एनसीसी की फुल फॉर्म क्या है ? | NCC FULL FORM IN HINDI

विद्यार्थियों को सैन्य सेवाओं से जोड़ने के लिए सरकारी स्कूलों एवं कालेजों में एनसीसी के तहत प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। जिसके परिणामस्वरूप कोर में प्राप्त उपलब्धियों के आधार पर चयन हेतु सैन्य सेवा में उम्मीदवारों को वरीयता दी जाती है। तो आइये जानते है NCC से जुड़ी जानकारी को विस्तार रूप में की NCC ka full form क्या है ?

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
एनसीसी की फुल फॉर्म
NCC का पूरा नाम

एनसीसी की फुल फॉर्म क्या है ?

NCC ka Full Form”नेशनल कैडेट कोर” (National Cadet Corps) है। यह स्कूल के छात्रों तथा कॉलेज के छात्रों को सैन्य प्रशिक्षण प्रदान करती है। NCC भारतीय सशस्त्र बलों की एक युवा शाखा है जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में है। पूरे भारत में एनसीसी एक ऐसा संगठन है विद्यालयों, महाविद्यालयों तथा विश्वविद्यालयों से छात्रों की भर्ती कराता है।

एनसीसी के तहत कैडेट को छोटे हथियारों का प्रशिक्षण दिया जाता है। एनसीसी के प्रतीक चिन्ह में तीन रंग होते हैं लाल, हल्का नीला तथा गहरा नीला, यह तीनों रंग क्रमशः भारतीय सेना, भारतीय नौसेना तथा भारतीय वायुसेना का प्रतिनिधित्व करते हैं। और इस चिन्ह में 17 कमल 17 निदेशालयों की ओर इशारा करते हैं।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इसे भी देखें >>> join Indian army | आर्मी भर्ती रैली

वर्तमान में NCC के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह जी हैं। नेशनल कैडेट कोर के गीत का शीर्षक “हम सब भारतीय हैं” है, जिसे सुदर्शन फ़क़ीर जी द्वारा लिखा गया है।

आर्टिकल NCC FULL FORM IN HINDI
स्थापना वर्ष 1948 
वर्तमान वर्ष 2023
महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह जी
एनसीसी का गीत का शीर्षक“हम सब भारतीय हैं”
NCC का पूरा नाम “नेशनल कैडेट कोर”
(National Cadet Corps)
आधिकारिक वेबसाइट indiancc.nic.in
लाभार्थी स्कूल तथा कॉलेज के विद्यार्थी
मुख्यालय नई दिल्ली
आदर्श वाक्य “एकता और अनुशाशन”

नेशनल कैडेट कोर (National Cadet Corps) का इतिहास

एनसीसी फुल फॉर्म भारत में NCC का गठन 15 जुलाई सन 1948 में हुआ था, इसे भारतीय रक्षा अधिनियम 1917 के तहत सेना में कर्मचारियों की कमी को पूरा करने के लिए बनाया गया था। 1920 में भारतीय प्रादेशिक अधिनियम पारित किया गया था तो विश्वविद्यालय कोर को विश्वविद्यालय प्रशिक्षण कोर (UTC) के द्वारा बदल दिया गया।

NCC को विश्वविद्यालय प्रशिक्षण कोर का उत्तराधिकारी माना जाता है। UOTC को अंग्रेजों के द्वारा 1942 में स्थापित किया गया था। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान UOTC कभी भी अंग्रेजों के अपेक्षाओं पर खरा नहीं उत्तर पाया, जिस कारण उनको यह विचार आया की इससे बेहतर योजना बनानी चाहिए जिससे की शांति समय में भी युवाओं को बैठत प्रशिक्षित कर सके।

इसके बाद पंडित एचएन कुंजरू की अध्यक्षता में एक समिति बनाई गयी जिसमे राष्ट्रीय स्तर पर स्कूल तथा कॉलेजो में एक कैडेट संगठन स्थापित करने की एक पेशकश की। बाद में “नेशनल कैडेट कोर” अधिनियम को गवर्नर जनरल के द्वारा स्वीकार कर लिया गया और 15 जुलाई सन 1948 में NCC का गठन कर लिया गया।

NCC प्रमाण पत्र और परीक्षा (NCC FULL FORM IN HINDI)

NCC के तहत आपको तीन सर्टिफिकेट प्रदान किए जाते है, इनके बारे में हमारे द्वारा नीचे बताया गया है:-

सर्टिफिकेट – A: यह एनसीसी के कैडेटों के द्वारा कक्षा 8 और 9 के दौरान लिया जा सकता है। उन कक्षाओं को पास करने के बाद आपको यह सर्टिफिकेट प्रदान नहीं किया जा सकता। उम्मीदवार को यह सुनिश्चित करना होगा कुल प्रशिक्षण अवधि के 75% भाग में भाग लिया हो तथा उम्मीदवार ने वार्षिक प्रशिक्षण शिवर में प्रतिभाग किया हो।

सर्टिफिकेट – B: यह कैडेटों के द्वारा कक्षा 10 के बाद जो डिग्री के लिए अध्ययन कर रहे हैं उनको प्रदान किया जाता है। उम्मीदवार को एनसीसी के पहले और दूसरे वर्ष के लिए निर्धारित पाठ्यक्रम के कुल प्रशिक्षण अवधि के 75% भाग में भाग लेना आवश्यक है और साथ में यह भी सुनिश्चित करना है की एक वार्षिक प्रशिक्षण शिवर में भाग लेना होगा। जिन उम्मीदवारों के पास A- सर्टिफिकेट होगा उन्हें 10 बोनस अंक दिए जाएंगे।

सर्टिफिकेट – C: यह सर्टिफिकेट NCC कैडेटों के लिए एक उच्चतम स्तर का सर्टिफिकेट है, इसे आप तीसरे साल के प्रशिक्षण में अथवा तीसरे साल के डिग्री कोर्स में भी प्राप्त कर सकते हैं। जिन भी उम्मीदवारों के पास B- सर्टिफिकेट होगा वह इसे 12th के बाद अपनी डिग्री के प्रथम वर्ष में भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए उम्मीदवार को यह सुनिश्चित करना होगा की कैडेट ने दो वर्ष का प्रशिक्षण शिवर प्राप्त किया हो।

इसे भी देखें >>> 10वीं के बाद सेना में भर्ती, जानें आवेदन और चयन प्रक्रिया

NCC का झंडा

1954 में भारत सरकार के द्वारा Ncc के झंडे को पेश किया गया जिसमे 3 रंगो को दर्शाया गया था। यह तीन रंग लाल, हल्का नीला तथा गहरा नीला है जिसमे लाल रंग भारतीय थल सेना को हल्का नीला रंग भारतीय वायु सेना को तथा गहरा नीला रंग भारतीय नौसेना को प्रदर्शित करता है। इस झंडे में 17 कमलो की एक माला है जो की एनसीसी की 17 निदेशालयों का प्रतिनिधित्व करता है। इस झंडे के सबसे नीचे NCC का आदर्श वाक्य “एकता और अनुशासन” लिखा होता है।

NCC का झंडा

NCC का आदर्श वाक्य और लक्ष्य

NCC के आदर्श वाक्य के लिए चर्चा 11 अगस्त 1978 में आयोजित 11 वीं केंद्रीय सलाहकार बैठक (CAC) में शुरू हुई थी। उस समय पर “कर्तव्य” “कर्तव्य और ज्ञान” “कर्तव्य, एकता और अनुशासन” जैसे कई आदर्श वाक्यों को चुना गया था।

बाद में 12 वीं केंद्रीय सलाहकार बैठक (CAC) में एनसीसी के आदर्श वाक्य को “एकता और अनुशासन” को चुना गया। NCC का लक्ष्य है की देश के विभिन्न हिस्सों से आने वाले युवाओं को साथ में लाना तथा नागरिकों को अनुशासित तौर तरीकों में ढालना।

NCC से जुड़े कुछ प्रश्न एवं उत्तर (FAQ)

ncc full form?

NCC का पूरा नाम “नेशनल कैडेट कोर” (National Cadet Corps) है। यह स्कूल के छात्रों तथा कॉलेज के छात्रों को सैन्य प्रशिक्षण प्रदान करती है।

एनसीसी का गठन कब हुआ ?

भारत में NCC का गठन 15 जुलाई सन 1948 में हुआ था, इसे भारतीय रक्षा अधिनियम 1917 के तहत सेना में कर्मचारियों की कमी को पूरा करने के लिए बनाया गया था।

NCC के वर्तमान में कितने निदेशालय हैं ?

NCC के वर्तमान में 17 निदेशालय हैं।

NCC के वर्तमान में महानिदेशक कौन हैं ?

NCC के वर्तमान में महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह जी हैं।

NCC कैडेट को कितनी सैलेरी मिलती है ?

NCC कैडेट की सैलेरी जानने के लिए आपको NCC की ऑफिसियल वेबसाइट (यहां क्लिक करें) पर जाना होगा। यहां आपको सभी रेंको के हिसाब से सैलेरी दिख जाएगी।

Leave a Comment