vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली, RCCMS UP

इस पोर्टल की मदद से सभी राजस्व न्यायलय से जुडी सुविधा घर बैठे ही नागरिकों को मिल जाएगी और उनके लिए ये जानकारी प्राप्त करना बहुत ही आसान हो जाएगा।

vaad.up.nic एक ऐसी वेबसाइट है जिसे राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली (Revenue Court Computerized Management System) उत्तर प्रदेश की राज्य इकाई द्वारा विकसित किया है। ये एक ऐसा पोर्टल है जिसमे उत्तर प्रदेश का कोई भी नागरिक राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली के माध्यम से किसी भी राजस्व न्यायालय से सम्बंधित मुद्दों को ऑनलाइन देख सकते हैं। इस पोर्टल की मदद से सभी RCCMS UP से जुडी सुविधा घर बैठे ही नागरिकों को मिल जाएगी और उनके लिए ये जानकारी प्राप्त करना बहुत ही आसान हो जाएगा।

vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली, RCCMS UP
vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली, RCCMS UP

आज इस लेख में हम आप को vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली, RCCMS(UP) से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी देंगे। जिस की मदद से आप इन सुविधाओं का लाभ उठाने में सक्षम होंगे।

vaad.up.nic (RCCMS UP) राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली

आज जबकि सभी सरकारी दस्तावेज और काम काज डिजिटल माध्यम से हो रहे हैं। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा वर्ष 2013 में RCCMS UP पोर्टल (vaad.up.nic) की शुरुआत की गयी है। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस पोर्टल के जरिये राजस्व न्यायालय से जुड़े सभी सेवाओं को ऑनलाइन कर दिया है। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के सभी नागरिकों को राजस्व न्यायलय से संबंधित सुविधाओं का लाभ मिल सकेगा। इसमें 2.5 हजार से भी ज्यादा राजस्व न्यायालय, जिसमें नायब तहसीलदार न्यायालय से लेकर राजस्व परिषद तक के न्यायालय सम्मिलित हैं, को कंप्यूटरीकृत किया गया है।

यदि किसी नागरिक को राजस्व न्यायालय से जुडी किसी सेवा का लाभ लेना है तो उन्हें सिर्फ RCCMS(UP)vaad.up.nic Portal पर जाना होगा और वो सभी संबंधित सुविधाओं का लाभ घर बैठे उठा सकेंगे। लेख में आगे आप RCCMS UP पोर्टल (vaad.up.nic) पर उपलब्ध सभी संबंधित सेवाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

यूपी वृद्धा पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

Highlights Of RCCMS UP – vaad.up.nic

आर्टिकल का नाम vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली, RCCMS UP
संबंधित राज्य उत्तर प्रदेश
पोर्टल का नाम RCCMS UP
पोर्टल को लांच किया गया वर्ष 2013 में
पोर्टल का उद्देश्य राजस्व न्यायालय से जुडी सभी सेवाओं को राज्य के नागरिकों को ऑनलाइन उपलब्ध कराना।
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट / पोर्टल vaad.up.nic.in 

आरसीसीएमएस पोर्टल (RCCMS UP) के उद्देश्य

RCCMS UP Portal (vaad.up.nic) को जारी करने का उद्देश्य प्रदेश के सभी नागरिकों को राजस्व न्यायालय से संबंधित सभी सेवाओं को डिजिटल माध्यम से उपलब्ध करना है। जिस से सभी नागरिक बहुत ही आसानी से ऑनलाइन पोर्टल के जरिये इन सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे। यही नहीं राजस्व न्यायालय की कार्यप्रणाली को पूरी तरह से पारदर्शी रखने में भी इससे लाभ होगा। इसके साथ ही सभी नागरिकों को RCCMS UP सेवाओं के लिए संबंधित कार्यालयों में चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होगी। अब से सभी नागरिक सिर्फ इंटरनेट कनेक्शन और मोबाइल या लैपटॉप के माध्यम से इन जानकारियों तक पहुँच सकेंगे।

यूपी राशन कार्ड

RCCMS UP पोर्टल पर मिलने वाली सुविधाएं

आरसीसीएमएस यूपी (RCCMS UP) पोर्टल पर प्रदेश के सभी नागरिकों को विभिन्न प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराई गयी है। आप की सुविधा के लिए हम आगे इन सभी का विवरण दे रहे हैं। आप यहाँ दी गयी जानकारी के जरिये ये जान सकते हैं की कौन कौन सी सेवाएं सभी नागरिक अब आसानी से ऑनलाइन माध्यम से ही प्राप्त कर सकते हैं।

  1. वाद सूची
    • परिपक्व/अपरि. तालिका
    • दैनिक वाद तालिका
  2. वाद खोज विधि
    • कंप्यूटरीकृत वाद सं०
    • भूखण्ड / गाटे के वादग्रस्त होने की स्थिति जाने
    • वरासत हेतु आवेदन की स्थिति जाने
    • राजस्व ग्राम कोड
    • कैविएट खोजें
    • वाद संख्या
    • पंजीकरण वर्ष
    • वादी / प्रतिवादी
    • पंजीकरण तिथि
    • नवीन वाद(राजस्व परिषद)
    • सुनवाई तिथि
    • अधिनियम
    • विवादित भूमि के ग्राम द्वारा
  3. न्यायालय आदेश
    • आदेश तिथि
    • वाद संख्या
  4. लॉगिन (एन.टी. से मण्डलायुक्त)
  5. लॉगिन (राजस्व परिषद)
    • लॉगिन (राजस्व परिषद)
    • मण्डल सहायक लॉगिन
  6. ऑनलाइन आवेदन
    • ऑनलाइन आवेदन हेतु प्रक्रिया
    • धारा “34”
    • धारा “80”
    • उत्तराधिकार / वरासत
    • कैविएट पंजीकरण
  7. फोलियो
    • एकल खिड़की प्रणाली
    • लॉगिन (लेखपाल/रा.नि.)
    • लेखपाल/राजस्व निरीक्षक लॉगिन
    • आर. आर. के. लॉगिन
  8. चकबन्दी न्यायालय
    • चकबन्दी न्यायालय

कुछ महत्वपूर्ण संबंधित लिंक्स

कंप्यूटरीकृत वाद संख्या से खोजेंलेखपाल/राजस्व
वाद संख्यालॉगिन (एन०टी० से)
वादी / प्रतिवादी स्तर चुनेसुनवाई तिथि
उत्तराधिकार / वरासत हेतु आवेदनऑनलाइन आवेदन संख्या से खोजें
दैनिक वाद तालिकाराजस्व ग्राम कोड

vaad.up.nic.in पोर्टल पर वर्तमान में मौजूद आंकड़े

कुल न्यायालय2752
कुल वाद15.96 M
कुल निस्तारित14.17 M
कुल विचाराधीन1.79 M
कुल विचाराधीन (एक वर्ष से अधिक)0.38 M
कुल विचाराधीन (तीन वर्ष से अधिक)0.32 M
कुल विचाराधीन (पांच वर्ष से अधिक)0.26 M
कुल अनअद्यतनीकृत वाद0.54 M

यूपी विवाह पंजीकरण आवेदन कैसे करे

नोट : कृपया ध्यान दें की आंकड़ों में समय के साथ साथ बदलाव होते रहते हैं। इसलिए नवीनतम अपडेट के लिए कृपया आधिकारिक पोर्टल पर विजिट करें।

यहाँ जानिये मुकदमे की स्थिति ऑनलाइन कैसे चेक करें (RCCMS UP Case Status)

यदि आप भी किसी मुक़दमे से संबंधित विवरण को ऑनलाइन माध्यम से देखना चाहते हैं तो आप ऐसा घर बैठे भी कर सकते हैं। इसके लिए आप को RCCMS UP की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। जहाँ से आप नीचे बताये गयी पूरी प्रक्रिया को दोहरा कर RCCMS UP Case Status को आसानी से चेक कर सकते हैं।

  • सबसे पहले मुकदमे संबंधी विवरण चेक करने के लिए vaad.up.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • वेबसाइट के होम पेज खुलने के बाद आप को वाद खोज विधि के सेक्शन में क्लिक करना होगा।
vaad.up.nic : राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली,
  • इसके बाद कम्प्यूटरीकृत वाद संख्या के विकल्प का चुनाव करें।
vaad.up.nic
  • अब अगला पेज खुलेगा जहाँ आप को कंप्यूटरीकृत वाद संख्या को दर्ज करना है।
  • इसके बाद प्रदर्शित करें के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • अब आप को आपकी स्क्रीन पर मुकदमे से संबंधित समस्त विवरण दिखाई देगा।
  • इस तरह आप  राजस्व न्यायालय कंप्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली के जरिये मुकदमे की स्थिति आसानी से ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।

बिना मुक़दमे नंबर के ऐसे जाने मुक़दमे की स्थिति

यदि आप को मुकदमे की स्थिति जाननी हो और आप के पास मुकदमें की वाद संख्या / नंबर (कम्प्यूटरीकृत वाद संख्या ) न हो तो ऐसे में आप खसरा संख्या या गाटा संख्या के जरिये भी अपने मुक़दमे की स्थिति जान सकते हैं। आगे देखिये जानने के पूरी प्रक्रिया –

  • सबसे पहले आप को की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इस के बाद आप को होम पेज पर मौजूद विकल्प ‘भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति जाने‘ विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आप के सामने अगला पेज खुलेगा , जहाँ आप को पूछी गयी सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • यहाँ आप जनपद , तहसील , परगना , ग्राम , जाता संख्या आदि जानकारियां भरें।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद प्रदर्शित करें के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आप की स्क्रीन पर मुक़दमे से संबंधित सभी विवरण आ जाएंगे।

जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना

RCCMS UP पोर्टल (vaad.up.nic) से संबंधित प्रश्न उत्तर

vaad.up.nic क्या है ?

ये एक पोर्टल या आधिकारिक वेबसाइट है जो कि राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली पर आधारित है , इस वेबसाइट को उत्तर प्रदेश की राज्य इकाई द्वारा विकसित किया है। इस पोर्टल के जरिये सभी उत्तर प्रदेश के मूल निवासी राजस्व न्यायालय से संबंधित किसी भी सेवा का लाभ ऑनलाइन माध्यम से उठा सकते हैं।

RCCMS UP पोर्टल से क्या फायदे हैं ?

इसमें सभी नागरिक आसानी से बिना किसी कार्यालयों के चक्कर लगाए सभी राजस्व न्यायलय से संबंधित जानकारी ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त कर सकते है। इसके अतिरिक्त सभी जानकारी डिजिटल रूप से उपलब्ध होने से अब सिस्टम में पारदर्शिता भी आएगी।

RCCMS का फुल फॉर्म ?

Revenue Court Computerized Management System (RCCMS) इसे हिंदी में राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली के नाम से जाना जाता है।

राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली पोर्टल के माध्यम से नागरिक कौन कौन सी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं ?

इसमें राजस्व न्यायायलय से जुडी सभी सेवाओं को शामिल किया गया है। आप इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। जहाँ आप को विस्तार में सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश राज्य में कितने न्यायालय है ?

मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश राज्य में 2333 राजस्व न्यायालय है।

यदि आप को इस राजस्व न्यायालय कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन प्रणाली पोर्टल ((vaad.up.nic) पर किसी प्रकार की कोई समस्या या असुविधा होती है तो आप नीचे दिए गए ईमेल आईडी पते या फिर दी गयी हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

राजस्व परिषद ईमेल[email protected]
दूरभाष 91-522-2217155
फैक्‍स न. 91-522-2620485
पत्राचार का पता राजस्व परिषद केसर बाग लखनऊ – 226001

अगर आप ऐसे ही अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों से संबंधित लेखों को पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारी इस वेबसाइट – को www.mcpanchkula.org बुकमार्क कर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button