यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना 2023 | UP CM Fellowship Program Online Apply

वर्तमान समय में बढ़ती बेरोजगारी को कम करने और युवाओं को रोजगार दिलाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना को शुरू किया गया है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

राज्य के ऐसे युवक/ युवती जो शोध कार्य में रूचि रखते है, यह यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना उन सभी युवकों के लिए लाभकारी है।

योजना के माध्यम से सरकार राज्य के कुछ चयनित प्रशिक्षित युवकों को नौकरी प्रदान करेंगे जिससे वह अपने भविष्य को बेहतर बना सके और राज्य के विकास में अपना सहयोग प्रदान कर सके।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना | UP CM Fellowship Program Online Apply
यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना

इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार एक परिवार एक नौकरी की योजना को प्रोत्साहन प्रदान करेंगे। जिससे रोजगार के अवसरों को बढ़ाया जायेगा।

Contents hide

यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना क्या है ?

बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 9 जुलाई 2022 को योजना की शुरुआत की है।

योजना के माध्यम से राज्य सरकार राज्य के 100 ब्लॉक में से 100 युवकों को चयनित करेगी। वह 100 ब्लॉक राज्य सरकार द्वारा ही चुने जायेंगे।

यह चयनित युवक राज्य के कल्याण के लिए शुरू की गई योजनाओं का सर्वेक्षण अध्ययन एवं प्राथमिक आकड़ों का संकलन करेंगे।

राज्य में संचालित हुई नई-नई योजनाओ का लाभ आम नागरिकों को उपलब्ध करने से पहले यह चयनित युवक योजनाओं म आ रही समस्याओं का निवारण एवं प्रशिक्षण करेंगे।

फेलोशिप योजना में मिलने वाला वेतनमान

योजना के माध्यम से चयनित शोधार्थियों को 30000 रुपयों का वेतन प्रतिमाह प्रदान किया जायेगा।

साथ ही आपको योजना के अंतर्गत राज्य के अलग-अलग राज्य में भ्रमण करने के लिए सरकार उन्हें वेतन के अतिरिक्त प्रतिमाह 10000 रुपयों का भुगतान प्रदान करेगी।

सरकार टेबलेट खरीदने के लिए ही आपको एकमुश्त 15000 रुपये भी प्रदान करेगी लेकिन यह भुगतान सरकार एक बार ही शोधार्थियों को प्रदान करेगी।

योजना के महत्वपूर्ण बिन्दु

योजना यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना
प्रारम्भिक तिथि 9 जुलाई 2022
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा
उद्देश्य राज्य के युवकों को रोजगार उपलब्ध करवाना
लाभ प्रतिमाह 40000 वेतन

स्कीम का उद्देश्य क्या है ?

योजना के माध्यम से UP राज्य सरकार का एक मात्र लक्ष्य राज्य के बेरोजगार युवकों को रोजगार प्रदान करना है जिससे राज्य में बढ़ती हुई बेरोजगारी के स्तर को नियंत्रण में लाया जा सकें।

योजना के माध्यम से ऐसे विद्यार्थियों जो शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिभावान हो एवं जिनके स्नातक की डिग्री में कम से कम 60 % अंक हो या उससे अधिक अंक प्राप्त किये हो।

ऐसे विद्यार्थी राज्य के विकास में अपना सहयोग प्रदान कर सकते है एवं साथ ही आय अर्जित कर सकते है।

किस शिक्षित क्षेत्र के विद्यार्थी योजना में आवेदन कर सकते है ?

  1. वन ,पर्यावरण और जलवायु
  2. कृषि, ग्रामीण विकास, पंचायती राज से जुड़े क्षेत्र
  3. शिक्षा ,स्वास्थ्य ,स्वच्छ्ता,पोषण और कौशल विकास
  4. पर्यटन एवं संस्कृति
  5. डेटा साइंस ,आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, आईटी ,आई.टी.ई.एस ,जैव प्रौद्योगिकी ,मशीन लर्निंग डेटा गवर्नेंस
  6. ऊर्जा और नवीनीकरण ऊर्जा
  7. बैंकिंग ,वित्त और राजस्व ,लोक नीति और गवर्नेंस तथा अन्य क्षेत्र
  8. आवश्यकता पढ़ने पर अन्य क्षेत्रों पर भी इस प्रोग्राम के तहत विचार किया जा सकता है।

योजना के पात्रताए

  • आवेदन करने के लिए आवेदक का उत्तरप्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • योजना के अंतर्गत ऐसे विद्यार्थी पात्र है जिहोने स्नातक की पढ़ाई पूरी कर ली हो और ऊके स्नातक में 60% या उससे अधिक अंक आए हो।
  • उम्मीदवार की कम से कम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए।
  • स्कीम के तहत राज्य के केवल ऐसे युवक आवेदन कर सकते है, जिन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी कर ली हो।
  • उम्मीदवार को कम्प्यूटर स्किल्स की नॉलेज होनी आवश्यक है।
  • योजना के तहत आवेदक की information and communication technology स्किल अच्छी होनी आवश्यक है।
  • अगर किसी आवेदक को Data Analysis का एक्सपीरियन्स है तो उसे योजना में प्राथमिकता प्रदान की जाएगी।
  • योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक है की आवेदक 500 शब्दों स्टेटमेंट प्रस्तुत करें ।
  • ऊर्जा और नवीनीकरण ऊर्जा इत्यादि क्षेत्रों में अनुभव होना आवश्यक है साथ ही कार्य अनुभव का प्रूफ होना भी आवश्यक है।
  • योजना के तहत चयनित शोधार्थियों को फिल्ड वर्क करना पड़ेगा जिसके लिए आपको अलग से सरकार 10000 रुपयों का भुगतान करेगी।
मानकों के आधार पर होगी ऑब्जेक्टिव स्कोरिंग

स्क्रीनिंग कमेटी ऑब्जेक्टिव स्कोरिंग नीचे दिए गए स्टेंडर्ड के अनुसार करेगी –

क्रम संख्याविवरणअधिकतम अंक (maximum marks)
Aउच्चतम शैक्षिक योग्यता (Highest educational qualification)25
1graduation (स्नातक)15
2postgraduate (स्नातकोत्तर20
3Phd (पूर्ण /थीसिस प्रस्तुत )25
Bअन्य विविध मानदंड15
1किसी प्रतिष्ठित संस्थान /विश्वविद्यालय से डिग्री3
2राष्ट्रीय /अंतराष्ट्रीय प्रकाशनों में प्रकाशित शोध कार्य या लेख3
3राष्ट्रीय /अंतराष्ट्रीयसंस्थान या मंच द्वारा दिए जाने वाले पुरस्कार3
4संगठननों के साथ स्वयंसेवा3
5कोई अन्य उपलब्धि3
Cप्रसांगिक कार्य का अनुभव10
16 महीने से 2 साल का अनुभव5
22 साल से अधिक का अनुभव
(ध्यान रहे पीएचडी डिग्री को कार्य अनुभव में नहीं आएगी )
10
कुल अंक50

योजना के अंतर्गत शर्ते

UP के 34 जिलों में से चयनित 100 विकास खंड
क्रम संख्याचयनित विकास खण्डजनपद का नाम
1भीटी, भियांव, टाण्डाअम्बेडकर नगर
2जगदीशपुर, जामों, शुकुलबाजारअमेठी
3बांसडीह, चिलकहर, गरवार, हनुमानगंज, मनियर, पन्दह, रसड़ा, सोहावंबलिया
4बबेरु, बिसण्डा, कमासिनबांदा
5कबरईमहोबा
6बहेड़ी, फतेहगंज, मझगवा, रिच्छा (दमखौदा), शेरगढ़बरेली
7पूरनपुरपीलीभीत
8हरैया, कुदरहा, सल्टौवा गोपालपुर, विक्रमजोतबस्ती
9बघौली, पौली, सांथासंत कबीर नगर
10कोतवाली, नजीबाबादबिजनौर
11अम्बियापुर, आसफपुर, कादरचौक, सलारपुर, उसवां, वजीरगंजबदायूं
12देवकली, मरदाह, रेवतीपुर, सादात, बाराछवार,  बिरनोगाजीपुर
13गौरी बाजारदेवरिया
14बांसगांव, ब्रह्मपुर, कैंम्पियरगंजगोरखपुर
15विष्णुपुराकुशीनगर
16जालौन, रामपुराजालौन
17मंडवाराललितपुर
18अवागढ़, जैथरा, सकीटएटा
19नवाबगंज, राजेपुरफर्रुखाबाद
20मछलीशहर, रामपुरजौनपुर
21औराईसंत रविदास नगर (भदोही)
22कौशाम्बी, मंझनपुरकौशाम्बी
23बहरिया, कोरांव, माण्डाप्रयागराज
24महाराजगंज, मिठौरा, नौतनवा, निचलौल, पनियरा, परथावलमहाराजगंज
25बाभनजोत, पन्धरी कृपाल, रुपईडीहगोण्डा
26निंदूरा, पुरेडलईबाराबंकी
27हलिया, मडिहान (पटेहरा), नगर सिटी, पहाड़ी, राजगढ़मिर्ज़ापुर
28बांकेगंज, धौरहरा, ईसानगर, रमियाबेहड़खीरी
29सण्डीलाहरदोई
30बिसवांसीतापुर
31रजपुरा, संभल, असमोली, बनियाखेडा, गुन्नौर, जुवई, पवांसासंभल
32सैदनगररामपुर
33गंगीरीअलीगढ
34अमापुर, गंजडुंडवारा, सौरोंकासगंज

UP CM Fellowship Program Online Apply

योजना में आवेदन करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी यह दस्तावेज नीचे निम्नलिखित है :-

  • उम्मीदवार का आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाईल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पास पोर्ट साइज़ फोटो
  • ग्रेजुएशन मार्क्स सर्टिफिकेट
  • कंप्यूटर या आईटी से संबंधित प्रमाण पत्र

इन सभी दस्तावेजों की सहायता से आप आवेदन कर सकते है :-

  • आवेदन हेतु योजना की आधिकारिक वेबसाइट cmfellowship.upsdc.gov.in पर जाइये।
  • वेबसाइट के होम में दिए गए दिशा-निर्देशों को पढ़कर Proceed के विकल्प पर क्लिक करें। यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में दी गयी जानकारी को दर्ज करें। यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद submit में क्लिक करें।
  • रजिस्ट्रेशन पूर्ण होने के बाद आप पोर्टल में लॉगिन कर सकते हो।

स्कीम से संबंधित कुछ प्रश्न-उत्तर

यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना का शुभारम्भ कब किया गया है ?

यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना का शुभारम्भ 9 जुलाई 2022 में किया गया है।

योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आयु कितनी होनी चाहिए ?

योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आयु 40 वर्ष से कम होनी चाहिए।

योजना का उद्देश्य क्या है ?

योजना के माध्यम से राज्य सरकार राज्य के बेरोजगार युवकों को रोजगार प्रदान करना चाहती है।

स्कीम के तहत लाभार्थी कौन है ?

स्कीम के तहत लाभार्थी उत्तरप्रदेश के बेरोजगार युवक है।

Leave a Comment