हें नुकसान भी होता है। ऐसे में जो भी किसान इस स्कीम के तहत अपना पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) करवाता है , उन्हें अपनी फसल सरकार को बेचने की सुविधा मिलेगी।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश EWS प्रमाण पत्र कैसे बनाये

यहाँ समझिये ई-क्रय प्रणाली क्या है ?

ई क्रय प्रणाली उत्तर प्रदेश में किसानों को ऑनलाइन माध्यम से अपनी फसल को आसानी से सरकार को फसल (गेंहु ) बेचने के लिए सुविधा देने के लिए लायी गयी है। बता दें कि सरकार ने ई क्रय प्रणाली के आधार पर ई- उपार्जन पोर्टल की शुरुआत की है। जिसके जरिये किसानों को अपना पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। इस के बाद उनके यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के सत्यापन या आवेदन लॉक होने के बाद टोकन निकालना होगा। जिस के बाद उन्हें टोकन में दिए गए निर्धारित समय और तिथि के दिन अपने स्थानीय क्रय केंद्र पर जाना होगा।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण

ई-क्रय प्रणाली के लाभ

  • इसका सबसे बड़ा लाभ ये है की किसानों को फसल तैयार होने पर ग्राहक ढूंढ़ने और बेचने की प्रतीक्षा नहीं करनी होगी।
  • जो भी किसान ई-क्रय प्रणाली पोर्टल / ई उपार्जन पोर्टल पर अपना पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण ) करवाता है तो उसे फसल बेचने के लिए मंडी तक नहीं जाना होगा।
  • ई- क्रय प्रणाली पोर्टल पर पंजीकृत किसानों को निर्धारित तिथि को टोकन में दिए गए समय के अनुसार अपने नजदीकी क्रय केंद्र पर जाना होगा। जिसके बाद वो अपनी फसल बेच सकते हैं।
  • सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिए जगह जगह (स्तानीय स्तर पर) पर कांटे लगाए हैं , जहाँ किसानों द्वारा लायी गयी फसल को तोला जा सके।
  • किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए अपना पंजीकरण फॉर्म ( यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) का प्रिंट आउट और ऑनलाइन जनरेट किया गया टोकन ले जाना होगा।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2022

यहाँ जानिये ई-क्रय प्रणाली की विशेषताएं व संबंधित तथ्य

  • यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के माध्यम से सभी इच्छुक किसान जो सरकार को अपनी फसल बेच सकते है।
  • UP Gehu Kharid Portal का नाम ई – उपार्जन पोर्टल है। ये ई – क्रय प्रणाली के आधार पर तैयार किया गया है।
  • जो भी किसान यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण करवाने के इच्छुक हैं उन्हें आधिकारिक पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण पूरा करना होगा।
  • जिन किसानों का यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण लॉक हो जाएगा वो इसके बाद अपना टोकन निकाल सकेंगे और उस में दी गयी जानकारी के अनुसार निर्धारित समय और तिथि को क्रय केंद्रों पर अपनी फसल बेच सकेंगे।
  • उत्तर प्रदेश में कुल 6000 क्रय केंद्रों का निर्माण राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2022 के लिए किया गया है।
  • इन केंद्रों के माध्यम से सरकार प्रदेश के पंजीकृत किये हुए (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) किसानों से गेंहू की खरीद करेगी।
  • सरकार किसानों से 1975 प्रति क्विंटल गेंहू समर्थन मूल्य पर खरीदेगी।
  • ये धनराशि उनकी फसल के क्रय होने के 72 घंटों के बाद किसानों के बैंक में ट्रांसफर कर दी जाएगी।
  • वर्ष 2022 के लिए राज्य सरकार ने 55 लाख मीट्रिक टन गेंहू की खरीद का टारगेट रखा है।
  • जो भी यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के जरिये आवेदन करेंगे , उन किसानों को उचित समर्थन मूल्य प्रदान किया जाएगा।

ये भी जानें : यूपी आसान किस्त योजना 2022: ऑनलाइन पंजीकरण

यूपी किसान पंजीकरण हेतु पात्रता

उत्तर प्रदेश गेहूं खरीद किसान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022 करने एक लिए सभी किसानों को इस स्कीम के तहत निर्धारित की गयी कुछ पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा।

  1. यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के तहत सिर्फ उन किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा जो उत्तर प्रदेश के मूल निवासी है।
  2. सभी आवेदन करने किसानों के लिए आवश्यक है कि उनका बैंक अकाउंट किसी CBS (कोर बैंकिंग सोलुशन) में हो। यानी की वो बैंक जो उसी की शाखा से कनेक्ट होने की अनुमति देता हो और साथ ही ग्राहकों को लोन , क्रेडिट और पैसा जमा करने की सुविधा उपलब्ध कराता हो।
  3. इस पोर्टल (ई उपार्जन पोर्टल) पर पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) कराने के लिए सिर्फ किसानों को ही अनुमति होगी।
  4. वो किसान जो बाजार भाव के आधार पर अपनी फसल बेचने को इच्छुक हों वो इसमें अपना पंजीकरण करवा सकते हैं।
  5. आवेदक किसान का बैंक खाता और मोबाइल नंबर आधार से लिंक हों।

ये हैं किसान पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज

यदि आप भी उत्तर प्रदेश राज्य के किसान हैं तो आप को भी अपनी फसल राज्य सरकार को बेचने की सुविधा प्राप्त होगी। इसके लिए आप को अपना पंजीकरण खाद्य एवं रसद विभाग , उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट – eproc.up.gov.in . पर कराना होगा।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण 2022 हेतु आप को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। आप की सुविधा हेतु हम यहाँ संबंधित दस्तावेजों की सूची उपलब्ध करा रहे हैं –

ऐसे करें यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण

अभी तक लेख के माध्यम से आप ने यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के बारे में जानकारी प्राप्त की। आइये अब जानते हैं कि आप कैसे गेंहू खरीद के लिए किसान पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं। आगे आप UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran की पूरी प्रक्रिया स्टेप बाय स्टेप जान सकते हैं।

  • जो भी किसान अपना UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran करना चाहते हैं वो सबसे पहले खाद्य एवं रसद विभाग उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट  पर जाएँ।
यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण
  • अब आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ आप को गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण का लिंक दिखेगा।
  • इस लिंक पर क्लिक करते ही आप के सामने अगला पेज खुलेगा।
  • यहाँ आप देख सकते हैं की आप को स्कीम में पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) की पूरी प्रक्रिया कुल 6 चरणों में पूरी करनी होगी।
  • अब आप ऊपर दिख रहे विकल्पों में से पंजीकरण प्रपत्र के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करने के बाद आप को अगले पेज पर पूछी गयी जानकारी , जैसे कि किसान मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा।
  • जिस के बाद आगे बढ़ें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आप को अपनी स्क्रीन पर पंजीकरण फॉर्म (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) दिखेगा।
  • अब आप को यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • जैसे कि – किसान का मोबाइल नंबर , पता , आधार नंबर , तहसील , जनपद , लिंग , पिता / पति का नाम आदि व्यक्तिगत जानकारी।
  • इस के अतिरिक्त सभी किसानों को अपने बैंक संबंधी विवरण और कृषि योग्य भूमि का विवरण आदि देना होगा।
  • सभी सम्बंधित जानकारी भरने के बाद किसान को Submit बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से किसान की पंजीकरण (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ये भी जानें : यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना 2022

उत्तर प्रदेश किसान पंजीकरण फॉर्म में संशोधन कैसे करें ?

यदि आप ने यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण की प्रक्रिया के दौरान कुछ जानकारी भरने में कुछ गलती कर दी है। या फिर आप को कुछ अन्य आवश्यक संशोधन करने की आवश्यकता है तो आप को यहाँ दिए गए तरीके से पंजीकरण फॉर्म में संशोधन करने की सुविधा उपलब्ध है।

यहाँ जानिए यूपी यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण आवेदन पत्र में संशोधन की प्रक्रिया।

  • सबसे पहले किसान भाई को खाद्य एवं रसद विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आप के सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ आप को पंजीकरण संशोधन का विकल्प दिखेगा। इस पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही अगले पेज पर आप को अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा। इसके बाद इसे सब्मिट कर दें।
  • अब आप के सामने किसान पंजीकरण संशोधन प्रपत्र खुल जाएगा।
  • यहाँ आप अपने फॉर्म में हुई त्रुटि में सुधार कर सकते हैं। या अपने द्वारा दी गयी जानकारी में बदलाव कर सकते हैं।
  • इस प्रकार आप की यूपी गेहूं खरीद में ऑनलाइन किसान पंजीकरण के आवेदन पत्र में संशोधन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश गेंहू खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण का पंजीकरण फॉर्म कैसे प्रिंट करें ?

यहाँ जानिये UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran form डाउनलोड और प्रिंट करने की पूरी प्रक्रिया –

  • यूपी गेंहू खरीद (UP Gehu Kharid ) हेतु किसान पंजीकरण की प्रक्रिया के बाद फॉर्म को डाउनलोड और प्रिंट करने की आवश्यकता होगी।
  • इसके लिए सबसे पहले आप को खाद्य एवं रसद विभाग की आधिकारिक वेबसाइट eproc.up.gov.in पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आप को गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इस लिंक पर क्लिक करते ही अगला पेज खुलेगा। यहाँ आप कुछ विकल्प देख सकते हैं।
  • इनमे से आप को पंजीकरण फाइनल प्रिंट पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करते ही आप को अगले पेज पर पूछी गयी जानकारी भरनी होगी।
  • यहाँ आप को किसान पंजीकरण संख्या, अपना मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड आदि जानकारियां दर्ज करनी हैं।
  • इस के बाद आगे बढ़ें के बटन पर क्लिक कर दें।
  • अब आप के सामने पंजीकरण का फॉर्म खुलेगा , जिसे आप को प्रिंट कर लेना होगा।
  • इस प्रकार आप सरल से कुछ स्टेप्स का प्रयोग करके फॉर्म को प्रिंट कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : यूपी मिशन शक्ति 3.0: लाभ

ऐसे बनाएं पोर्टल पर आवेदन लॉक के बाद टोकन

सभी किसान भाइयों को अपना पंजीकरण ई उपार्जन पोर्टल पर करवाने (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण ) के साथ साथ टोकन बनवाना भी आवश्यक होता है। टोकन के माध्यम से ही आप को फसल की खरीद हेतु तिथि और समय के बारे में विवरण प्राप्त हो जाएगा। आप नियत समय और तिथि को क्रय केंद्रों में अपनी फसल बिक्री हेतु ले जा सकते हैं।

यहाँ जानिये पोर्टल पर आवेदन (यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण) लॉक करने के बाद टोकन निकालने की पूरी प्रक्रिया –

  • सबसे पहले आप को खाद्य और रसद विभाग की आधिकारिक वेबसाइट eproc.up.gov.in पर जाना होगा।
  • यहाँ आप को होम पेज पर आवेदन लॉक के उपरान्त टोकन बनाए के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस ऑप्शन पर क्लिक करते ही आप अगला पेज खुलेगा।
  • यहाँ आप को किसान पंजीयन आईडी और पंजीकृत मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • इस के बाद आप के स्क्रीन पर टोकन के सभी विवरण खुल जाएंगे।
  • ये टोकन सभी किसानों के पंजीकृत नंबर पर भी सेंड किया / भेजा जाएगा।
  • जिस के आधार पर सभी किसान निर्धारित समय पर अपनी फसल को बेचने के लिए क्रय केंद्रों पर जा सकते हैं।
  • इस प्रकार आप यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के आवेदन के लॉक होने के पश्चात अपना टोकन निकाल सकते हैं।

UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran से सम्बंधित प्रश्न उत्तर

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण क्यों आवश्यक है ?

उत्तर प्रदेश के सभी किसान जो सरकार को अपनी फसल बेचना चाहते हैं उन्हें संबंधित पोर्टल पर अपना पंजीकरण आवश्यक रूप से करवाना होगा। क्यूंकि तभी वो अपनी फसल सरकार को बेच सकेंगे।

उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन गेंहू कैसे बेचे ?

यदि आप ऑनलाइन माध्यम से अपना गेंहू बेचना चाहते हैं तो इसके लिए आप को अपना पंजीकरण ई उपार्जन पोर्टल पर कराना होगा।

ऑनलाइन किसान पंजीकरण से कैसे अपनी फसल बेच सकते हैं ?

यदि किसान अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाते हैं तो उन्हें पंजीकरण के साथ ही एक टोकन प्राप्त होगा। इस टोकन के माध्यम से उन्हें अपनी फसल बेचने के लिए निर्धारित समय और तिथि का विवरण प्राप्त हो जाएगा। और फिर टोकन में बताये गए समय पर किसान अपनी फसल को मंडी ले जाकर बेच सकते हैं।

यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण से क्या लाभ है ?

इस से किसानों को अपनी फसल के खरीद हेतु ग्राहक मिलने से संबंधित किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। जैसे कि पहले उन्हें ग्राहक समय पर न मिलने की स्थिति में फसल खराब होने या फिर फसल को कम दाम में बेचना पड़ता था , अब वो समस्या खत्म हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण क्या है ?

ये एक राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गयी सुविधा है जिस के माध्यम से प्रदेश के किसान ई उपार्जन पोर्टल / ई क्रय प्रणाली के जरिये अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवा के सरकार को अपनी फसल बेच सकते हैं।

ई-क्रय प्रणाली उत्तर प्रदेश के माध्यम से किसान पंजीकरण हेतु आधिकारिक पोर्टल / वेबसाइट कौन सी है ?

ई क्रय प्रणाली के जरिये किसान पंजीकरण के लिए आधिकारिक वेबसाइट eproc.up.gov.in/ है। इस आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से सभी किसान अपना पंजीकरण करवा सकते हैं।

UP Gehun Khareed online Kisan panjikaran kese kare ?

यदि आप को उत्तर प्रदेश किसान ऑनलाइन पंजीकरण करवाना है तो खाद्य और रसद विभाग उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। इसके बाद आप संबंधित लिंक पर क्लिक करने के बाद अपनी आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं। विस्तार से जानने के लिए आप इस लेख को पूरा पढ़ सकते हैं।

गेंहू का पैसा कब तक आएगा ?

आप की जानकारी हेतु बता दें कि गेंहू के विक्रय के 72 घंटे बाद किसान के पंजीकृत बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए जाएंगे।

आज इस लेख में हमने आप को यूपी गेहूं खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण के बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आप को ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। यदि ऐसे ही अन्य योजनाओं और स्कीम के बारे में जानने के लिए इच्छुक हैं तो आप हमारी इस वेबसाइट www.mcpanchkula.org से जुड़ सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button