UP scheme

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 | हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी परिवार को वार्षिक आधार पर निजी अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक की कैशलेश स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी।

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के माध्यम से प्रदेश के कर्मचारियों एवं पेंसनर्स को कैशलेश उपचार की सुविधा प्रदान करने के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 राज्य भर में लागू की गयी है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को निशुल्क स्वास्थ्य सेवा का लाभ प्राप्त करने के लिए हेल्थ कार्ड प्रदान किया जायेगा। इस हेल्थ कार्ड के आधार पर लाभार्थी पैनलबद्ध अस्पतालों में अपना निशुल्क इलाज करवा सकते है। राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स के लिए यह एक महत्वपूर्ण योजना सरकार के द्वारा शुरू की गयी है। यूपी सरकारी सेवक के लिए यह योजना चिकित्सा परिचर्या नियमावली यथासंशोधित 2021 में निहित नियमों के अधीन संचालित की गयी है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 | हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 | हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन से संबंधी जानकारी को साझा करने जा रहे है। अतः इस योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojna

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022– 7 जनवरी 2022 को यूपी सरकार के माध्यम से राज्य के सरकारी सेवकों ,सेवानिवृत एवं उनके आश्रित परिजनों को निशुल्क कैशलेश चिकित्सा सुविधा का प्रावधान किया गया है। सरकारी सेवकों के लिए यह सुविधा आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत सूचीबद्ध सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों में उपलब्ध होगी। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी परिवार को वार्षिक आधार पर निजी अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक की कैशलेश स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी।

इसी के साथ सरकारी अस्पतालों में बिना किसी वित्तीय सीमा के कैशलेश चिकित्सा उपलब्ध होगी। Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojna का लाभ प्राप्त करने के लिए प्रत्येक लाभार्थी के पास स्टेट हेल्थ कार्ड उपलब्ध होना आवश्यक है। इस हेल्थ कार्ड की मदद से वह सभी पैनलबद्ध अस्पतालों में लाभार्थी की पहचान को सुनिश्चित करने के बाद ही निशुल्क चिकित्सा उपलब्ध हो सकेगी।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सा योजना

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
योजना शुरू की गयी उत्तर प्रदेश सरकार
संबंधित विभाग स्वास्थ्य विभाग उत्तर प्रदेश
राज्य का नाम उत्तर प्रदेश
वर्ष 2022
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के सरकारी सेवक एवं सेवनिवृत नागरिक
उद्देश्यकैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sects.up.gov.in/index.aspx

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana

पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सा योजना का मुख्य उद्देश्य है राज्य के कर्मचारियों को निशुल्क स्वास्थ्य सेवा का लाभ प्रदान करना। सरकारी सेवक एवं सेवनिवृत कर्मचारियों एवं उनके आश्रितों को इस योजना में शामिल किया गया है। लगभग 22 लाख से अधिक कर्मचारियों को एवं 75 लाख से अधिक उनके आश्रितों को योजना के अंतर्गत कैशलेश उपचार की व्यवस्था उपलब्ध करवाई जाएगी। इलाज में होने वाले सभी ख़र्च का वहन उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से किया जायेगा। लाभार्थियों को यह योजना स्वास्थ्य सेवा हेतु आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने में सहयोग करेगी।

कर्मचारियों को Pandit Deendayal Upadhyay Yojana का लाभ लेने के लिए स्टेट हेल्थ कार्ड बनाना आवश्यक है। इसी कार्ड के आधार पर उन्हें योजना से मिलने वाले सभी लाभ प्रदान किये जायेंगे। इस योजना के माध्यम से कर्मचारी पैनलबद्ध अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

उत्तर प्रदेश स्टेट एम्प्लॉय कैशलेश ट्रीटमेंट स्कीम के लाभ

  • SECTS के अंतर्गत राज्य के सभी सेवानिवृत एवं सरकारी सेवक एवं उनके आश्रितों को निशुल्क स्वास्थ्य सेवा का लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना में अब लाभार्थी सूचीबद्ध अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • निजी अस्पतालों में लाभार्थियों के लिए एक वर्ष की अवधि में 5 लाख रूपये तक की निशुल्क स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • इसी के साथ सरकारी अस्पतालों में वित्तीय खर्च हेतु कोई सीमा निर्धारित नहीं की गयी है।
  • निशुल्क स्वास्थ्य सेवा का लाभ प्रदान करने के लिए UP State Employees Cashless Treatment Scheme के अंतर्गत कर्मचारियों को स्टेट हेल्थ कार्ड की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • जिससे वह संबंधित अस्पतालों में निशुल्क इलाज हेतु अपनी पहचान को सत्यापित कर सकते है।
  • 7 जनवरी, 2022 में उत्तर प्रदेश राज्य के सरकारी सेवकों, सेवानिवृत्त सरकारी सेवकों तथा उनके आश्रित परिजनों को कैशलेस चिकित्सा सुविधा देने के लिए यह योजना सरकार के द्वारा पुरे राज्य भर में लागू की गयी।
  • इस योजना को आयुष्मान भारत योजना के साथ जोड़ा गया है।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सा योजना के अंतर्गत हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा स्टेट हेल्थ कार्ड बनाया जायेगा।
  • यह योजना कर्मचारियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने में मदद करेगी।

UP State Employees Cashless Treatment Scheme Eligibility

  • केवल उत्तर प्रदेश के सरकारी सेवक एवं सेवानिवृत एवं उनके आश्रित जन इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र है।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ लेने के लिए केवल राज्य के मूल निवासी नागरिक आवेदन कर सकते है।
  • सरकारी अस्पतालों में इलाज के खर्च की कोई सीमा योजना के अंतर्गत निर्धारित नहीं की गयी है। इसी के साथ निजी अस्पतालों के माध्यम से केवल 5 लाख रूपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा प्राप्त की जा सकती है।

SECTS रजिस्ट्रेशन करने हेतु महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • राशन कार्ड
  • आधार से लिंक मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • ईमेल आईडी
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • निशक्तता की स्थिति में विकलांग प्रमाण पत्र

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन ऐसे करें

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana Health Card Registration हेतु नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। रजिस्ट्रेशन करने से संबंधी जानकारी नीचे दी गयी है।

  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022 हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन करने के लिए sects.up.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट में विजिट करें।
  • वेबसाइट के होम पेज में Apply for State Health Card के विकल्प में क्लिक करें। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना  हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन
  • अब नए पेज में स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन हेतु दी गयी जानकारी को दर्ज करना होगा। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
  • जैसे-आधार से लिंक मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड आदि।
  • इसके बाद आपको generate otp के विकल्प में क्लिक करना है।
  • मोबाइल में प्राप्त ओटीपी संख्या को वेरिफाई करें।
  • इसके बाद आपको if the information correct के विकल्प में yes करना है।
  • अब are there any depends में yes ,no में से किसी एक विकल्प का चयन करें।
  • इसके बाद save&next के विकल्प में क्लिक करें।
  • इसके पश्चात आपको फॉर्म के साथ अपनी पासपोर्ट साइज फोटो एवं आधार कार्ड को अपलोड करना है।
  • और submit print application के विकल्प में क्लिक करना है।
  • इस तरह से आप हेल्थ कार्ड हेतु रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

PDURKCCY Application Status Check Online

  • पीडीयूआरकेसीसीवाई एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने के लिए sects.up.gov.in की ऑफिसियल वेबसाइट में विजिट करें।
  • वेबसाइट के होम पेज में check application status के विकल्प में क्लिक करें।
  • अब स्टेटस ट्रैकिंग के लिए आपको अगले पेज में अपना आधार नंबर एवं कैप्चा कोड को एंटर करके search के विकल्प में क्लिक करना है। पीडीयूआरकेसीसीवाई एप्लीकेशन स्टेटस
  • इस तरह से PDURKCCY Application Status से संबंधी सभी जानकारी प्राप्त होगी।
  • इस तरह से आप आवेदन की स्थिति को चेक कर सकते है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से संबंधित प्रश्न एवं उनके उत्तर

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ कैसे प्राप्त किया जा सकता है ?

लाभार्थी नागरिक पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ रजिस्ट्रेशन के आधार पर प्राप्त कर सकते है।

निजी अस्पतालों में कर्मचारियों को SECTS –State Employees Cashless Treatment Scheme के अंतर्गत कितनी निशुल्क वित्तीय स्वास्थ्य सेवा का लाभ दिया जायेगा ?

यदि आप SECTS –State Employees Cashless Treatment Scheme के अंतर्गत निजी अस्पतालों में अपना इलाज करवाते है तो आप एक वर्ष की अवधि में 5 लाख रूपये तक का निशुल्क सेवा का लाभ प्राप्त कर सकते है।

क्या सरकारी अस्पतालों में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना हेतु वित्तीय सीमा निर्धारित की गयी है ?

जी नहीं उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना हेतु सरकारी अस्पतालों में इलाज के लिए कोई वित्तीय सीमा निर्धारित नहीं की गयी है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना रजिस्ट्रेशन हेतु क्या आवश्यक है ?

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना रजिस्ट्रेशन हेतु कर्मचारियों के पास आधार से लिंक मोबाइल नंबर होना आवश्यक है।

हमारे इस आर्टिकल में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को साझा किया गया है। यदि आपको इस योजना से संबंधी सेवा का लाभ प्राप्त करने में कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर अपनी समस्या के समाधान को प्राप्त कर सकते है।

Helpline Number 1800-1800-4444 
Email [email protected] 
Postal Address Chief Executive Officer,
Ayushman Bharat (SACHIS),
4th Floor, Navchetna Kendra,
10, Ashok Marg, Hazratganj,
Lucknow, Uttar Pradesh – 226001.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button