Article

Queen Elizabeth II Biography in Hindi| महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी ,निधन

Queen Elizabeth II Biography in Hindi- महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जन्म 21 अप्रैल 1926 को लंदन इंग्लैंड में हुआ। एलिजाबेथ यॉर्क के ड्यूक प्रिंस अल्बर्ट और उनकी पत्नी लेडी एलिजाबेथ बोवेस-लियोन की बड़ी बेटी थीं। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय यूनाइटेड किंगडम, ऑस्ट्रेलिया,  कनाडा,  बारबाडोस,न्यूज़ीलैण्ड, बहामास, जमैका,ग्रेनेडा, सोलोमन सन्त लूसिया, द्वीपसमूह, तुवालू, पापुआ न्यू गिनी,सन्त विन्सेण्ट और ग्रेनाडाइन्स, बेलीज़, अण्टीगुआ ,बारबूडा और सन्त किट्स नेविस की महारानी थी।

Queen Elizabeth II Biography in Hindi– महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जन्म 21 अप्रैल 1926 को लंदन इंग्लैंड में हुआ। एलिजाबेथ यॉर्क के ड्यूक प्रिंस अल्बर्ट और उनकी पत्नी लेडी एलिजाबेथ बोवेस-लियोन की बड़ी बेटी थीं। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय यूनाइटेड किंगडम, ऑस्ट्रेलिया,  कनाडा,  बारबाडोस,न्यूज़ीलैण्ड, बहामास, जमैका,ग्रेनेडा, सोलोमन सन्त लूसिया, द्वीपसमूह, तुवालू, पापुआ न्यू गिनी,सन्त विन्सेण्ट और ग्रेनाडाइन्स, बेलीज़, अण्टीगुआ ,बारबूडा और सन्त किट्स नेविस की महारानी थी। Queen Elizabeth II राष्ट्रमंडल 54 राष्ट्रों और राज्य क्षेत्रों की प्रमुख के आलावा ब्रिटिश सामग्री के रूप में english church की सर्वोच्च राज्यपाल भी थी।

Queen Elizabeth II Biography in Hindi| महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी ,निधन
Queen Elizabeth II Biography in Hindi| महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी ,निधन

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय राष्ट्रमंडल के 16 स्वतन्त्र सम्प्रभु देशों की संवैधानिक महारानी थी। महारानी का जन्म उस दौरान हुआ जब उनके दादा जॉर्ज पंचम का शासनकाल था। एलिज़ाबेथ का नामकरण 21 मई को यार्क के Top Pastor Cosmo Gordon Laing के द्वारा बर्मिंघम महल में प्रवेश करवाकर किया गया। उनके पिता राजकुमार एल्बर्ट राजा के दूसरे पुत्र थे, उनकी माता यॉर्क की डचेज़ स्कॉटिश अर्ल क्लाउडे बोव्स-ल्यॉन की छोटी बेटी थी।

वर्ष 1930 में एलिजाबेथ की बहन राजकुमारी मार्गरेट का जन्म हुआ, जिसके बाद दोनों बहनों को अपनी माँ और शिक्षिका मैरियन क्राफोर्ड की देखरेख में घर पर ही संगीत एवं इतिहास से संबंधी शिक्षा प्रदान की गयी। वर्ष 1950 में मैरियन क्राफोर्ड ने एलिजाबेथ और राजकुमारी मार्गरेट की The Little Princesses टाइटल से एक जीवनी प्रकाशित की। इस पुस्तक में एलिजाबेथ के घोड़ो एवं पालतू कुत्तों के प्रति लगाव और आज्ञाकारिता एवं जिम्मेदार स्वभाव का उल्लेख किया गया है।

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी (Queen Elizabeth II Biography in Hindi)

Queen Elizabeth II Biography in Hindi– एलिजाबेथ का जन्म लंदन में ड्यूक जॉर्ज षष्टम एवं राजमाता रानी एलिजाबेथ के घर में हुआ। निजी तौर पर एलिजाबेथ को शिक्षा के रूप में घर पर ही शिक्षित किया गया था। उनके पिता के द्वारा वर्ष 1936 में एडवर्ड अष्टम के शासन राज्य त्यागने के बाद राज ग्रहण किया गया। उस दौरान वह राज्य की उत्तराधिकारी हो गयी थी, क़्वीन एलिजाबेथ के द्वारा second World War के दौरान पब्लिक सर्विस में हिस्सा लेना शुरू किया जिसके बाद उनके द्वारा auxiliary regional service में हिस्सा भी लिया गया। इसके पश्चात वर्ष 1947 में उनकी शादी राजकुमार फिलिप से हुई। इनके चार बच्चे है चार्ल्स, राजकुमार एँड्रयू,ऐने,और राजकुमार एडवर्ड।

जॉर्ज किंग-VI के निधन के बाद ब्रिटेन को महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के रूप में एक नई महारानी मिली। ब्रिटेन से वह जब केन्या के लिए रवाना हुई तो उस समय केवल वह एक राजकुमारी थी। लेकिन जब वह लौटी तो 6 फरवरी 1952 को महारानी द्वितीय के रूप में एलिजाबेथ को नियुक्त किया गया। आधिकारिक रूप से 2 जून 1953 को उनका राज्य अभिषेक किया गया। एलिजाबेथ का पूरा नाम एलिजाबेथ एलेक्जेंड्रा मैरी विंडसर था। 25 वर्ष की आयु में महारानी एलिजाबेथ ने पिता की मृत्यु के बाद शासन काल संभाला। फ़िलिप एक ग्रीक राजकुमार थे जिनके परिवार को 1922 में तब ज़बरदस्ती देश से निकाल दिया गया था, जब वह शिशु थे

Queen Elizabeth II Biography in Hindi

नाम (Name)एलिजाबेथ एलेक्जेंड्रा मैरी
जन्मदिन (Birthday)21 अप्रैल 1926 लंदन, इंग्लैंड
मृत्यु की तारीख (Date of Death)08 सितम्बर 2022
मृत्यु की जगह (Place of Death)लंदन, इंग्लैंड
उम्र (Age)96 साल (साल 2022)
गृह नगर (Hometown)लंदन, इंग्लैंड
शिक्षा  (Educational)घर पर ही पढाई की थी
धर्म (Religion)चर्च ऑफ इंग्लैंड और
चर्च ऑफ स्कॉटलैंड
लम्बाई (Height)5 फीट
वजन (Weight)55 किलो
बालो का रंग( Hair Color)सफेद
आँखों का रंग (Eye Color)नीला
नागरिकता (Citizenship)ब्रिटिश
कुल संपत्ति (Net Worth)145 मिलियन डॉलर
वैवाहिक स्थिति Marital Statusविधवा
शादी की तारीख (Marriage Date)साल 1947
पेशा (Occupation)यूनाइटेड किंगडम, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया
और न्यूजीलैंड की रानी और राष्ट्रमंडल की प्रमुख
Queen Elizabeth

(Smriti Mandhana) भारत का नाम रोशन कर रहीं स्मृति मंधाना आखिर कौन हैं?

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की शादी (Queen Elizabeth II Biography in Hindi)

एलिजाबेथ एलेक्जेंड्रा मैरी की शादी राजकुमार फिलिप के साथ वर्ष 1947 में हुई। इनकी शादी एक शाही विवाह के रूप में हुई थी। महारानी एलिजाबेथ ने बताया की 13 वर्ष की आयु में उन्हें राजकुमार फिलिप से प्यार हो गया था। जिसके बाद उनकी प्रेमपत्र एक दूसरे को भेजना शुरू कर दिया। 1939 में उन दोनों की मुलाक़ात शाही नौसेना महाविद्यालय में हुई। जिसके बाद वर्ष 1947 में उनकी शादी राजकुमार फिलिप से तय हो गयी।

फिलिप एक ग्रीक राजकुमार थे जिनके परिवार को 1922 में जबरदस्ती देश से निकाल दिया गया जब वह छोटे थे। वह रॉयल नौसेना में एक रॉयल अधिकारी कैडेट थे। आर्थिक रूप से फिलिप काफी कमजोर थे ,वह एक विदेशी थे। कुछ लोगों ने उनके विदेशी होने पर अधिक विरोध किया था। उनकी बहनों ने नाजी पार्टी से संबंधी रखने वाले अधिकारीयों से शादी की थी। जिसके बाद एलिजाबेथ की माँ भी उनकी बहनों के संबंध जर्मन से होने पर उन्हें पसंद नहीं करती थी। हालाँकि बाद में फिलिप के प्रति उनकी भावना बदल गयी।

महारानी एलिजाबेथ II वंशज
चिल्ड्रन नाम जन्म विवाह की तिथि जीवनसाथीउनके बच्चेउनके नाती-पोते
चार्ल्स, वेल्स के राजकुमार14 नवम्बर 194829 जुलाई 1981
तलाक 28 अगस्त 1996
लेडी डाएना स्पेन्सरराजकुमार विलियम, कैम्ब्रिज के ड्यूक
वेल्स के राजकुमार हैरी
कैम्ब्रिज के राजकुमार जॉर्ज
कैम्ब्रिज की राजकुमारी शार्लट
ऐनी, प्रिंसेस रॉयल15 अगस्त 195014 नवम्बर 1973
तलाक 28 अप्रैल 1992
मार्क फिलिप्सपीटर फिलिप्स
ज़ारा फिलिप्स
सावन्ना फिलिप्स
आइला फिलिप्स
मिआ टिन्डल
12 दिसम्बर 1992टिमोथी लॉरेंस
राजकुमार एंड्रू, यॉर्क के ड्यूक19 फरवरी 196023 जुलाई 1986
तलाक 30 मई 1996
सारा फर्ग्यूसनयॉर्क की राजकुमारी बियैट्रिस
यॉर्क की राजकुमारी यूजीनी
राजकुमार एडवर्ड, वेसेक्स के अर्ल10 मार्च 196419 जून 1999सोफी, वेसेक्स की काउंटेसलेडी लुईज़ विंडसर
जेम्स, वाइकाउंट सेवर्न
Queen Elizabeth

Queen Elizabeth II का शासन काल

वर्ष 1951 में पिता का स्वास्थ्य खराब रहने के बाद से महारानी एलिजाबेथ ने शासन काल संभालना शुरू कर दिया था। स्वास्थ्य खराब होने के कारण अपने पिता की अनुपस्थिति में वह सामूहिक समारोह में उनका Representation करती थी। इसी दौरान वर्ष 1951 अक्टूबर माह में कनाडा ने अपनी सरकारी यात्रा के समय उनकी personal assistant ने अपने साथ उनके रानी होने का एक declaration ले गयी। ताकि यदि यात्रा के दौरान राजा की मृत्यु होती है तो कनाडा की सरकार के द्वारा एलिजाबेथ को UK का शासक माना जाये।

इसके बाद वर्ष 1952 में एलिजाबेथ और फिलिप केन्या होते हुए ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के दौरे पर गए। 6 February 1952 को केन्या में अपने आवास पहुंचने पर उन्हें अपने पिता की मौत की खबर मिली। शासन संभालने के लिए उन्हें राजसी नाम चुनने के लिए कहा गया जिसके बाद उन्होंने एलिजाबेथ नाम को ही रखे रहने के लिए कहा। राज्यभीषेक होने तक उन्हें घोषित रानी माना गया और लंदन वापस लौटने पर वह अपने पति फिलिफ के साथ बकिंघम पैलेस में रहने के लिए चली गयी।

जैसे की आप सभी जानते के शादी के बाद सभी लड़कियां पति का सरनेम रख लेती है। राज्य अभिषेक के दौरान सभी को यह लगा था की शाही घराने का नाम विंडसर राजघराना से बदलकर उनके पति के उपनाम से माउंटबेटन राजघराना हो जायेगा। लेकिन एलिजाबेथ की दादी रानी मैरी ने और ब्रिटिश प्रधानमंत्री विस्टन चर्चिल ने विंडसर राजघराना रखे रहने पर ही अत्यधिक दबाव दिया। इसके बाद एलिजाबेथ ने 9 अप्रैल वर्ष 1952 में विंडसर को ही शाही घराना बने रहने की घोषणा की। इस मामले में ड्यूक ने शिकायत भी की वह देश में एकमात्र ऐसे पुरुष है जो अपने बच्चों को अपना नाम नहीं दे सकते है।

इसके बाद वर्ष 1953 में रानी मैरी की मृत्यु हुई। 1955 में चर्चिल के रेजिनेशन लैटर देने के बाद एलिजाबेथ और फिलिप के बेटो वा पुरुष वंशजों जिन्हे किसी भी तरह की कोई शाही उपाधियाँ नहीं मिली उनके लिए बाद में माउंटबेटेन-विंडसर का उपनाम अपनाया गया।

राष्ट्रकुल का विस्तार

एलिजाबेथ के जन्म के बाद से ही British Empire का राष्ट्रकुल के देशों में कन्वर्ट होना जारी रहा। वर्ष 1952 में उनके राज्य रोहण के बाद विभिन्न इंडिपेंडेंट नेशन के प्रेसीडेंट के रूप में उनका रोल स्थापित हो चुका था। वर्ष 1953-54 के दौरान रानी और उनके पति 6 महीनों की एक world tour पर निकले ऑस्ट्रेलिया व न्यूज़ीलैंड पर शासन के दौरान वहां जाने वाली वह पहली शासक बनी। अपने शासन काल के समय में एलिजाबेथ ने बहुत सारे देशों वा राष्ट्रकुल राष्ट्रों का ऑफिसियल टूर किया। हेड ऑफ़ स्टेट के रूप में सबसे अधिक फोर्जिन ट्रिप करने वाली शासक है।

सबसे अधिक जीवन काल महारानी एलिजाबेथ

वर्ष 2007 में एलिजाबेथ 81 वर्ष की आयु में दिवंगत हुई। यह क़्वीन विक्टोरिया को पीछे छोड़ने वाली सबसे अधिक उम्र तक जीवित रहने वाली महारानी बनी। Guinness Book of World Records के अनुसार एलिजाबेथ राष्ट्रमंडल समूह के सबसे अधिक देशों में सिक्को में अपनी पिक्चर वाली महारानी भी है। विरासत के अनुक्रम में 3 स्थान पर थी ,वह प्रिंस अल्बर्ट की पहली संतान थी। किंग जॉर्ज पंचम की मौत के बाद एलिजाबेथ के चाचा एडवर्ड अष्टम ने शासन से अटैचमेंट छोड़ दिया ताकि वह अमेरिकी तलाक शुदा वैलिस सिम्प्सन से शादी कर सके।

जिसके पश्चात महारानी एलिजाबेथ के पिता किंग जॉर्ज षष्टम राजा बने ,पिता की मृत्यु के बाद ही एलिजाबेथ ने राजशाही का पद ग्रहण करके कार्य भार संभाला। महारानी एलिजाबेथ ब्रिटेन की वह पहली एम्प्रेस थी जिनके द्वारा सबसे पहले ईमेल का इस्तेमाल किया गया था। उनके द्वारा चाँद पर एक सन्देश भेजा गया। महारानी एलिजाबेथ लम्बे समय तक शासन करने वाली क़्वीन की लिस्ट में शामिल नहीं है। यह उपलब्धि अभी भी थाईलैंड के राजा भूमिबल अदुल्यादेज के पास है जो वर्ष 1946 से शासन संभाल रहे है।

Queen Elizabeth का निधन

21 अप्रैल 1926 को महारानी एलिजाबेथ का जन्म हुआ था ,जिसके बाद 8 सितम्बर वर्ष 2022 को एलिजाबेथ जी का निधन हो गया। 96 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। एलिजाबेथ दुनिया की सबसे अधिक विभिन्न देशों का भ्रमण करने वाली पहली शासक है। मात्र 25 वर्ष की आयु से उन्होंने शासन का कार्य संभालना शुरू कर दिया था

महारानी एलिजाबेथ की मृत्यु के बाद उनके बड़े बेटे चार्ल्स, वेल्स के राजकुमार को यह पद ग्रहण करने का अवसर मिलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button