क्या 2 हजार के नोट के बाद 500 रुपये का नोट बंद करेगा RBI, देखें क्या कहा आरबीआई ने

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक खबर तेजी से वायरल हो रही है कि 500 रुपये के नोट को बंद कर दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि केवल स्टार के चिन्ह वाले 500 रुपये के नोट ही चलेंगे, बाकी के नोट बंद कर दिए जाएंगे। इस खबर को लेकर लोगों में काफी भ्रम और चिंता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

2000 के नोट के बाद, RBI ने 500 रुपये के नोट को लेकर बड़ा अपडेट जारी किया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2023-24 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट में बताया है कि 2022-23 में 500 रुपये के नकली नोटों की संख्या में 14.6% की वृद्धि हुई है। आइए जानते हैं कि इस पर भारतीय रिजर्व बैंक का क्या कहना है।

क्या 2 हजार के नोट के बाद 500 रुपये का नोट बंद करेगा RBI, देखें
क्या 2 हजार के नोट के बाद 500 रुपये का नोट बंद करेगा RBI, देखें

ये है असली खबर

एक रिपोर्ट के अनुसार, इंडसइंड बैंक ने हाल ही में एक नकली 500 रुपये का नोट वापस किया है। नोट में स्टार चिह्न था और यह नकली माना गया था। इसी तरह, एक अन्य रिपोर्ट में बताया गया है कि एक व्यक्ति ने अपने एक मित्र से 2-3 नकली 500 रुपये के नोट प्राप्त किए। हालांकि, व्यक्ति ने ध्यान से देखकर नोटों को नकली के रूप में पहचान लिया और उन्हें तुरंत वापस कर दिया।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इन रिपोर्टों से यह स्पष्ट है कि नकली 500 रुपये के नोटों की बिक्री में वृद्धि हो रही है। ये नोट फेरीवालों द्वारा बेचे जा रहे हैं।

क्या बंद होगा 500 का नोट?

दरअसल, संसद सदन में वित्त मंत्रालय से ₹500 के नोटों को बंद करने के बारे में पूछा गया था। इसके जवाब में वित्त मंत्रालय ने ₹500 के नोट के विमुद्रीकरण यानी बंद करने से इनकार कर दिया। इसके साथ ही 1000 रुपये के नोट को दोबारा शुरू करने की खबरों को भी खारिज कर दिया।

किस वजह से बन रहें हैं स्टार वाले नोट?

नोट पर स्टार निशान लगाया जाता है ताकि नकली नोटों की पहचान करना आसान हो सके। स्टार निशान वाले नोटों में निम्नलिखित विशेषताएं होती हैं:

  • नोट के नंबर और उसके पहले दर्ज होने वाले अक्षरों के बीच एक स्टार निशान होता है।
  • स्टार निशान के चारों ओर एक सुरक्षा पट्टी होती है।
  • स्टार निशान की छपाई में विशेष प्रकार की स्याही का उपयोग किया जाता है।

ये विशेषताएं स्टार निशान वाले नोटों को नकली नोटों से अलग करने में मदद करती हैं। नकली नोटों में स्टार निशान नहीं होता है या स्टार निशान की छपाई में खराबी होती है।

स्टार निशान वाले नोट नकली नोटों की रोकथाम में एक महत्वपूर्ण कदम हैं। इन नोटों के इस्तेमाल से नकली नोटों को पहचानना आसान हो जाता है और नकली नोटों की संख्या में कमी आ सकती है।

वर्ष 2006 में किया गया था शुरू

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 2006 में स्टार निशान वाले नोटों का चलन शुरू किया। इसका उद्देश्य नकली नोटों की रोकथाम में मदद करना था। स्टार निशान वाले नोटों को विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया है ताकि उन्हें नकली नोटों से अलग करना आसान हो सके। 

ऐसे करें नकली नोटों की पहचान

नकली नोटों की पहचान करने के लिए RBI ने कुछ उपाय बताए हैं। इन उपायों में शामिल हैं:

  • नोट के रंग और आकार की जांच करें।
  • नोट पर छपी हुई छवियों और मुद्रण की जांच करें।
  • नोट पर छपी हुई सुरक्षा विशेषताओं की जांच करें।

यदि आपको कोई नकली नोट मिलता है, तो कृपया इसे तुरंत RBI को रिपोर्ट करें।

Leave a Comment