Raksha Bandhan 2022: जानिए तारीख, शुभ मुहूर्त और भद्रा काल का साया

रक्षा बंधन 2022 में 11 अगस्त को मनाया जाएगा। इस वर्ष भद्रकाल का साया रक्षा बंधन पर पड़ रहा है, शुभ मुहूर्त के समय पर ही रक्षाबंधन मनाएं।

रक्षाबंधन का शाब्दिक अर्थ रक्षा करने वाला बंधन है। हिन्दू पंचांग के अनुसार रक्षाबंधन का त्यौहार श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। प्रतिवर्ष रक्षाबंधन का त्यौहार अगस्त महीने में आता है। यह त्यौहार भाई-बहन के बीच अटूट प्यार और रिश्ते का प्रतीक माना जाता है। हर साल ही तरह इस साल भी राखी का त्यौहार अगस्त महीने में 11 तारीख को मनाया जाएगा। Raksha Bandhan 2022 का शुभ मुहूर्त कब से कब तक रहेगा और भद्रा काल का साया कब से कब तक रहेगा।

हरियाली, कजरी और हर तालिका तीज में क्या है अंतर?

Raksha Bandhan
Raksha Bandhan

इसकी पूरी जानकारी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से देने जा रहें है। इस लेख में दी गई जानकारी से आप रक्षाबंधन 2022 के शुभ मुहूर्त, भद्रा काल का साया और तारीख से जुडी समस्त जानकारी प्राप्त कर सकते है –

Raksha Bandhan 2022 तिथि और शुभ मुहूर्त

राखी का पर्व 11 अगस्त 2022 को श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाएगा। भद्रा काल का साया होने, ग्रहणकाल, सूतककाल और संक्रांति की स्थिति होने पर रक्षा बंधन का त्यौहार बिलकुल नहीं मनाया जाना चाहिए। इन दशाओं में कोई भी शुभ कार्य किया जाना वर्जित माना जाता है। रक्षा बंधन के दिन का शुभ मुहूर्त और तिथि हम आपको नीचे दी गई सारणी के माध्यम से बताने जा रहें है। जिसके बारे में आप सारणी में उपलब्ध जानकारी को पढ़कर जान सकते है। ये सारणी निम्न प्रकार हैं –

पूर्णिमा तिथि आरंभ 11 अगस्त, सुबह 10 बजकर 38 मिनट से 
पूर्णिमा तिथि की समाप्ति12 अगस्त. सुबह 7 बजकर 5 मिनट पर
शुभ मुहूर्त11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 मिनट से रात 9 बजकर 14 मिनट 
अभिजीत मुहूर्तदोपहर 12 बजकर 6 मिनट से 12 बजकर 57 मिनट तक
ब्रह्म मुहूर्तसुबह 04 बजकर 29 मिनट से 5 बजकर 17 मिनट तक 
अमृत कालशाम 6 बजकर 55 मिनट से रात 8 बजकर 20 मिनट तक
Raksha Bandhan

रक्षाबंधन पर रहेगा भद्रा काल का साया

शास्त्रों की माने तो भद्रा काल में राखी बांधना अशुभ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि अगर भद्रा काल में कोई भी कार्य किया जाए तो वह अशुभ होता है। हालांकि इसके अलावा ऐसा भी कहा जाता है भद्रा काल में किया जाने वाला कार्य कभी भी सफल नहीं होता है। भद्रा भगवान सूर्यदेव और माता छाया की पुत्री थी। शनिदेव भद्रा के भाई थे। ऐसा कहा जाता है जब भद्रा का जन्म हुआ तो वह जन्म लेते ही तबाही मचाने लगी और वह संसार को भी निगलने वाली थी। जहाँ कहीं भी पूजा-पाठ, यज्ञ, अनुष्ठान या कोई भी मांगलिक कार्य होता था भद्रा वहां जाकर उनके कार्य में बाधा उत्पन्न करती थी।

Raksha Bandhan 2022: जानिए तारीख, शुभ मुहूर्त और भद्रा काल का साया

इसी कारण भद्रा को अशुभ माना जाता है। जब भी भद्रा काल शुरू होता है उस समयवधि में किसी भी प्रकार का कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। इसी प्रकार रक्षाबंधन के दिन जब तक भद्रा का साया रहेगा तब तक कोई भी बहन अपने भाई के कलाई पर राखी नहीं बाँध सकती है। भद्रा काल का साया शुभ कार्यों के लिए अशुभ माना जाता है।

रक्षाबंधन 2022 भद्रा काल का साया कब से कब तक रहेगा ?

11 अगस्त 2022 को भद्रा काल का साया कब से कब तक रहेगा इसके बारे में हम आपको जानकारी देने जा रहें है। क्योंकि भद्रा काल का समय समाप्त होने के बाद ही आप राखी का त्यौहार मना सकते है। जानिए भद्रा काल का समय कब शुरू होगा और इसकी समाप्ति कब होगी। जानने के लिए आप नीचे दी गई सारणी में उपलब्ध सूचनाएं प्राप्त कर सकते है। ये सारणी निम्न प्रकार है –

रक्षाबंधन के दिन भद्रा काल की समाप्ति रात 8 बजकर 51 मिनट पर
रक्षाबंधन के दिन भद्रा पूंछ शाम 5 बजकर 17 मिनट से 6 बजकर 18 मिनट तक
रक्षाबंधन भद्रा मुखशाम 06 बजकर 18 मिनट से रात 8 बजे तक
Raksha Bandhan

Raksha Bandhan 2022 : बन रहे हैं चार शुभ योग

जानकारी के लिए बता दें 11 अगस्त 2022 को रक्षाबंधन के पर्व के शुभ दिन पर भद्रा काल का साया रहेगा लेकिन साथ ही साथ इस दिन राखी बाँधने के लिए चार शुभ योग भी बन रहें है। यहाँ हम आपको बताएंगे रक्षा बंधन 2022 के लिए कौन-कौन से चार शुभ योग बन रहें है। जानिये नीचे दिए गए बिंदुओं के माध्यम से –

  1. 11 अगस्त 2022 को सूर्योदय से लेकर दोपहर 3 बजकर 31 मिनट तक शुभ योग रहेगा। यह आयुष्मान योग रहेगा।
  2. दूसरा योग सुबह पांच बजकर 30 मिनट से लेकर शाम 6 बजकर 53 मिनट तक रहेगा। यह रवि योग रहेगा।
  3. तीसरा शुभ योग 11 बजकर 33 मिनट तक रहेगा। यह सौभाग्य योग होगा।
  4. चौथा और आखिरी शुभ योग रक्षाबंधन के दिन धनिष्ठा नक्षत्र में शोभन योग रहेगा।

Raksha Bandhan 2022 संबंधित कुछ प्रश्न और उत्तर

2022 में Raksha Bandhan कब मनाई जाएगी ?

साल 2022 में Raksha Bandhan का त्यौहार 11 अगस्त को मनाया जाएगा।

Raksha Bandhan का पर्व किस तिथि को मनाया जाता है ?

रक्षा बंधन का पर्व श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है।

रक्षाबंधन 2022 के कितने शुभ योग बन रहें है ?

रक्षा बंधन 2022 के चार शुभ योग बन रहें है।

11 अगस्त 2022 को राखी बाँधने के लिए शुभ मुहूर्त क्या रहेगा ?

राखी बांधने के लिए 11 अगस्त 2022 को शुभ मुहूर्त 11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 मिनट से रात 9 बजकर 14 मिनट तक रहेगा।

Raksha Bandhan के दिन भद्रा काल की समाप्ति कब होगी ?

राखी का त्यौहार भद्रा काल समाप्त होने के बाद ही मनाएं। जानकारी के लिए बता दें रक्षाबंधन के दिन भद्रा काल की समाप्ति रात 8 बजकर 51 मिनट पर होगी।

रक्षा बंधन के दिन ब्रह्म मुहूर्त कब से कब तक रहेगा ?

जानकारी के लिए बता दें ब्रह्म मुहूर्त सुबह 04 बजकर 29 मिनट से 5 बजकर 17 मिनट तक रहेगा।

जैसे की इस लेख में हमने आपसे Raksha Bandhan 2022: जानिए तारीख, शुभ मुहूर्त और भद्रा काल का साया से संबंधित समस्त जानकारी साझा की है। अगर आपको इन जानकारियों के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते है। आपके सभी सवालों के जवाब दिए जाएंगे। आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से सहायता मिलेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button