दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi) – दीपावली पर निबंध हिंदी में

दिवाली पर निबंध– जैसे की आप सभी लोग जानते है की दिवाली हिन्दू धर्म का एक सबसे बड़ा त्यौहार है। हिन्दू धर्म के साथ-साथ इसे अन्य धर्मों के लोग भी दिवाली के त्यौहार को बड़े हर्षो उल्लास के साथ मनाते है। पौराणिक कथाओं के अनुसार आप सुनते चले आ रहे होंगे की दिवाली का त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। तो आइये जानते है हमारे इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी के आधार पर दिवाली के त्यौहार के बारे में की स्टूडेंट्स कैसे दिवाली पर निबंध लिख सकते है।

दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi) – दीपावली पर निबंध हिंदी में
दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi) – दीपावली पर निबंध हिंदी में

दीपावली हिन्दू धर्म के त्यौहारों में से सबसे बड़ा त्यौहार है ,इस त्यौहार को पुरे भारत वर्ष में बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। दीपवाली शब्द का अर्थ है दीपों की श्रृंखला ,मुख्य रूप से यह दो शब्दों से मिलकर बना है ,”दीप और आवली” यह दोनों शब्द संस्कृत भाषा से लिए गए है। प्रत्येक घर में दीपावली के त्यौहार के दिन भगवान् गणेश और लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है। पुरे भारत वर्ष में यह एक खुशियों का त्यौहार है जिसे सभी लोग बड़ी उत्साह के साथ मनाते है ,लोग अपने रिश्तेदारों एवं परिवार के साथ दिवाली के त्यौहार को काफी ख़ुशी के साथ सेलेब्रेट करते है।

समय का सदुपयोग पर निबंध

दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi)

जैसे की आप सभी लोग जानते है की मुख्य रूप से दिवाली के त्यौहार को हिंदू धर्म के लोगो द्वारा मनाया जाता है। लेकिन दिवाली के त्यौहार को अब अन्य धर्मों एवं भारत वर्ष के साथ-साथ अन्य देशों में भी मनाया जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार दिवाली का त्यौहार इसलिए मनाया जाता है क्युकी इस दिन भगवान श्री राम 14 वर्ष के वनवास काट के अयोध्य वापस लौट आये थे। भगवान राम के अयोध्य वापस लौटने पर इस त्यौहार को मनाया जाता है ,Diwali के त्यौहार में लोग विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाते है ,साथ ही कई तरह की मिठाइयों के साथ में दिवाली को सेलेब्रेट किया जाता है।

Diwali Essay in Hindi

प्रत्येक वर्ष दीपवाली के त्यौहार को कार्तिक मास के अमावस्य के दिन मनाया जाता है। यह त्यौहार हर साल अक्टूबर या फिर नवंबर माह में मनाया जाता है। दिवाली एक रौशनी का त्यौहार है जिसमें लोग अपने घरों में रंग बिरंगी लाइट और दीयों और कैंडिल के साथ इस त्यौहार को मनाते है।

यह छोटे से लेकर बड़े सभी लोगो का पसंदीदा त्यौहार है। रंगोली और मिट्टी और अन्य तरह के दीयों के साथ इस त्यौहार को बड़े उत्साह के साथ सेलेब्रेट किया जाता है। इस त्यौहार में सभी लोग अपने घरों में सफाई का विशेष ध्यान रखते है ,मुख्य रूप से रंगाई पुताई का काम दिवाली के कई दिनों से पहले घरों में शुरू हो जाता है।

आपके घर माँ लक्ष्मी का वास हो ,
आप पर धन की बरसात हो ,
आपके दुखो का नाश हो ,
इस साल की दिवाली
आप के लिए ख़ास हो
दिवाली की शुभकामनाएं

दिवाली के त्यौहार में सुख समृद्धि के आगमन के लिए लोग अपने घरो को विशेष तौर पर साफ़ रखते है। साथ ही लक्ष्मी जी की पूजा करते है। दीपावली के त्यौहार को भारत वर्ष के साथ विदेशों में भी बड़ी उत्साह के साथ मनाया जाता है। श्रीलंका ,मलेशिया ,नेपाल जैसे देशो में भी दीपवाली के त्यौहार का उत्साह मनाया जाता है। हिंदू धर्म के साथ-साथ अन्य धर्मो एवं अन्य देशों द्वारा भी दिवाली को सेलेब्रेट किया जाता है। सभी के जीवन को आनंदमय करने वाला यह एक ख़ास त्यौहार है।

Diwali Essay in Hindi

दिवाली के त्यौहार की तैयारियां

दीपवाली के त्यौहार के लिए घरों में कई दिन पहले से ही रंगाई पुताई का कार्य शुरू हो जाता है ,वह इसलिए की साफ़ सफाई का दिवाली के त्यौहार में अपना एक अलग ही महत्व है। पौराणिक कथाओं के अनुसार यह माना जाता है की जिन घरों में साफ़-सफाई की जाती है वहां लक्ष्मी जी विराजमान होती है ,माँ लक्ष्मी घरों में अपना आशीवार्द प्रदान कर घर में सुख समृद्धि में इजाफा करती है। साथ ही दिवाली के कुछ दिनों पहले ही लोग अपने घरों को में रंग बिरंगी लाइटों और दियों के साथ में घर की सजावट करते है। और दिवाली के दिन लोग अपने घर में रंग बिरंगे कलर के साथ रंगोली बनाते है

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

भारत वर्ष में दीपावली का महत्व (Diwali Essay in Hindi)

हिन्दू धर्म के लोगो के लिए दिवाली के त्यौहार का एक अलग ही महत्व है ,यह एक उत्साहवर्धक त्यौहार है जो सभी लोगो के चेहरों पर खुशियाँ लेकर आता है। यह छोटे बच्चो से लेकर बड़े बुजुर्ग सभी लोगो का एक पसंदीदा त्यौहार है। सभी घरों में दिवाली की रौशनी लोगो को ऐसे मंत्रमुग्ध करती है की मानो स्वर्ग में विराजमान हो गए हो। यह दिन सभी लोगो के लिए एक ख़ास दिन है जहाँ लोग अपने परिवार अपने रिश्तेदारों के साथ Diwali Festival को बड़े उत्साह के साथ सेलेब्रेट करते है। दीपावली एक दीपों का त्यौहार है जो सभी लोगो के मन को आलोकित करता है।

विभिन्न प्रकार के पटाखों के साथ बच्चे एवं बड़े लोग दिवाली के उत्साह को ख़ुशी-ख़ुशी मनाते है। दिवाली के त्यौहार के समय में अन्य कई प्रकार के त्योहारों को भी मनाया जाता है जिसमें प्रमुख रूप से धनतेरस ,भैया दूज आदि है। इस त्यौहार में लोग सभी भेदभाव भूलकर एक दूसरे के घरों में जाकर मिठाइयां बांटकर दिवाली को सेलेब्रेट करते है।

दिवाली है रौशनी का त्यौहार,
लाये हर चेहरे पर मुस्कान ,
सुख और समृद्धि की बहार
समेट लो सारी खुशियां,
अपनों का साथ और प्यार
मुबारख को आपको दिवाली का त्यौहार

यह सभी मन को आकर्षित करने वाला त्यौहार है ,साथ ही यह त्यौहार समाज को यह सन्देश देता है की हमेशा अच्छाई की जीत होती है। यह समाज में एक नई उमंग और उत्साह का चालन करता है। भारत के विभिन्न राज्यों में दिवाली मनाने के अपने अलग-अलग तरीके है। सभी लोग अपनी पौराणिक संस्कृति के अनुसार ही दिवाली के उत्साह को मनाते है। समाज में भाई चारे एवं प्रेम के संबंध में यह त्यौहार अपना एक अलग ही महत्व रखता है। यह सामूहिक और व्यक्तिगत दोनों रूप में मनाया जाने वाला एक विशेष त्यौहार है। यह एक उत्सुकता वाला त्यौहार है जिसे लोग बड़े आनंदित होकर मनाते है।

दिवाली में सोना चाँदी खरीदने का महत्व

Diwali Essay in Hindi

दीपावली के त्यौहार में बाजारों में काफी भीड़ देखने को मिलती है। इस त्यौहार में लोग विभिन्न प्रकार की वस्तुओं की खरीददारी करते है। दीपावली के त्यौहार में सामान खरीदना काफी शुभ माना जाता है ,इस त्यौहार में लोग सोने चांदी की अधिक खरीददारी करते हैं। ऐसा माना जाता है की यदि आप सोने चांदी की खरीददारी करते है तो धन में वृद्धि होती है। क्योंकी माँ लक्ष्मी को धन समृद्धि देवी के रूप में जाना जाता है।

दीपावली पर 10 लाइनें – 10 Lines Diwali Essay in Hindi

  1. दीपावली हिन्दू धर्म के सबसे बड़े त्योहारों में से एक मुख्य त्यौहार है।
  2. भारत की संस्कृति एवं परम्परा को दर्शाने का दिवाली का त्यौहार एक मुख्य त्यौहार है।
  3. यह एक रौशनी का त्यौहार है जो अंधेरो को दूर करके सभी के जीवन में रौशनी से जगमगाहट कर देता है।
  4. दिवाली के त्यौहार में लोग अपने घरों को रंगबिरंगी लाइटों और दीयों से घर को रोशन करते है।
  5. श्री राम भगवान् के 14 वर्ष के वनवास काटकर अयोध्य वापस लौटने की ख़ुशी में दिवाली के त्यौहार का उत्साह बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। राम भगवान के वापस लौटने की ख़ुशी में लोगो ने इस दिन घी के दिए जलाये थे।
  6. प्रत्येक वर्ष यह त्यौहार कार्तिक मास में अक्टूबर ,नवंबर माह में मनाया जाता है।
  7. Diwali के त्यौहार में सभी घरों में रिद्धि -सीढ़ी बने रहने के लिए भगवान गणेश और माँ लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है।
  8. विभिन्न प्रकार के पटाखों फुलझड़ी आदि के साथ इस त्यौहार को उत्साह के साथ मनाया जाता है।
  9. रिश्तेदार ,दोस्तों और अपने पड़ोसियों के साथ में मिठाई बांटकर दीपावली के त्यौहार को मनाया जाता है।
  10. यह एक खुशियों का त्यौहार है जिसमें लोग सभी भेदभाव भूलकर एक दूसरे को दिवाली की बधाइयाँ देते है।

दिवाली पर निबंध (Diwali Essay in Hindi) FAQ

वर्ष 2022 में दिवाली उत्सव कब मनाया जायेगा ?

वर्ष 2022 में दिवाली का उत्सव 24 अक्टूबर 2022 को मनाया जायेगा।

दिवाली के त्यौहार को क्यों मनाया जाता है ?

14 वर्ष के वनवास काटकर प्रभु श्री राम अयोध्य वापस लौटकर आये थे। इस ख़ुशी में प्रत्येक वर्ष दिवाली के त्यौहार को मनाया जाता है।

दिवाली का त्यौहार कौन से माह में मनाया जाता है ?

प्रत्येक वर्ष दिवाली का त्यौहार कार्तिक मास के अमावस्य के दिन अक्टूबर एवं नवंबर माह में मनाया जाता है।

क्या दिवाली विभिन्न राज्यों में अलग-अलग तरीके से मनाई जाती है ?

जी हाँ भारत के विभिन्न राज्यों में दिवाली लोग अलग-अलग पौराणिक कथाओं के साथ सेलेब्रेट करते है।

दिवाली का त्यौहार हमें क्या सन्देश देता है ?

दिवाली का त्यौहार समाज के सभी लोगो को यह सन्देश देता है की हमेशा बुराई पर अच्छाई की जीत होती है। यह अच्छाई की विजय का एक त्यौहार है जो भाई चारे एवं प्रेम का सन्देश समाज को दर्शाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button