समग्र गव्य विकास योजना 2023: Gavya Vikas Yojana ऑनलाइन आवेदन

दोस्तों आज हम बिहार राज्य की समग्र गव्य विकास योजना की जानकारी साझा करने जा रहे है, जैसा की हम जानते ही है की बिहार की सरकार किसानो और बेरोजगार नागरिको के कल्याण के लिए आए दिन योजनाए संचालित करती रहती है। इस Gavya Vikas Yojana के माध्यम से भी राज्य सरकार नागरिको को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करेगी।

समग्र गव्य विकास योजना : Gavya Vikas Yojana ऑनलाइन आवेदन
समग्र गव्य विकास योजना

जिससे राज्य के किसान और बेरोजगार नागरिक अपना स्वरोजगार स्थापित कर सकेगें। अगर आप भी बिहार राज्य के नागरिक है और योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो योजना की पात्रता मुख्य दस्तावेज एवं आवेदन की प्रक्रिया से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को यहाँ विस्तार रूप से दिया गया है ,अतः योजना का लाभ लेने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

समग्र गव्य विकास योजना

Samagra Gavya Vikas Yojana का शुभारम्भ बिहार राज्य सरकार द्वारा किसानो और बेरोजगार नागरिको के कल्याण के लिए किया गया है। किसान खेती के साथ-साथ पशुपालन भी करते है जिस पर उनका जीवन निर्भर रहता है। योजना के माध्यम से सरकार दुधारू पशुपालन के लिए 2 लाख तक की वित्तीय सहायता प्रदान करेंगे। स्कीम की सहायता से राज्य के किसानो को आत्मिर्भर बनाया जायेगा।

योजना के अंतर्गत राज्य के पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के नागरिक को राज्य सरकार द्वारा 75 % की सब्सिडी प्राप्त होगी एवं अन्य जाति के नागरिको को राज्य सरकार द्वारा 50 % की सब्सिडी प्राप्त होगी।

Gavya Vikas Yojana Highlights

योजना समग्र गव्य विकास योजना
किसके द्वारा आरम्भ की गई है बिहार राज्य सरकार द्वारा
राज्य बिहार
उद्देश्य राज्य के सभी बेरोजगार नागरिको को स्वरोजगार स्थपित करवाना
लाभ राज्य सरकार की ओर से वित्तीय सहायता
लाभार्थी बिहार राज्य के नागरिक
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन माध्यम
आधिकारिक वेबसाइट  dairy.ahdbihar.in

इसे भी देखें :- बिहार दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म

समग्र गव्य विकास योजना का उद्देश्य

Gavya Vikas Yojana से राज्य सरकार का उद्देश्य राज्य के सभी वर्गीय किसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करना है जिससे की वह केवल खेती पर निर्भर न रहे इसके साथ साथ वह अपना पशुपालन का कार्य भी कर सकते है जिससे उनका आर्थिक सुधार हो सकेगा साथ ही उनको पशुपालन की ओर आकर्षित भी किया जायेगा जिसके माध्यम से उनकी आय दोगुनी हो सकेगी। राज्य के कृषक भाइयों को सरकार सब्सिडी के रूप में सहायता प्रदान करेगी, यह सब्सिडी की राशि सीधे आवेदक के बैंक खाते में जमा करवा दी जाएगी।

Gavya Vikas Yojana benefits

  • Gavya Vikas Yojana के माध्यम से राज्य में रोजगार के अवसरों को बढ़ाया जायेगा।
  • योजना के अंतर्गत राज्य के पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के नागरिक को राज्य सरकार द्वारा 75 % की सब्सिडी प्राप्त होगी।
  • अन्य जाति के नागरिको को राज्य सरकार द्वारा 50 % की सब्सिडी प्राप्त होगी।
  • ऐसे व्यक्ति जो पशुपालन के क्षेत्र में अपना स्वरोजगार स्थापित करना चाहते है उन्हें राज्य सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिएआपके पास कम से कम 2-4 दुधारू पशुओं होने आवश्यक है तभी आपको सब्सिडी का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
  • स्कीम के अंतर्गत राज्य के बेरोजगार युवा, महिला और किसान आवेदन करके लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • राज्य के प्रत्येक नागरिक पशुपालन क्र लिए आकर्षित होंगे एवं पशुओं का बेहतर तरीके से ध्यान रखा जायेगा।
  • समग्र गव्य विकास योजना के अंतर्गत राज्य सरकार किसानों को 2 लाख या उससे अधिक की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।
  • योजना में आवेदन करने का मोड ऑनलाइन निर्धारित किया गया है। जिससे राज्य के नागरिकों को सरकारी दफ्तरों के चक्कर न लगाने पड़े और उनके समय की भी बचत हो सके।
  • स्कीम के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा दी गई वित्तीय सब्सिडी की राशि सीधा आवेदक के बैंक अकाउंट में जमा की जाएगी।

समग्र गव्य विकास योजना में लागत शुल्क

स्कीम के अंतर्गत प्राप्त आर्थिक सहायता का विवरण –

क्र.संख्याअवयवलागत मूल्यअन्य पिछड़ा वर्ग/अनुसूचित जाति/जनजातिअन्य वर्गों के लिए
1.2 दुधारू मवेशी1,60,0001,20,00080,000
2.4 दुधारू मवेशी3,33,4002,53,800/1,69,200

समग्र गव्य विकास योजना की पात्रताए

  • समग्र गव्य विकास योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक का बिहार राज्य का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • योजना का लाभ केवल पशु पलकों को ही दिया जायेगा।
  • योजना का पात्र राज्य के महिला और पुरुष किसान है।
  • स्कीम में आवेदन करने की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष है।
Gavya Vikas Yojana important documents
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • बैंक खाते की डिटेल्स
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बिहार राज्य का स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाईल नंबर
  • डेयरी स्थापित करने के लिए जमीन के दस्तावेज

इसे भी पढ़े :-बिहार के वर्तमान में शिक्षा मंत्री कौन है?

समग्र गव्य विकास योजना की आवेदन प्रक्रिया

  • सर्प्रथम आपको Samagra Gavya Vikas Yojana की आधिकारिक वेबसाइट  dairy.ahdbihar.in को ओपन करना होगा।
  • अब आपके सामने आधिकरिक वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जायेगा।
  • अब आपके होम पेज पर Official Login का विकल्प दिखाई देगा क्लिक कर दीजिये। समग्र गव्य विकास योजना : Gavya Vikas Yojana ऑनलाइन आवेदन
  • अब आपके सामने वेबसाइट का नया पेज ओपन हो जायेगा।
  • नए पेज में आपसे कुछ जानकारी पूछी जाएगी जैसे- मोबाईल नंबर और पासवर्ड दोनों को दर्ज कर दीजिये।
  • अब आपको फॉर्म में एक कैप्चा कॉर्ड दिखाई दे रहा होगा, उसे दर्ज करके नया पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक कर दीजिये।
  • समग्र गव्य विकास योजना : Gavya Vikas Yojana ऑनलाइन आवेदन
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा, जिसमे आपको “नीचे आवेदन के लिए रजिस्ट्रेशन करें” के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब अगले पेज में आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा जिसमे आपसे आपकी निजी जानकारी पूछी जाएगी।
  • निजी जानकारी जैसे :- नाम, मोबाईल नंबर, ईमेल आईडी, जिला, गांव, पंचायत और आधार नंबर इत्यादि इन सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़ कर दर्ज कर दीजिये।
  • सभी जानकारी को दर्ज करने के बाद आपको submit का विकल्प दिखाई देगा उसे क्लिक कर दीजिये। समग्र गव्य विकास योजना 2023: Gavya Vikas Yojana ऑनलाइन आवेदन
  • submit करने के पश्चात अब आपकी समग्र गव्य विकास योजना की आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Gavya Vikas Yojana related FAQ

समग्र गव्य विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

समग्र गव्य विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट dairy.ahdbihar.in है।

Gavya Vikas Yojana किस राज्य में संचालित की गई है ?

Gavya Vikas Yojana बिहार राज्य में संचालित की गई है

समग्र गव्य विकास योजना का उद्देश्य क्या है ?

समग्र गव्य विकास योजना का उद्देश्य राज्य के सभी बेरोजगार नागरिको को स्वरोजगार स्थपित करवाना है।

Gavya Vikas Yojana के लाभार्थी कौन है ?

Gavya Vikas Yojana के लाभार्थी बिहार राज्य के नागरिक है।

समग्र गव्य विकास योजना के तहत सरकार कितनी वित्तीय सहायता प्रदान करेगी ?

समग्र गव्य विकास योजना के तहत सरकार दुधारू पशुपालन के लिए किसानों को 2 लाख तक की वित्तीय सहायता प्रदान करेंगे।

Leave a Comment

Join Telegram