मनरेगा पशु शेड योजना 2024 ऑनलाइन फॉर्म | MGNREGA Pashu Shed Apply Online

भारत में ऐसा कोई भी राज्य नहीं है जहाँ कृषि करने वाले किसान न हो एवं प्रत्येक किसान खेती के साथ-साथ पशुपालन भी करता है। लेकिन किसानो की दयनीय दशा से तो सभी अवगत है आर्थिक कमी के कारण पशुओं का ज्यादा ध्यान न रख पाने के कारण पशुओं की जनसंख्या बहुत कम होती जा रही है इसलिए भारत सरकार ने पशुओं को संरक्षित रखने के लिए MGNREGA Pashu Shed संचालित की है। जिसमे पशु पालको को सब्सिडी के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे की पशुओं की देखभाल में कोई कमी न रहे।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

अगर आप भी जानना चाहते है कि इस योजना के तहत सरकार पशुपालको को कितने रुपयों की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी एवं योजना का उद्देश्य, लाभ, पात्रता एवं आवेदन प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़े।

मनरेगा पशु शेड योजना ऑनलाइन फॉर्म | MGNREGA Pashu Shed Apply Online
MGNREGA Pashu Shed Apply Online

MGNREGA Pashu Shed

MGNREGA Pashu Shed स्कीम के अंतर्गत सरकार पशुपालको को आर्थिक रूप से सहयोग करेगी, यह योजना भारत के कुछ राज्यों पंजाब मध्यप्रदेश उत्तरप्रदेश और बिहार में संचालित किया गया है। योजना के अंतर्गत सभी MGNREGA कार्ड वाले पशुपालको को सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता दी जाएगी जिससे की वह आर्थिक रूप से मजबूत बनेगें। स्कीम के तहत सरकार तीन पशु पालने वाले पशु पालक को 60,000 से 80,000 रुपयों तक की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और 4 या 4 से अधिक पशु पालने वाले पशुपालक को 1 लाख 60 हजार रुपयों तक की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

यह वित्तीय सहायता सरकार पशुओ की बेहतर देखभाल के लिए पशुपालक को प्रदान करेगी। जिसकी सहायता से वह अपने गाय, भैंस, बकरी, भेड़ और मुर्गी इत्यादि के लिए बेहतर भोजन, स्थान, शेड, दवाई एवं यूरिन टेंक इत्यादि का प्रबंध कर सकें।

मनरेगा पशु शेड योजना के महत्वपूर्ण बिंदु

आर्टिकल मनरेगा पशु शेड योजना ऑनलाइन फॉर्म |
योजना मनरेगा पशु शेड योजना
घोषणा कब की गई 2023
घोषणा किसने की केंद्र सरकार द्वारा 
राज्य बिहार, उत्तरप्रदेश, पंजाब एवं मध्यप्रदेश
उद्देश्य पशुपालन को प्रोत्साहन प्रदान करना
लाभार्थी बिहार, उत्तरप्रदेश, पंजाब एवं मध्यप्रदेश राज्य के मूल मनरेगा पशुपालक निवासी
लाभ पशु पलकों को वित्तीय सहायता प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट अभी उपलब्ध नहीं है

हिमांचल बकरी पालन योजना

मनरेगा पशु शेड योजना का उद्देश्य

पर्यावरण में संतुलन के लिए पशु और मनुष्य दोनों का सामान महत्त्व है बहुत से मनुष्य पशुओ से प्राप्त दूध और ऊन का व्यवसाय करके ही अपना जीवन यापन करते है इसके लिए आवश्यक है की पशुओ की स्थिति अच्छी हो, उन्हें अच्छा खान -पान मिले इस बात का ध्यान रखना अति आवश्यक है लेकिन ऐसे बहुत से पशुपालक है जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है।

जिसके कारण वह अपने भोजन की व्यवस्था ही बहुत मुश्किल से कर पाते है तो अपने पशुओ की देखभाल करना उनके लिए बहुत मुश्किल हो गया है जिसके कारण उनकी जनसँख्या कम होती जा रही है एवं पशुपालको की आर्थिक स्थिति और भी दयनीय होती जाती है इसके निवारण एवं पशुपालको की आर्थिक सहायता के लिए सरकार ने मनरेगा पशु शेड योजना को संचालित किया है।

बेरोजगारी जैसी बड़ी समस्या को दूर करना भी इस योजना का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य है जैसा की हम सभी जानते ही है 2019 में पूरी दुनिया मे कोरोना महामारी फैली गई अपने घरों से दूर जाकर नौकरी करने वाले लोगो की नौकरी चली गई थी और उन्हें पुनः अपने घर आना पड़ा था। कोरोना के दौरान भारत में बेरोजगारी अत्यधिक बढ़ गई थी। जिसे कुछ हद तक नियंत्रित करने के लिए सरकार ने बहुत सी योजनाएँ संचालित की है उनमें से एक MGNREGA Pashu Shed स्कीम भी हैं। इस योजना के तहत लोगो को रोजगार मिलेगा और बेरोजगारी को कम किया जा सकेगा।

MGNREGA Pashu Shed benefits

मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत पशुपालक किसानो को लाभ प्राप्त होगा यह लाभ कुछ इस प्रकार है :-

  • स्कीम के अंतर्गत पशुओं की संख्या में वृद्धि होगी।
  • MGNREGA Pashu Shed योजना का लाभ पंजाब मध्यप्रदेश उत्तरप्रदेश और बिहार राज्यों के मूल निवासी ले सकेंगे।
  • योजना को जल्द से जल्द पुरे भारत के सभी राज्यों में जारी करने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे की भारत का प्रत्येक व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सके।
  • पशुओं की देखभाल अच्छे से होगी तो पशुपालको को भी लाभ होगा।
  • पशुपालको की आय में वृद्धि होगी इससे उनकी आर्थिक स्थिति बेहतर हो जाएगी।
  • रोजगार में भी वृद्धि होगी, जिससे किसानो को अपनी खेती और पशुओं को छोड़कर दूसरे शहर रोजगार के लिए नहीं जाना पड़ेगा।
  • योजना के तहत पशुपालक के पास कम से कम तीन पशु होना आवश्यक है।
  • भारत में कुछ ऐसे परिवार भी है जो अपने जीवन यापन के लिए पशुपालक को व्यवसाय बना लेते है उन्हें योजना के माध्यम से वित्तीय परेशानियों से राहत मिलेगी।
  • पशुओं का अधिक ध्यान रखा जाएगा तो वह अधिक दूध देंगे, जिससे की व्यवसाय में भी वृद्धि होगी।
  • 3 पशुवाले पशुपालको को सरकार द्वारा 60,000 रुपयों की सब्सिडी दी जाएगी ।
  • 4 या 4 से अधिक पशुवाले पशुपालक को सरकार द्वारा 1,60,000 रुपयों की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

MGNREGA Pashu Shed सब्सिडी की राशि कितनी है ?

भारत सरकार ने मनरेगा पशु शेड योजना के अन्तर्गत पशुपालको के लिए बहुत अच्छी वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रयास किया है। स्कीम के पात्र बनने के लिए प्रत्येक आवेदक के पास कम से कम तीन पशु होना आवश्यक है। क्योकि योजना की शर्तों के अनुसार 3 पशु पालने वाले आवेदक को सरकार की तरफ से 60,000 से 80,000 रुपयों तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। आवेदक के पास अगर 4 या उससे अधिक पशु है तो सरकार उन्हें 1,60,000 तक की धन सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

मनरेगा पशु शेड योजना के पात्रताये

MGNREGA Pashu Shed documents के अंतर्गत सरकार द्वारा निर्धारित की गई कुछ सीमाएं है जिनक पालन करना आवश्यक है यह पात्रताएं निम्नलिखित है :-

  • आवेदनकर्ता भारत के राज्यों पंजाब मध्यप्रदेश उत्तरप्रदेश और बिहार का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • आवेदक के पास कम से कम तीन पशु होने आवश्यक है।
  • योजना के तहत केवल वह व्यक्ति आवेदन कर सकते है जो लम्बे समय से पशुपालन करते आ रहे हो।
  • स्कीम का लाभ ऐसे युवा भी उठा सकते है जिनकी लॉकडाउन के समय नौकरी चली गई हो और अब उन्हें कोई अच्छी नौकरी न मिल रही हो।
  • आवेदनकर्ता का जीवन पशुपालन पर ही जीवन निर्भर हो तो वह भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।

MGNREGA Pashu Shed documents

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पास पोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मनरेगा जॉब कार्ड
  • मोबाईल नम्बर
  • बैंक डिटेल्स

डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें

MGNREGA Pashu Shed online apply process

मनरेगा पशु शेड योजना में ऑनलाइन आवेदन करने से संबंधित अभी कोई आधिकारिक पोर्टल लॉन्च नहीं किया गया है। ऑनलाइन आवेदन करने से संबंधित लाभार्थी नागरिकों को अभी कुछ समय का इन्तजार करना होगा। योजना से संबंधित ऑनलाइन आवेदन आधिकारिक नोटिस जारी होने पर हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को साझा करेंगे। आप आवेदन से संबंधित जानकारी के लिए समय-समय पर हमारे इस आर्टिकल को चेक करते रहें।

मनरेगा पशु शेड योजना ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

मनरेगा पशु शेड योजना में ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया कुछ इस प्रकार से निम्नवत है।

  • सर्वप्रथम आपको आवेदन के लिए बैंक से या ऑनलाइन माध्यम से फॉर्म का प्रिंट निकलवा लेना है।
  • अब आवेदनकर्ता उसमे मांगी गई सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक दर्ज दीजिए।
  • सभी जानकारियों को फॉर्म में दर्ज करने के बाद सभी निजी दस्तावेज फॉर्म से अटैच कर दीजिए।
  • अब फॉर्म को पुनः उसी बैंक में जाकर जमा कर दीजिए जहाँ से आपने फॉर्म प्राप्त किया था।
  • अब अधिकारी आपके द्वारा जमा किये गए दस्तावेजों की ध्यान पूर्वक जांच करेंगे।
  • सभी जानकारियों के सही होने पर आपको लाभ प्रदान कर दिया जायेगा।
  • इस प्रकार आपकी मनरेगा पशु शेड योजना की ऑफलाइन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

मनरेगा पशु शेड योजना से संबंधित प्रश्न-उत्तर

MGNREGA Pashu Shed का उद्देश्य क्या है ?

MGNREGA Pashu Shed का उद्देश्य पशुपालन को प्रोत्साहन प्रदान करना है।

मनरेगा पशु शेड योजना के तहत पशुपालको को कितनी रुपए सब्सिडी मिलेगी ?

मनरेगा पशु शेड योजना के तहत पशुपालको को 160000 रुपए तक की सब्सिडी मिलेगी।

MGNREGA Pashu Shed scheme के लाभार्थी कौन-कौन है ?

MGNREGA Pashu Shed के लाभार्थी भारत के पशुपालक किसान।

मनरेगा पशु शेड योजना आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

मनरेगा पशु शेड योजना आधिकारिक वेबसाइट अभी उपलब्ध नहीं है।

MGNREGA Pashu Shed scheme के तहत पशुपालक के पास कितने पशु होने आवश्यक है ?

MGNREGA Pashu Shed scheme के तहत पशुपालक के पास तीन पशु होने आवश्यक है।

Leave a Comment