NEWS

EPFO Subscriber: कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को मिलेगी पेंशन, जानें क्या है ये योजना

यदि कर्मचारी की मृत्यु किसी आकस्मिक कारण या दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में कर्मचारी का पति/पत्नी या बच्ची प्राप्त करने के हकदार होते है।

EPFO Subscriber : – जैसे कि आप सभी जानते ही होंगे कर्मचारियों को रिटायर होने के बाद पेंशन का लाभ दिया जाता है। लेकिन यदि कर्मचारी की आकस्मिक किसी भी कारण से मृत्यु हो जाती है या कमर्चारी की किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में EPFO (Employee Provident Fund Organisation) की EPS95 Yojana के तहत पेंशन कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को मिलेगी। पेंशन के अतिरिक्त लाभार्थियों को अन्य कई प्रकार की सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस लेख में हम आपको बताएंगे EPS95 योजना क्या है ?

EPFO Subscriber: कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को मिलेगी पेंशन, जानें क्या है ये योजना
EPFO Subscriber: कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को मिलेगी पेंशन, जानें क्या है ये योजना

कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को कितनी पेंशन मिलेगी ? ईपीएफओ फैमिली पेंशन योजना के नियम क्या है ? ईपीएफओ फैमिली पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए कौन से दस्तावेज जमा करने होंगे। इन सभी के विषय में हम आपको विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे। EPFO Subscriber ईपीएस 95 योजना से जुडी अधिक जानकारी के लिए इस लेख को ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़िए –

पेंशन KYC कैसे करें

कर्मचारियों की मृत्यु के बाद पत्नी और बच्चों को मिलेगी पेंशन

ईपीएफओ (कर्मचारी भविष्य निधि संगठन) के द्वारा पीएफ खाताधारक कर्मचारी की मृत्यु के बाद उसकी पत्नी /पति या दो बच्चों को जब तक उनकी उम्र 25 साल नहीं हो जाती तब तक पेंशन का लाभ दिया जाएगा। जैसा कि आप सभी जानते है एमरजेंसी में काम आता है लेकिन दूसरी ओर ईपीएस के माध्यम से पेंशन का लाभ देने की सुविधा दी गई है। अगर कर्मचारी के पति या पत्नी की मृत्यु हो जाती है तो उन्हें पेंशन का लाभ मिलता है। हालांकि इस पेंशन को फॅमिली पेंशन के नाम से भी जाना जाता है।

क्या है EPS95 योजना ?

यदि कर्मचारी की मृत्यु किसी आकस्मिक कारण या दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में कर्मचारी का पति/पत्नी या बच्ची प्राप्त करने के हकदार होते है। ईपीएफओ द्वारा कर्मचारी की पेंशन का लाभ उसके परिवार के सदस्य को दिया जाता है। हालांकि जानकारी के लिए बता दें कुछ समय पहले ही कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा एक ट्वीट के माध्यम से ईपीएस95 योजना से मिलने वाले फायदों के विषय में जानकारी दी है।

EPFO Subscriber : कितनी पेंशन

EPFO की फुल फॉर्म Employee Provident Fund Organisation है। ईपीएफओ ने अपने ट्वीट के माध्यम से बताया कि पेंशन की राशि विधवा पेंशन का 75 % भाग होगी। कर्मचारी के दोनो बच्चों को पेंशन का लाभ एक समय ही मिलेगा। लाभार्थियों को प्रति माह 750 रूपये पेंशन के रूप में दिए जाएंगे। इस पेंशन का लाभ बच्चो को 25 साल तक की उम्र पूरी करने तक दिया जाएगा। अगर मृतक कर्मचारी की पत्नी या बच्चा विकलांग है तो ऐसी स्थिति में उन्हें आजीवन पेंशन का लाभ दिया जाएगा।

ईपीएफओ फैमिली पेंशन योजना के नियम

उम्मीदवार ध्यान दें यहाँ हम आपको EPFO Family Pension Yojana Rules के बारे में जानकारी देने जा रहें है। इन नियमों के विषय में आप नीचे दिए गए पॉइंट्स को पढ़कर जानकारी प्राप्त कर सकते है। ये नियम निम्न प्रकार है –

  1. अगर कर्मचारी का विवाह नहीं हुआ है तो पेंशन उसके नॉमिनी को मिलेगी।
  2. अगर कमर्चारी का कोई भी नॉमिनी नहीं है तो पेंशन का लाभ कर्मचारी के माता-पिता को मिलेगा।
  3. यदि कर्मचारी के दो बच्चे है तो 25 साल तक की आयु पूरी होने तक उन्हें पेंशन का लाभ मिलेगा।
  4. जब तक कर्मचारी जीवित रहता है तब तक उसे हर महीने नियमित रूप से निर्धारित पेंशन का लाभ मिलेगा।

जमा करने होंगे ये जरूरी दस्तावेज

उम्मीदवार ध्यान दें पेंशनभोगियों को पेंशन का लाभ लेने के लिए ईपीएफओ के पास कुछ आवश्यक दस्तावेज जमा कराने होंगे। ईपीएफओ में जमा किये जाने वाले जरूरी दस्तावेज निम्न प्रकार है –

  • पेंशनधारक का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड की प्रति
  • कैंसिल चेक सहित बैंक खाते का विवरण/बच्चे के मामले में बैंक खाता पासबुक की प्रति
  • आयु प्रमाण पत्र

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button