(E Dharti) अपना खाता राजस्थान: apnakhata.raj.nic.in जमाबंदी, नकल भूलेख

E Dharti Apna khata: राजस्थान के नागरिकों की सुविधा के लिए राज्य सरकार ने आधिकारिक पोर्टल की शुरुआत की है। इस पोर्टल के माध्यम से सरकार प्रदेश के नागरिकों को जमीन से सम्बन्धी सभी जानकारी एक ही स्थान पर देखने की सुविधा दे रही है। इससे न केवल राज्य के नागरिकों को लाभ होगा बल्कि सरकार के लिए भी प्रदेश की जमीन से समबन्धी सभी जानकारी का रिकॉर्ड रखना आसान हो जाएगा।

आज इस लेख के माध्यम से हम आप को (E Dharti Apna khata) अपना खाता राजस्थान के बारे में जानकारी देंगे। इस पोर्टल के माध्यम से सभी नागरिक जमाबंदी, नकल भूलेख ऑनलाइन कैसे देखें? राजस्थान जमीन की नक़ल कैसे निकालें ? व अन्य ऐसे ही संबंधित जानकारी आप को इस लेख के माध्यम से मिल जाएगी।

(E Dharti) अपना खाता राजस्थान: apnakhata.raj.nic.in जमाबंदी, नकल भूलेख
(E Dharti) अपना खाता राजस्थान: apnakhata.raj.nic.in जमाबंदी, नकल भूलेख
Contents hide

(E Dharti) अपना खाता राजस्थान

Apna khata Rajasthan online portal राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से सरकार का प्रयास है कि राज्य के नागरिकों को पूरी पारदर्शिता के साथ उनकी जमीन से जुडी सभी जानकारी को डिजिटल माध्यम से उपलब्ध कराया जाए। E Dharti Apna khata Rajasthan एक ऑनलाइन पोर्टल है जिस के माध्यम से सरकार प्रदेश की भू जानकारी व संबंधित रिकार्ड्स ऑनलाइन उपलब्ध कराएगी। जिस से कभी भी नागरिक इस जानकारी को एक्सेस कर सकते हैं।

अपना खाता राजस्थान (E Dharti Apna khata) के माध्यम से सरकार प्रदेश में होने वाले भू संबंधी घोटालों पर नज़र रख सकती है। साथ ही भूमि के अधिकारों के रिकॉर्ड (आरओआर) को भी ऑनलाइन सुरक्षित रखना भी आसान हो गया है। राज्य के नागरिक इस पोर्टल के जरिये जानकारी हासिल कर सकते हैं। अपना खाता राजस्थान ( E Dharti ) में जानकारी देखने के लिए अब सरकार ने एक एप्प भी लांच की है। जिसे नागरिक गूगल प्ले स्टोर से डोनलोड कर सकते हैं। उन्हें ‘अपना खाता राजस्थान ‘ के नाम से एप्प को ढून्ढ सकते हैं।

राजस्थान मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा छात्रवृति योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन

Highlights Of E Dharti Apna khata – apnakhata.raj.nic.in

आर्टिकल का नाम (E Dharti) अपना खाता राजस्थान
विभाग का नाम राजस्व विभाग , राजस्थान
पोर्टल का नाम ई धरती – अपना खाता राजस्थान
पोर्टल की शुरुआत हुई राजस्थान राज्य सरकार द्वारा
लाभार्थी प्रदेश के सभी नागरिक
उद्देश्य प्रदेश के सभी निवासियों को भूमि संबंधी रिकॉर्डों को डिजिटल माध्यम से उपलब्ध करवाना।
वर्तमान वर्ष 2022
कार्यालय का पता राजस्व मण्डल राजस्थान, टोडरमल मार्ग, सिविल लाईन, अजमेर
आधिकारिक वेबसाइट apnakhata.raj.nic.in

ई धरती : अपना खाता राजस्थान का उद्देश्य

ई धरती – अपना खाता राजस्थान पोर्टल का उद्देश्य सभी प्रदेशवासियों को डिजिटल माध्यम से घर बैठे ही उनकी जमीन से संबंधी सभी जानकारी उपलब्ध कराना है। इस से राजस्थान में रहें वाले सभी नागरिकों को लाभ होगा। अब उन्हें जरुरत पड़ने पर ऑनलाइन माध्यम से ही सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी। इस के लिए उन्हें संबंधित कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने होंगे। इससे सभी का समय भी बचेगा और साथ में ही उनके पैसों की भी बचत होगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन | रजिस्ट्रेशन फॉर्म

राजस्थान apnakhata.raj.nic.in से होने वाले लाभ

  1. (E Dharti) अपना खाता राजस्थान के जरिये राजस्थान का कोई भी नागरिक किसी भी समय अपनी भूमि से जुड़े रिकॉर्ड को देख सकता है।
  2. भूमि अभिलेखों के कम्प्यूटरीकरण के माध्यम से अब सभी नागरिक घर बैठे सारी संबंधित जानकारी देख सकते हैं।
  3. E Dharti Portal के जरिये भूमि रिकार्ड्स चेक करने से समय और पैसों की बचत हो जाती है।
  4. इस पोर्टल (E Dharti Apna khata Rajasthan ऑनलाइन ) से होने वाला सबसे बड़ा लाभ ये है कि अब अपनी भूमि संबंधी जानकारी हेतु किसी भी नागरिक को राजस्व विभाग या पटवारी कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने होंगे।
  5. भूमि अभिलेखों के डिजिटलीकरण से अब सभी रिकार्ड्स को सहेजना आसान हो गया है।
  6. E Dharti Portal से भूमि अभिलेख प्रणाली से पारदर्शिता बढ़ती है।
  7. जमीन से जुड़े भू माफिया से जुडी समस्याएं जैसे कि – जमीन पर अवैध कब्ज़ा , भूमि से जुड़े विवाद आदि की समस्याओं में कमी आयी है।
  8. अपना खाता राजस्थान ( E Dharti ) के जरिये नागरिकों को अपना खसरा नंबर , खाता संख्या, खेवत, जमाबंदी (आरओआर) और अन्य भूमि विवरण जान सकता है।
  9. राज्य सरकार का उद्देश्य इस पोर्टल (अपना खाता राजस्थान ( E Dharti ) के माध्यम से पारदर्शिता बढ़ाने और साथ ही नागरिको को भूमि से जुडी जानकारियों को आसान और बेहतर तरीके से उपलब्ध कराना है।
  10. अपना खाता राजस्थान ( E Dharti ) पोर्टल से मिलने वाली सभी जानकारियां आधिकारिक मानी जाएंगी।

ऐसे देखें E Dharti Apna khata राजस्थान – जमाबंदी, नकल भूलेख ऑनलाइन

यदि आप भी E Dharti Apna khata अपना खाता राजस्थान में जमाबंदी, नक़ल भूलेख ऑनलाइन देखने के इच्छुक हैं तो आप यहाँ बतायी जा रही प्रक्रिया को अपना कर संबंधित जानकारी देख सकते हैं।

  • सबसे पहले आप को (E Dharti Apna khata) अपना खाता राजस्थान ऑनलाइन की ऑफिसियल वेबसाइट apnakhata.raj.nic.in पर जाएँ।
  • अब आप के सामने आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा ।
  • होम पेज पर आप को राजस्थान का भू नक्शा दिखाई देगा।
  • इस भू नक़्शे में ही आप को अपने जिले जिले का चयन करना होगा।
  • आप चाहें तो जिला चुनें के ऑप्शन पर जाकर भी ड्राप डाउन मेन्यू से चयन कर सकते हैं।
  • इसके बाद अगला पेज खुलेगा जहाँ आप को अपनी तहसील का चुनाव करना होगा।
  • फिर अगले पेज में आप को गाँव का नाम चुनना होगा।
  • अब अगले पेज में आप को एक फॉर्म दिखेगा जहाँ पूछी गयी सभी जानकारियां भरनी होगी।
  • जैसे कि – आवेदक का नाम ,आवेदक का शहर ,आवेदक का पता ,आवेदक का पिन कोड आदि
  • इसके बाद जमाबंदी / नामांतरण प्रतिलिपि के लिए विकल्प के ऑप्शन में आप को दो विकल्प मिलेंगे।
  • आप को जमाबंदी की प्रतिलिपि  और नामांतरण की प्रतिलिपि में से किसी एक पर क्लिक करना होगा।
  • यदि पहला विकल्प चुनते हैं तो आप को 4 अन्य विकल्पों से एक का चुनाव करना होगा।
  • खाता ,खसरा ,नाम या GRN से। आप इनमे से एक का चुनाव करें , व संबंधित जानकारी भर दें।
  • इसके बाद चयन करें ‘ के विकल्प पर क्लिक करते ही आप के सामने संबंधित जानकारी आ जाएगी।
  • अब आप इस जानकारी को देख सकते हैं।

भू नक्शा राजस्थान 2022 चेक एवं डाउनलोड कैसे करें

खाता नामांतरण (Account Transfer) ऐसे करें

यदि आप को भी अपना खाता नामांतरण करना है तो इसके लिए आप को ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को पूरा करना होगा। ये प्रक्रिया आप को E Dharti अपना खाता राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से पूरी करनी होगी। आप की सुविधा के लिए आगे हम खाता नामांतरण हेतु आवेदन की पूरी प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे हैं। आप भी इस प्रक्रिया को फॉलो करके खाता नामांतरण हेतु आवेदन पूरा कर सकते हैं।

  1. सबसे पहले आवेदक को राजस्थान सरकार राजस्व मण्डल की आधिकारिक वेबसाइट apnakhata.raj.nic.in पर आना होगा।
  2. इसके बाद आप की स्क्रीन पर आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  3. होम पेज पर आप को नामांतरण के लिए आवेदन करे का विकल्प दिखेगा। इस पर क्लिक कर दें।
  4. इस के बाद आपकी स्क्रीन पर अगला पेज खुलेगा।
  5. यहाँ आप को खाता नामांतरण हेतु आवेदन पत्र दिखाई देगा।
  6. इस आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी जानकारी आप को भरनी होगी।
  7. यहाँ आप को आवेदक का नामआवेदक के पिता का नाममोबाइलई-मेल आवेदक का पता एवं जिला आदि जानकारियां दर्ज करनी है।
  8. इसके बाद आगे चलें के विकल्प पर क्लीक कर दें।
  9. ध्यान दें कि आप को नामांतरण खोलने के लिए आवश्यक संलग्न दस्तावेज़ :-मूल रहनमूक्त पत्र को भी एक ही पी.डी.एफ. फाईल में सम्मिलित करके तैयार रखना होगा , अन्यथा आवेदन स्वीकार नहीं होगा।
  10. अब आप को अगले पेज में अन्य जानकारियां दर्ज करनी होगी और फिर संबंधित दस्तावेज भी संलग्न करने होंगे।
  11. सभी जानकारी भरने के बाद आप को सब्मिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  12. इस प्रकार आप द्वारा दी गयी सभी जानकारियों की जाँच होगी और सतीपन के पश्चात नामांतरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना 2022: Apply ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

ऐसे कर सकते हैं नामांतरण की स्थिति की जांच

यदि आप ने भी भूमि से जुड़े खाता नामांतरण की प्रक्रिया की स्थिति की जांच करना चाहत हैं तो आप E Dharti अपना खाता राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट के जरिये कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आप को E Dharti अपना खाता राजस्थान के आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • होम पेज पर आप को नामांतरण की स्थिति का विकल्प दिखेगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस के बाद आप के स्क्रीन पर अगला पेज खुलेगा।
  • यहाँ आप के सामने एक सूची खुल जाएगी। जिस में आप को जिले के अनुसार नामांतरण की स्थिति दिनाँक -/-/2022 तक (निर्धारित अवधि ) का विवरण प्राप्त हो जाएगा।
  • इस में राज्य में सभी जिलों में हुए नामांतरण की स्थिति दिखेगी।
  • अब आप इस सूची में जिलों के आधार पर  कुल नामांतरण (Total Mutation) देख सकते हैं।

राजस्थान निःशुल्क ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्र योजना: रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन आवेदन व पात्रता

ये हैं अपना खाता नामांतरण के प्रकार

आप की जानकारी के लिए बता दें कि 6 प्रकार से नामांतरण खोले जाते हैं। जिस के लिए आप को E Dharti Apna khata Rajasthan की ऑफिसियल पोर्टल apnakhata.raj.nic.in पर जाना होगा।

  • विरासत का नामांतरण
  • रहन बुक ऋण  मुक्तिका नामांतरण
  • हक त्याग नामांतरण
  • नाबालिग से बालिका नामांतरण
  • उपहार नामांतरण
  • बैंक से लिए गए ऋण का नामांतरण

E Dharti अपना खाता राजस्थान में जिलेवार आधिकारिक वेबसाइट की सूची

डिस्ट्रिक्ट का नामऑफिसियल वेबसाइटडिस्ट्रिक्ट का नामऑफिसियल वेबसाइट
करौलीयहां क्लिक करेंराजसमंदयहां क्लिक करें
अलवरयहां क्लिक करेंबूंदीयहां क्लिक करें
बांसवाड़ायहां क्लिक करेंचित्तौड़गढ़यहां क्लिक करें
बारांयहां क्लिक करेंचुरुयहां क्लिक करें
बाड़मेरयहां क्लिक करेंडोसायहां क्लिक करें
भरतपुरयहां क्लिक करेंधौलपुरयहां क्लिक करें
भीलवाड़ायहां क्लिक करेंडूंगरपुरयहां क्लिक करें
हनुमान नगरयहां क्लिक करेंजयपुरयहां क्लिक करें
जालौरयहां क्लिक करेंपालीयहां क्लिक करें
बीकानेरयहां क्लिक करेंप्रतापगढ़यहां क्लिक करें
झुंझुनूयहां क्लिक करेंअजमेरयहां क्लिक करें
जोधपुरयहां क्लिक करेंसवाई माधोपुरयहां क्लिक करें
झालावाड़यहां क्लिक करेंसीकरयहां क्लिक करें
कोटायहां क्लिक करेंसिरोहीयहां क्लिक करें
नागौरयहां क्लिक करेंश्रीगंगानगरयहां क्लिक करें
टोंकयहां क्लिक करेंउदयपुरयहां क्लिक करें

E Dharti Apna khata Rajasthan online portal पर प्रतिलिपि शुल्क

यदि आप भी E Dharti Apna khata Rajasthan ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अपने जमीन संबंधी विभिन्न रिकॉर्ड की फोटो कॉपी निकालना चाहते हैं तो आप इसके लिए आधिकारिक पोर्टल पर जाकर निर्धारित शुल्क का भुगतान करने के बाद आप संबंधित डॉक्यूमेंट की कॉपी निकाल सकते हैं।

क्र० संख्या रिकॉर्ड का नाम क्वांटिटी शुल्क
1जमाबंदी की प्रति / नक़ल 10 खसरा नं. तक –
प्रत्येक अतिरिक्त 10 खसरा नं. या फिर उसके भाग के लिये
10 रूपए
05 रूपए
2भू नक्शा की प्रति प्रत्येक 10 खसरा नं. या उसके भाग के लिये20 रूपए
3ट्रांसलेशन पी21 प्रत्येक ट्रांसफर के साथ 20 रूपए

अपना खाता राजस्थान (E Dharti Apna khata) से संबंधित प्रश्न उत्तर

E Dharti अपना खाता राजस्थान क्या है ?

ये एक आधिकारिक पोर्टल है जिसे राजस्थान सरकार ने नागरिकों की सुविधा हेतु लांच किया है। इस पोर्टल के जरिये नागरिक जमीन से संबंधित किसी भी जानकारी को देख सकते हैं।

अपना खाता राजस्थान E Dharti में जमाबंदी व भूलेख कैसे डाउनलोड कर सकते हैं ?

जो भी नागरिक जमीन से समबन्धित जमाबंदी व भूलेख आदि डाउनलोड करना चाहता है उसे E Dharti पोर्टल पर जाकर पूछी गयी जानकारी दर्ज करनी होगी। जिसके बाद वो अपना नक़ल भूलेख और जमाबादी आदि जानकारी देख सकते है। विस्तार से जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

राजस्थान की नक़ल भूलेख व जमाबंदी की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है ?

apnakhata.raj.nic.in – राजस्थान की नक़ल भूलेख देखने के लिए आधिकारिक वेबसाइट है।

खाता नामांतरण कितने प्रकार के होते हैं ?

खाता नामांतरण कुल 6 प्रकार के होते हैं। ये हैं – विरासत का नामांतरण, रहन बुक ऋण  मुक्तिका नामांतरण , हक त्याग नामांतरण , नाबालिग से बालिका नामांतरण, उपहार नामांतरण , बैंक से लिए गए ऋण का नामांतरण।

आज इस लेख में हमने आप को अपना खाता राजस्थान (E Dharti Apna khata) के बारे में जानकारी दी है। यदि आप को ये जानकारी उपयोगी लगी हो तो आप हमारी वेबसाइट www.mcpanchkula.org को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Comment